8 months old baby

Question: मेरा बेटा 8 मंथ का है और मेरे पेट मे नीचे की तरफ़ दर्द रहता है , क्यु होता है please give me any suggestion

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेम मेरे पेट मे नीचे की तरफ़ राइट साइड दर्द क्यु होता है
उत्तर: हेलो डियर अगर आपके पेट के निचले हिस्से में दर्द हल्का हल्का हो रहा है ऐसा होना नॉर्मल है और आपको कभी ऐसा लगे कि आपके पेट में दर्द बढ़ रहा है तो आप देर ना करें अपने डॉक्टर से मिले प्रेगनेंसी में ज्यादा वजन उठाने वाले काम या कोई ऐसा काम आपको थकावट हो ओ ना करे esse पेट दर्द बढ़ सकता है आप ज्यादा भारी काम या झुकने वाले काम ना करें सोने की पोजीशन भी ऐसी रखें आपको पीठ और पेट में दर्द ना हो जैसे कि आप अपनी बाई करवट सोये |
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरे पेट मे हलका हलका दर्द रहता है और कब्ज भी हो रही है पेट का दर्द भी कभी ऊपर नीचे होता है ऐसा क्यू हो रहा है
उत्तर: हेलो यूटरस की राउंड लिगामेंट्स में खिंचाव के कारण पेट में दर्द होता है .यह राउंड लिगामेंट्स mainly 2 uttako ke रूप में होती है .जो आपके यूट्रस को स्थिर रखते हैं .वह यूट्रस और fetal के बढ़ने के साथ खींचती है. पेट में दर्द lagbhag 18 से 24 वीक के बीच शुरू होता है. और एक तरफ दर्द होता है पर कभी कभी दोनों तरफ भी होता है. पेट ke अगर ऊपर दर्द होतो गैस की समस्या hoti है . प्रेगनेंसी में गैस बनना बहुत ही सामान्य बात है आप घबराएं नहीं. प्रेगनेंसी में प्रोजेस्ट्रोन हार्मोन में भी बढ़ोतरी होने की वजह से गैस और कब्ज की दिक्कत होती है. जब प्रोजेस्ट्रोन का लेवल बढ़ता है तो गेस्ट्रो इंटेस्टाइनल ट्रेक धीमा पड़ जाता है .तब खाया गया खाना बहुत धीमे धीमे पचता है और गैस और कब्ज की शिकायत होने लगती है. अगर आप गैस की प्रॉब्लम और कब्ज की प्रॉब्लम से बचना चाहती हैं तो बहुत ही सादा खाना खाएं और समय पर खाएं और अपने खाने में फाइबर जैसी चीजों को ज्यादा ले घरेलू उपचारों से आप को बहुत आराम मिलेगा. जैसे जीरे का शरबत बनाकर रखें एक गिलास पानी में एक चम्मच कच्चा जीरा पीस के डालने पर शक्कर डालने| चित्र खोलकर रख लें दिन भर में थोड़ा थोड़ा पिया. खाना खाने के बाद आधा चम्मच अजवाइन का चूर्ण ले ले| ध्यान रखें आपका पानी पीना बहुत जरूरी है. इससे भी आपको गैस में राहत मिलेगी. अपनी नींद समय पर ले कोई भी भारी खाना बहुत सारा एक साथ ना खाएं. खाना चबा चबा कर खाएं . दिन भर में थोड़ा-थोड़ा खाते रहे. प्रेगनेंसी में अगर आपको कॉन्स्टिपेशन हो रहा है तो हो सकता है आप टेंशन ले रही हूं या आप ज्यादातर बैठी रहती हूं या फाइबर कम ले रही हो आप ध्यान रखें इन सभी चीजों से आपको बचना है . प्रेगनेंसी में लेडीस को कब्ज उन हारमोंस की वजह से होता है जो Aaton की मांसपेशियों को आराम पहुंचाती हैं और पेट बढ़ने की वजह से यूट्रस पर पड़ने वाले दबाव को कम करती हैं. Aaton की मांसपेशियों को आराम मिलने की वजह से भोजन और अन्य पदार्थ सिस्टम से धीरे-धीरे बाहर निकलते हैं जिसके कारण कब्ज होता है. कभी-कभी आयरन की गोलियों की वजह से भी constipation होता है .इसके लिए आप आयरन सप्लीमेंट लेते समय साथ में खूब सारा पानी पिए. यदि ज्यादा कब्ज हो रहा है तो आप डॉक्टर की सलाह से अपनी आयरन की टेबलेट चेंज भी करवा सकती हैं. प्रेग्नेंसी में ये आहार जरूर लें पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन, कच्ची और पक्की हुई हरी सब्जियां, फल, कैल्शियम के लिए डेयरी प्रोडक्ट jese दूध दही. नारियल पानी. कॉन्स्टिपेशन से बचने के लिए घरेलू कुछ उपाय हैं जिन्हें आप कर सकती हैं . आप पानी की मात्रा काफी ज्यादा ले. आप एक बार में पूरा नहीं खाएं थोड़ा-थोड़ा खाएं और छोटे-छोटे टुकड़े चबा चबा कर खाएं. इससे आपको खाना पचाने में आसानी होगी. रोज सुबह एक गिलास गुनगुने पानी में थोड़ा नींबू डालकर जरूर पिएं .इससे आपका पेट भी अच्छा रहेगा और कब्ज की समस्या भी दूर होगी. आप अगर फलों का रस पीती हैं तो आप फल पूरा खाएं जिससे कि आपको gude की वजह से फाइबर मिलेगा. संतरे में फाइबर और विटामिन सी बहुत अच्छी मात्रा में होता है. कब्ज के मुख्य कारण जो है वह फाइबर की कमी है .आप संतरा खाएं रोज कब्ज दूर हो जाएगा . अलसी के बीज भी कब्ज है तो आपको मदद करेंगे समस्या को दूर करने में. अपना ध्यान रखें .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरे पेट मे दर्द क्यु रहता हें
उत्तर: हेलो डियर, आपने यह नहीं बताया कि आपको पेट के किस हिस्से में दर्द होता है. प्रेगनेंसी में पेट में मोस्टली गैस की वजह से दर्द होता है अगर या ऊपरी हिस्से में हो तो अगर आपके पेट के निचले हिस्से में दर्द हो रहा है और दर्द हल्का हल्का है तो ऐसा होना नॉर्मल है लेकिन आपको कभी ऐसा लगे कि आपका पेट दर्द बढ़ रहा है तो आप देर ना करें और डॉक्टर से मिले प्रेगनेंसी में ज्यादा वजन उठाने वाला काम या कोई ऐसा काम जिसमें आपको थकावट ज्यादा लग गई तब पेट में दर्द बढ़ सकता है इसलिए आप ज्यादा भारी काम या ज्यादा झुकने वाले काम ना करें सोने की पोजिशन भी ऐसे रखें जिससे आपको पीठ और पेट में दर्द कम हो जैसे कि आप left सोए ,पीठ के बल सोने से आपकी यह तकलीफ बढ़ सकती है कोशिश करें कि ज्यादा देर खड़ी भी ना रहे एक ही पोजीशन में ना बैठे , अपनी पोजीशन बदलते रहे साथ ही अगर आप हील वाली चप्पल या सैंडल पहनती हैं तो अवॉयड करें जब भी आप सो कर उठे तो एकदम से ना उठे हैं पहले करवट ले फिर उठे हैं. अपना ध्यान रखें अपने खाने-पीने का ध्यान रखें.
»सभी उत्तरों को पढ़ें