1 महीने का बच्चा

Question: मेरा बेटा 1 महिने 15 दीन का ह ऑर वो रात को भोत रोता है जैसे उसे कुछ हो गया हो

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेबी रात को बहुत रोता है| बेबी 1 महीने ऑर 27 दीन का है
उत्तर: आपका बच्चा रात में बार बार उठकर रोता है इसके कई कारण हो सकते हैं हो सकता है उसे कोई तकलीफ हो पेट में ऐसा भी होता है कि बच्चे को सुसु आती है उस टाइम भी वह बच्चा रोता है आपके बच्चे के पेट में गैस बनती हो जिस वजह से बच्चा रोता है मैं आपको कुछ घरेलू उपचार बताना चाहती हूं जिसमें बच्चा रोता है उस समय आप उसके नाभि में हल्का गुनगुना पानी में हींग मिलाकर लगा सकते हैं उसके पेट को तुरंत आराम मिलेगा बच्चा जिस समय रोता है उसको सुसु करा सकते हैं इस समय बच्चा थोड़ी देर से करता है पर उसमें भी उसे आराम मिलता है रात में सोने से पहले बच्चे की मालिश जरूर किया करें जिस से बच्चे को आराम मिलेगा फिर भी आप एक बार डॉक्टर से मिलकर जरूर एडवाइज लें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेबी मन्नत ऑर 10 डेज का है बेबी को कोल्ड हो गया ऑर वो रात को बहोत रोता hai
उत्तर: हेलो डिअर, आपके बेबी को अगर जुखाम हो गया हैं तो आप सरसो के तेल में थोड़ा अजवायन और एक जवा लहसुन डाल कर धीमे आंच पर पका दे जब तेल ठंडा ही जाए तब इसी तेल से बेबी के हाथ पैर के तलुए पे तेल से मालिश करे और फिर बॉडी पर मालिश करे इससे आपके बेबी के जुखाम में बहुत आराम मिलेगा आपके बेबी को अगर अक्सर जुखाम हो जाता है तो आप अपने बेबी को सप्ताह में 3 से 4 बार ही गुनगुने पानी से नहलाये , आप अपने बेबी को मौसम के अनुकूल कपड़े पहनाये, जुखाम होने पर आप कुछ सहजन ली पत्तियों को तोड़कर नारियल के तेल मे पका दे जब पत्तियां सुख जाए अब आप इस तेल को ठंडा करके बेबी के सर पे लगा के मालिश कर दे और बॉडी में भी लगा दे इससे आपके बेबी का जुखाम ठीक हो जाएगा!
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा रात को भोत रोता hai
उत्तर: hello dear पूरी रात शिशु का रोना, माता-पिता के थकाऊ और परेशानी भरा हो सकता है।लेकिन आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए की शिशु का रोना उनका आपसे अपनी ज़रूरतों के लिए संपर्क करने या आपका ध्यान पाने का एक तरीक़ा है। यही कारण है की जब आप उन्हें आराम देते है तो अधिकतर शिशु रोना बन्द कर देते है।हालाँकि अगर आपका शिशु आपके उन्हे शांत कराने के कई प्रयासों के बाद भी चुप ना हो,तो कोई अंदरूनी समस्या हो सकती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें