7 महीने का बच्चा

Question: मेरा बेटा 7 महिने का हे ऑर वो टी.वी. भोत जादा देखता हे तों में क्या करू की वो टी.वी. ना देखें

1 Answers
सवाल
Answer: tv mob bnd rkh wo bhul juyga jldi
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेटा महिने का हे उस का हिमोग्लोबिन काम ह ऑर वेट भी में क्या करू plz बताओ
उत्तर: हेलो डियर बच्चों में Hb की कमी आयरन ततवो की कमी के कारण होती है इसलिए उन्हें ज्यादा से ज्यादा हरी पत्तेदार सब्जियों का सूप बनाकर पिलाएं ।बच्चे को रोजाना पांच से 7 चम्मच टमाटर का रस या सूप पीने के लिये दीजिए। बच्चे को घर में ही निकाला अनार का जूस पिलाएं।बच्चे का hb बढ़ाने के लिए आप उसे चुकंदर का जूस या इसकी प्यूरी भी बनाकर पिला सकती हैं । बेबी को ज्यादा से ज्यादा मात्रा में तरल पदार्थों का सेवन करवाएं। बच्चों की साफ सफाई का पूरा ध्यान रखें। आप ये सब उपाय अपनाकर बेबी के hb को बढा सकती है। अगर आप के बेबी का वेट भी कम है तो इसके लिए आप कुछ बातों का ध्यान रखकर के बेबी का वेट बढ़ा सकती है सबसे पहले आप बेबी की नींद का ध्यान रखें क्योंकि अगर baby की नींद पूरी होगी तो बेबी की ग्रोथ भी अच्छी होगी । साथ ही साथ baby की साफ सफाई का पूरा ध्यान रखें । baby को ज्यादा रोने ना दे । बेबी को संतुलित और पौष्टिक भोजन खिलाए । आप बेबी को निम्न आहर खिला सकती हैं- सूबह में उठने के बाद दूध के साथ बादाम का पेस्ट डालकर बेबी को पीला सकती है । सूबह के नास्ते में आप बेबी को फार्मूला मसूद डोसा , khichdi, दाल का पानी, दूध के साथ रोटी , बॉयल्ड एप्पल , मसूद बनाना , फ्रेश जूस , रागी दूध के साथ दे सकती हैं । दोपहर के खाने में - दाल रोटि, दाल चवाल, सूजी का हलवा , खिचड़ी दे सकती है । शाम में बेबी को मिल्क या ड्राई फ्रूट्स का हलवा बना के दे । रात में आप बेबी को सजी की खीर , दाल रोटी या दलिया दे सकती हैं और शाम्ं के टाइम दूध ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेबी 1 साल महिने का हे पर वो खाना हि नहि खाता हे तों में क्या करू
उत्तर: हैलो डियर--- अगर आपका बच्चा खाना नहीं खा रहा है तो आपको बच्चे की डायट और पसंद की ओर ध्यान देना चाहिए आपको बच्चे के पसंद के अनुसार थोड़ी-थोड़ी मात्रा में भूख के समय में खिलाने की कोशिश करनी चाहिए कई बार बच्चे एक जगह बैठ कर नहीं खाते तो आप बच्चे को बहला कर जैसे खेलते हुए स्टोरी सुनाते हुए या टीवी में कोई कार्टून दिखाते हुए खिलाने की कोशिश करें इससे बच्चा ध्यान भटक कर थोड़ी-थोड़ी मात्रा में खाना सीखेगा आप घर पर बने सभी भोजन जैसे दाल चावल चपाती दलिया खिचड़ी थोड़ी-थोड़ी मात्रा में बच्चे को दे सकते हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा 1 साल ऑर 6 महिने का हे उसे सर्दी ऑर कब्ज रहती हे तो में क्या करू
उत्तर: छोटे बच्चे को सर्दी खांसी बहुत ही जल्दी लगती है आप भी बीच में बच्चे की गीली नैपकिन बदलते रहिए। अब बच्चे को सर्दी से संक्रमित व्यक्ति से दूर रखने की कोशिश कीजिए आप उनके कपड़ों को किसी अच्छे एंटीबैक्टीरियल शॉप में धोकर एंटीबैक्टीरियल पानी में डुबोकर धोकर फिर धूप में अच्छे से सुखा कर रखिए और यूज कीजिए। आप बच्चे के सीने में सरसों के तेल में 3... 4 कड़ियां लहसुन की kadka कर तेल को गर्म करके ठंडा करके अच्छे से सीने में मसाज कर सकती इससे बच्चे को सर्दी और खांसी में थोड़ा आराम मिलेगा। आप बच्चे को भाप दे सकती है पर छोटे बच्चों को भाप देने के लिए आप गर्म आप बाथरूम में गर्म पानी टब में ऑन कर दीजिए। थोड़ी देर के लिए बाथरूम को बंद करके रखे जिससे बाथरूम में बाप भर जाएगा और अपने छोटे बच्चे को आप लेकर थोड़ी देर के लिए बैठ जाइये। जिससे उनको सीने में कफ नहीं जमेगा और खांसी और सर्दी में थोड़ा आराम मिलेगा। आप उन्हें पीने के लिए उबाल का ठंडा किया गया हल्का गर्म पानी पीने के लिए दीजिए आप उनके भोजन से ठंडी वस्तुएं अभी कुछ दिनों के लिए अवॉइड कीजिए जैसे कि दही आइसक्रीम या फिर केला..ताजे सब्जियों के सूप बनाकर दीजिए इससे बच्चे को एनर्जी मिलेगी और उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ेगी.. ज्यादा तकलीफ है या आपको आराम नहीं मिलता है तो आप डॉक्टर के पास जाइए और बच्चे का इलाज करवाइए बच्चे की खांसी सर्दी देखकर सीने को चेक करके आपको बेहतर सलाह देंगे। कब्ज़ के लिए आप बच्चे को हल्का गर्म पानी पीने के लिए दीजिए इससे उनका भोजन आराम से pachega। बच्चे को पौष्टिक आहार दीजिए लेकिन उसे फाइबर वाले फूड ज्यादा ऐड कीजिए जिसमें हरी पत्तेदार सब्जियां फल ज्यादा ऐड कीजिए। आप बच्चे को हल्के गुनगुने पानी से भी स्नान करा सकती हैं इससे भी उनके बॉडी ठीक रहेगी। आप बच्चे को केला खाने को दे सकती है इससे उनका मोशन सॉफ्ट आएगा। बच्चे को दूध पीने के लिए दीजिए यह भी एक laxative का काम करता है जो पेट साफ करने में मदद करता है। आप बच्चे को gwawa दे सकते हैं gwawa में भी पेट साफ करने की प्रवृत्ति होती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें