16 महीने का बच्चा

Question: मेरा बेटा 1 साल 3 महीने का है वो दूध बिल्कुल वी नही पीना चहता है क्या karu

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर ऐसा होता है कि जब बच्चे कुछ नमकीन मीठा खाना स्टार्ट कर dete है तब मिल्क पीने मे इंटरेस्ट नही दिखाते ऐसे में आप कुछ दिन बच्चे को मिल्क देना अवोइड करे या मिल्क में कुछ फ्लेवर मिला कर दे जैसे चॉकलेट वनिला straberry etc आप का बेबी मिल्क नही पी रहा है तों आप बच्चे को मिल्क प्रॉडक्ट जैसे पनीर दही छाछ लस्सी मलाई दे सकती है बच्चा पनीर दही ना खायें तो आप बच्चे के खाने में पनीर किस कर डाल सकती है बच्चे की रोटी मलाई पनीर या मिल्क में आटा गून्द कर बना सकती है घबराये नही लगभग सभी बच्चे ऐसा करते है आप बच्चे को प्रोटीन कैल्सीअम अन्‍य खाने से दे कोई प्रॉब्लम नही होगी
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेटा बहुत दुबला है अवि 1 साल 3 महीने का है वो बाहर का दूध बिल्कुल नही पीना चाहता है क्या करु
उत्तर: ज्यादातर बच्चे को दूध पीना पसंद नहीं होता लेकिन दूध पीना बहुत ही जरूरी है क्योंकि इसमें कैल्शियम होती है जिससे उनकी हड्डियां मजबूत होती है और बच्चों को दूध पिलाने के लिए मां को बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है अगर बच्चा दूध नहीं पीता है तो आप कुछ तरीके अपनाकर उन्हें dudh pilane की कोशिश कर सकते हैं अगर बच्चे को दूध पसंद नहीं है तो कई बार बच्चे को सादा मिल्क पसंद नहीं आता इसलिए उसमें आप फ्लेवर्ड मिल्क मिला सकते हैं उनकी मनपसंद चॉकलेट या स्ट्रॉबेरी फ्लेवर मिलाकर दूध पिलाएं जिसे दूध स्वादिष्ट होने के कारण बच्चा दूध पीने लगता हैl जब बच्चा दूध पीने से मना करे तो उसे सुंदर और डिजाइनर गिलास में दूध देना शुरु करें क्योंकि बच्चे को कलरफुल चीजें बहुत पसंद आती है अगर gilas ya cup खूबसूरत होगा तो दूध पर उसका ध्यान नहीं जाएगा और वह आसानी से दूध पी लेगाl आप बच्चे को अगर दूध नहीं पीता है तो falo के साथ मिलाकर शेक बनाकर बच्चे को दे सकते हैं इसे बच्चे को बहुत ही पसंद आता हैl दूध पिलाने के समय बच्चे को बिल्कुल ना date उन्हें प्यार से दूध पिलाएंl और हमेशा याद रखें कि बच्चे को नाश्ते से पहले ही दूध पिलाएं क्योंकि बच्चा जब भूखा होगा तो asami से पी लेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा 1 साल 11 महीने का है पर वो स्पष्ट बोल नही पाट क्या karu
उत्तर: आप बिल्कुल भी परेशान ना हो कुछ बच्चे देर से बोलना शुरू करते है । यदि हम बच्चे से शुरुआत में विभिन्न भाषाओं में बात करते हैं जैसे अंग्रेजी हिंदी कन्नड़ तेलुगू तमिल इत्यादि तो बच्चे कंफ्यूज हो जाते हैं और ठीक प्रकार से बोलना नहीं सीख पाते हैं या फिर देर से बोलना शुरू करते हैं इसलिए जब आपका बच्चा छोटा हो और आप उसे बोलना सिखा रहे हैं तो उससे अपनी मातृभाषा में ही बात करें जिससे बच्चा जल्दी बोलने लगता है इसके बाद जब बच्चा अच्छे से बोलने लगे तब आप उसे अन्य भाषाएं भी सिखा सकते हैं लेकिन आपको घबराने की आवश्यकता नहीं है आप अभी भी अपने बच्चे के साथ प्रयास कीजिए कि उससे आप अपनी मातृभाषा में बात करें और ज्यादा से ज्यादा उसे समय दें उसके साथ बातें करें खेले और उसे छोटे-छोटे शब्द बोलना सिखाए फिर धीरे-धीरे आप से लंबे सेंटेंस सिखा सकती हैं यदि 5 साल तक बच्चा अच्छे से बोलना नहीं सीखता है तब आप उसे स्पीच थेरेपी दिला सकते हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो मेरा बेबी 20 महीने का है . वो दूध बिल्कुल नही पीना चाहता . क्या करु
उत्तर: हेलो डियर अपने बच्चे के दूध के flavours चेंज करिए कभी आप उसको बनाना शेक बनाकर पिला दीजिए ,थोड़ा सा इलायची पाउडर पीस के रख लीजिए कभी हो तो इलायची पाउडर दूध में डालकर दे दीजिए , कुछ ड्राई फ्रूट्स का पाउडर पीस के रख लीजिए जैसे कि काजू बादाम किशमिश छुआरे , इसका पाउडर मिलाकर के पिला दीजिए , आप उसको खीर बनाकर के de सकते हैं कभी कस्टर्ड बना कर दे सकते हैं , फ्रेश स्ट्रॉबेरीज मिल जाए तो आप स्ट्रॉबेरी शेक बनाकर दे सकते हैं , इस तरह आपके बच्चे को दूध भी मिल जाएगा और दूध के साथ और vitamins,minerals भी mil जायेंगे
»सभी उत्तरों को पढ़ें