2 साल का बच्चा

Question: मेरा बेटा 2 साल 4 महीने का हो गया पर बोलता नही बातें भी कम समझता है

1 Answers
सवाल
Answer: कभी कभी बच्चे बहोत लेट बोलना सीखते है. इसमें बहोत चिंता की बात नहीं है. पर अपने मन के समाधान के लिए आप बच्चो के डॉ से मिल ले. अगर जरुरी है तो वो आपको बच्चे को कैसे सीखना है या किसी थेरेपी की जरुरत है तो उसकी सलाह देंगे.
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बच्चा भी 1 साल 9 महीने का हो गया है वह अभी बोलता नहीं है
उत्तर: बच्चों को बोलने mein टाइम लग जाता है इसलिए आप परेशान mat होइये आप जितना हो saके उतना उससे बातें किया करे कहानियां सुनाइए करें और उसको बच्चों के बीच mein भी le जया करे Aise वो सब को देख Kar ke बोलने की कोशिश करेगा और बोलना सीखे गा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा डेढ़ साल का हो गया पर अभी तक बोलता नही है
उत्तर: hello डियर ,,,मैं आपकी परेशानी समझ सकतीhu, सभी बच्चों की ग्रोथ एक समान नहीं होती है कुछ बच्चे देर से भी बात करना सीखते हैं बच्चे के साथ आप अधिक से अधिक समय बिताएं बच्चे के साथ जितना अधिक बात करेंगे ,बच्चे koचीजों के नाम बताएंगे baby चीजों को समझने और धीरे-धीरे बात करने का प्रयास करेगा| अगर बच्चा इशारों में बात करता है तो आप उसका रिस्पांस ना दें बच्चे को बोल कर अपनी बात समझाने को कहें| बच्चे को टीवी या मोबाइल ना दे इससे बच्चे इतने व्यस्त हो जाते हैं और बात करने का प्रयास नहीं करते बच्चे को बहुत सारे अलग-अलग प्रकार की चीजें दिखाएं उनके नाम आप बच्चे से बोलवाने का प्रयास करें छोटे-छोटे वाक्य शब्द जैसे हेलो, बाय ,कैट ,डॉग, मामा ,पापा जो बच्चा देता देखता है उसे बेबी को दिखाएं और कोशिश करें कि baby बोले| छोटी छोटी कविता बेबी को सुनाएं एक्शन से बेबी को ga kr दिखाएं, बेबी को बार-बार सुनाते रहे इससे बच्चे में बोलने की क्षमता का विकास होगा| बच्चा 3साल तक बात नहीं करता तो आप डॉक्टर से इस संबंध में करें कंसल्ट जरूर करें|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा ik साल 7 महीने का हो गया है अबी तक बोलता नही क्या करु
उत्तर: बच्चा यदि अकेला रहता हैं तो वो कई बार बोलना नहीं सिख पाता हैं| जैसे ही वो दूसरे बच्चो के साथ संपर्क में आता हैं| तो उसके अंदर भी खेलने की चाह बढ़ती हैं| वो भी उन हरकतों को देखकर सीखता हैं| उनको बुलाने की कोशिश करता हैं| और कई बार ऐसे में ही वो छोटे-छोटे शब्दो को बोलना सीखता हैं| बच्चो को दुसरो के साथ खिलाने पर वो एक्टिव भी होते हैं| बच्चो को दूसरे बच्चो के साथ खिलाने पर भी आप बच्चो को बोलना सीखने में मदद कर सकते हैं|
»सभी उत्तरों को पढ़ें