6 साल का बच्चा

Question: मेरा बेटा बेड गिला करता ह तों वह kayese ठिक हो 8year का h

3 Answers
सवाल
Answer: हेलो डिअर, आपका बच्चा रात को बिस्तर गीला करता है तो उसके लिए आप इन निम्न उपायों को अपनाकर उसकी इस आदत को छुड़ा सकते हैं। रात के समय 1:00 से 2:00 के दौरान बच्चे को बाथरूम में जाकर पेशाब करवाएं कमरे में रात को हम की रोशनी रखें ताकि रात को पेशाब आने पर बच्चा बाथरूम जाकर पेशाब कर सके। सुबह को बच्चे का बिस्तर गीला ना दिखने पर बच्चे की तारीफ करें रात को सोने से पहले थोड़ी किशमिश पानी में भिगो दें और सुबह सुबह खाली पेट बच्चे को खिलाएं ऐसा करने से बच्चों का बिस्तर गीला करने से आप उन्हें रोक सकती हैं। पानी में जायफल घिसकर इसका एक चौथाई चम्मच एक कप गुनगुने दूध में मिलाकर सुबह और शाम बच्चों को पिलाने से बिस्तर गीला करने की समस्या छुटकारा मिलता है। प्रतिदिन सुबह गुनगुने दूध के साथ बच्चों को गुड़ खाने को दें इसके सेवन से शरीर में गर्मी आती है जिसे बिस्तर पर पेशाब करने में कमी आने लगती है।
Answer: hello dearअधिकतर बच्चों को बिस्तर पर पेशाब करने की आदत होती हैं । ... वह अवस्था हैं जिसमें पांच साल की उम्र से ऊपर के बच्चे रात में सोने के वक्त नीद मे ही पेशाब कर देते है और ये कोई परेशान होने वाली बात नही है । अपने बच्चे की इस आदत को आप आसानी से छुडवा सकती है। किन्तु इसके आपको यह ध्यान देना हैकि आप बच्चे डाटे या मारे नही बल्कि उसे प्यार से समझाने की कोशिश करे ताकि उसे शमिनदगी ना हो रात मे 8 के बाद जादा पानी ना पिलाए,और लगभग 1 2 बजे के उसे उठाने की कोशिश करे पेशाब के लिए पतिदिन ऐसा करे ।और हो सके तो कम रौशनी वाली लाइट रखे रात के वक्त ताकि बच्चा खुद से बाथरुम तक जा सके । और बच्चा यदि किसी दिन बिस्तर गीला ना करे , तो उसकी तारीफ जरूर करे।।गुड़ और तिल का लडू खिलाने से भी इस आदत से निजात पाया जा सकता है । तथा आप डाक्टर की सलाह भी ले सकते है।।
Answer: hello dear अगर आपका बच्चा रात को बिस्तर गीला करता है तो उसके लिए आप इन निम्न उपायों को अपनाकर उसकी इस आदत को छुड़ा सकते हैं। 1) रात मे कम से कम दो बार बच्चे को जगाकर टॉयलेट करवाये। 2) सोने वाले कमरे में रात को हलकी रोशनी रखें ताकि रात को टॉयलेट आने पर बच्चा टॉयलेट मे जा कर टॉयलेट कर सके। 3) सुबह को बच्चे का बिस्तर गीला ना दिखने पर बच्चे की तारीफ करें। 4) रात मे थोड़ी सी किश्मिश भिगोकर रख दे और सुबह खाली पेट बच्चे को खिलाए। 5) पानी में जायफल घिसकर एक चौथाई चम्मच एक कप गुनगुने दूध में मिलाकर सुबह और शाम बच्चों को पिलाने से बचचो की ये प्रॉब्लम दूर होती है। 6) प्रतिदिन सुबह गुनगुने दूध के साथ बच्चों को गुड़ का सेवन करवये।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेटा 6 month का ह वह बहुत पतली पोटी कर ह में क्या करु की वह ठीक हो जये
उत्तर: क्युकी अवि उसके दाँत निकलने की उमर है उसे जनम घुट्टी पिलाया करें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा 3 साल का है वह फीड करता है
उत्तर: hello आपको अपने बच्चे का दूध छुड़ाना बहुत जरूरी है आप अपने बच्चे को भूख के टाइम जब वह रोए तो उसे दूध ना देकर कुछ खिलाए। उसे बहला कर खिलौने देकर या कुछ कहानियां सुनाकर उसका ध्यान दूसरी तरफ करें। बच्चा आपका दूध पेट भरने के लिए नहीं अपनी संतुष्टि के लिए पीता है। धीरे धीरे जब भी वह डिमांड करे आप उसे थोड़ी देर अपने से दूर रखें। अक्सर रात में सोते समय दूध पीते हैं। अगर आप का फैमिली बड़ा है और उसमें दादा-दादी या और कोई सदस्य हैं तो बच्चे को कुछ देर के लिए उनके पास सुलाने की आदत डालें। बच्चे को आप उसके पापा के साइड भी सुला सकती हैं। सोने का तरीका बदल देने से बच्चे बहुत जल्दी दूध छोड़ देते हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बहन का बेटा अभी ढाई साल का है, वह जब भी पॉटी करता है , इसका रंग सफ़ेद होता है। सभी बच्चो के पॉटी का रंग पीला होता है। क्या इसमें कोई घबराने वाली बात है? हमें क्या करना चाहिए?
उत्तर: हेलो सफेद रंग की पॉटी का कारण लीवर में इंफेक्शन की वजह से हो सकता है अगर बच्चा अभी अभी शुरू किया है उसमें सफेद पॉटी करना तो उसका पेट भी कुछ गड़बड़ हो आप थोड़ा सा अजवाइन का पानी दीजिए 2 दिन तक अगर उसका डाइजेशन सही हो जाता है उसका पेट अगर साफ हो जाता है फिर उसके पोते का कलर चेंज हो जाता है तो चिंता की कोई बात नहीं है अगर बाद भी उसके पति का कलर सफेद ही रहता है तो आप जल्दी से डॉक्टर से संपर्क करें
»सभी उत्तरों को पढ़ें