3 साल का बच्चा

Question: मेरा बेटा ढाई साल का है और वो खाना नही खाता है ज़बरदस्ती खिलाना पड़ता है मारना भि पड़ता है क्या करु

3 Answers
सवाल
Answer: सारे बच्चे आजकल ऐसा ही करते है , खाना नही खाना चाहतें पर खाना खिलाने के लीय बच्चे को मारना सही नही है , मार कर खाना खिलाने से बच्चे का खाने की तरफ़ रुची और कम होती जाएगी . आप कोशिश करते रहें बच्चे को खिलाने की , बच्चा खाने लगेगा .. खाना खिलाते समय बच्चे का आप धयान खाने से हटा दे , जब भि खाना खिलऐ बच्चे को एक जगह बिठा दे , बेबी के साथ कोई गेम खेले या कोई गाना गाये , बीच बीच मे बच्चे को खिलऐ , बच्चा पुरा नही खाता है तो फोर्स ना करे , कुछ देर बाद फिर खिलायें .. आप कोशिश करें कि बच्चे को हर दिन कुछ ना कुछ नया खिलाए ताकि बच्चे को हर खाने का टेस्ट मिल सके कभी-कभी बच्चे एक ही तरह का खाना खा खाकर बोर हो जाते हैं और नया नया खाने से उनको खाने क्यों दिलचस्पी बढ़ती है धीरे धीरे आप को पता चलता जाएगा कि आपके बच्चे को किस तरह का खाना पसंद है आप उसकी पसंद के अनुसार उसके लिए खाना बना है बनाएं साथ ही कोशिश करेंगे जो भी खाना बना है उसमें बेबी को भरपूर न्यूट्रिशन मिले
Answer: बच्चे की भूख बढ़ाने के लिए कुछ आसान से उपाय हैं जिन्हें आप अपना सकते है । खाना खाने के बाद दो काली मिर्च पीसकर उसे एक चुटकी घी में मिलाकर बच्चें को चटाए इससे भी बच्चे को भूख बढ़ेगी । बच्चे को हर 2 घंटे में खाने को दे बीच में उसे कुछ भी नहीं दे तभी बच्चा 2 घंटे बाद अच्छे से खाना खाएगा । बच्चे को परिवार के सदस्यों के साथ बैठा कर खाना खिलाए । बच्चे को उसकी पसंद का खाना बनाकर खिलाएं। रंग-बिरंगे बर्तनों में खाने को दें । जंक फूड बाहर का बच्चे को बिल्कुल भी ना दें। लिक्विड फूड की मात्रा बच्चे के खाने में ज्यादा रखें और बच्चे को घर के बने हुए ताजे फलों के जूस दें। एक cup छाछ में चुटकी भर काला नमक डालकर बच्चे को पिलाएं इससे भी बच्चे की भूख बढ़ती है।
Answer: हेलो डिअर, ज्यादातर बेबी खाने में आना कानी किया करते है ऐसे बेबी को किसी भी तरह से बदला फुसला कर आपने बेबी को खिलाएं आप अपने बेबी की कोई भी कार्टून या कविता , गाना,लोरी किसी भी तरह से बेबी को खिलाने के कोशिश कीजिये आप रोज अपने बेबी को एक ही तरह का आहार मत दीजिये उसे बदल बदल कर अलग अलग तरह से रंग बिरंगी चीजे दिखा कर खिलाने की कोशिश करे शायद बच्चा इस तरह से खा ले ।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेटा 5 साल का ह वो अवि तक खाना नई khata ज़बरदस्ती खिलाना पड़ता ह
उत्तर: हेलो डियर इस एज में ं ज्या दा तर बेबी ऐसे ही हो ते है ं वो खेलने कूदने मे ज्यादा ध्यान लगाते है। खा ने के प्रति उनकी को ई खास रुचि नहींंं होती है। वैसे टेंशन लेने की जरुरत नही है आप का बेबी अब 5 साल की हो चुका है और 5 साल के बेबी को भूख का एहसास होने लगता है जब उन्हें भूख लगती है तो वह खुद ही खाना मांगने लगते हैं । आप जो कुछ भी बेबी को खिलाना चाहती है बनाकर रख दीजिये बेबी खेलते हुए भूख लगने पर खा लेगा। दूध अगर आप दें ती हैं तो सिर्फ 2 बार दें बेबी का पेट सॉलिड फूड के लिए खाली रहना चाहिए । आप बेबी की डिमांड पर जो आपका बेबी कहे वह बनाकर रख दीजिए। बेबी अपने आप ही घूम घूम कर खाना खा लेगा । अगर आप सोचती है की आपका बेबी आपके अनुसार खायेगा एक बार में 1 रोटी खा लेगा तो ऐसा होना मुश्किल है डीयर। अगर बेबी एक्टिव है और वह हमेशा खेलता कूदता रहता है तो सही है। बेबी के पतले या मोटे होने से कोई फर्क नही पड़ता है बेबी को ऐक्टिव रहना चाहिए।आप बेबी के लिए न्यू कर्तॅऊन वाले बरतन भी यूज़ कर सकती हैं। फूड को खुब कोलौर्फुल बनाकर भी दे सकती हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेम मेरा बेटा ढाई साल का है वह कुछ खाता नही है ज़बरदस्ती कुछ खिलाती हूँ वह बहुत कमज़ोर है क्या करु plz सलाह दीजिए
उत्तर: hello अगर आपका बेबी खाना नहीं खाता तो सबसे पहले आपको यह देखना होगा कि बेबी खाना क्यों नहीं खाता बच्चे भूखे नहीं रह सकते और अगर बच्चा खाना नहीं खा रहै है तो कुछ गलत चीजें खा कर पेट भर रहा है जिसके कारण वह खाना नहीं खाना चाहता बच्चे की जिम्मेदारी मां की होती है उसे क्या खिलाना है और क्या नहीं यह एक मां को ही तय करना चाहिए। बच्चे खाना तभी नहीं खाते जब उनकी भूख बिस्किट चॉकलेट टॉफी चाऊमीन नूडल्स चिप्स कुरकुरे इन चीजों से मिट जाती है। आप एक हफ्ते के लिए बच्चे को यह सारी चीजें स्ट्रिक्टली बंद करके देखिए। बच्चा अपने आप खाना खाने लगेगा। बच्चों को भूखे होने पर दूध नहीं देना चाहिए भूख के समय पर उन्हें खाना दे और नाश्ते के समय उन्हें दूध के साथ कुछ भी दे सकती हैं। भूख के समय कोई भी मीठा चीज चाहे वह एक टुकड़ा टॉफी का ही क्यों न हो खाने से भूख मिट जाती है। बच्चों को चॉकलेट टॉफी नहीं देने से वह थोड़े दिन जिद करेंगे लेकिन तय आपको ही करना है कि उसे यह सब खिलाए या खाना। आप बच्चे के सामने शर्त रखें कि अगर वह खाना खा लेगी तो उसे टॉफी दिया जाएगा और खाना खत्म होते ही उसे टॉफी जरूर खिलाएं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा 1 साल का है कुछ नही खेत कितना भि ज़बरदस्ती करु नही khata
उत्तर: आप परेशान ना हो , बच्चे इज उमर मे ऐसा करते है , आप कोशिश करते रहें बच्चे को खिलाने की , बच्चा खाने लगेगा .. खाना खिलाते समय बच्चे का आप धयान खाने से हटा दे , जब भि खाना खिलऐ बच्चे को एक जगह बिठा दे , बेबी के साथ कोई गेम खेले या कोई गाना गाये , बीच बीच मे बच्चे को खिलऐ , बच्चा पुरा नही खाता है तो फोर्स ना करे , कुछ देर बाद फिर खिलायें .. अब जब आपका बच्चा 9 महीने का हो चुका है तो अब आप उसको कई प्रकार के आहार दे सकती हैं। ऐसे बहुत से आहार जो आप पुरे घर के लिए बनाती हैं और जिसमे नमक और मसाला कम हो  बच्चों को रोटी या पराठा देते वक्त उसको छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़ दें। हालाँकि बच्चे हर तरह के आहार ग्रहण कर सकते हैं, फिर भी आप उन्हें आहार देते वक्त ख्याल रखें की आहार अच्छी तरह पका हुआ हो और नरम हो।  नौ महीने पुरे होने पे आप अपने बच्चे को non-vegetarian आहार भी दे सकते हैं जैसे की अंडा पिली जर्दी के साथ, chicken, और मछली।  ९ महीने की आयु में, ज्यादातर बच्चे दिन में ३ आहार और एक बार थोड़ा स्नैक लेते हैं सूप  अपने बच्चे को चिकन या हैल्दी सब्जियों का सूप बनाकर दिन में तीन टाइम पिलाएं क्योंकि इनसे बच्चे तो भरपूर प्रोटीन और जरूरी पोषक तत्व मिलेंगे।  ओट्स  ओट्स बच्चे के बेहतर पेट के लिए बैस्ट है। इससे बच्चों को कब्ज की समस्या भी नहीं होगी।  कुकीज कुकीज को 10 महीने का बच्चा आसानी से खा सकता है। बच्चे को दूध से बनी कुकीज खिलाएं, इससे बच्चे को ताकत मिलेगी।  सब्‍जियां  बच्चे को ऐसी सब्जियां खिलाएं जो आसानी से बच भी जाए और प्रोटीन बी भरपूर मिले। शकरकंद और उबली गाजर ऐसी ही सब्जियां है जो 10 महीने के बच्चे के लिए बैस्ट डाइट है।  मुलायम चावल ,सूजी हलवा मूंग दाल की खिचड़ी रागी हलवा पांच दालों की खिचड़ी दलीय सब्जियों की खिचड़ी सेवइयां सूजी उपमा  गाजर का हलवा सब्जियों का puree सादी या मीठी दही बेहतर होगा कि बच्चे को सादी दही खिलाए,अगर वह नहीं खा रहा तो उसका टेस्ट चेंज करने के लिए मीठा मिला लें। याद रखें कि दही बच्चे को हमेशा सुबह के समय ही खिलाएं। 
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा 4 साल का है पर वो कुछ खाता नही है क्या करु
उत्तर: ज्यादातर छोटे बच्चे खाना तभी नहीं खाते हैं क्योंकि उनको भूख नहीं लगती| और भूख नहीं लगने का कारण बहुत सारा karan सकता है| सबसे पहला कारण उनका पाचन क्रिया का अच्छे से नहीं होना दूसरा कारण पेट में कीड़े होने की वजह से भी बच्चे खाना नहीं खाते इन दोनों वजह से बच्चे को भूख नहीं लगती जिसे कि वह खाना नहीं खाता इसके लिए बहुत सारे उपचार है जिसे आप अपना कर बच्चे की भूख को बढ़ा सकती हैं और उनके पाचन क्रिया को भी ठीक कर सकती है| सबसे पहले तो आप बच्चे की खाने में मैदा वाली चीजें बिल्कुल ना दें क्योंकि मैदा बहुत जल्दी digest नहीं हो पाता aap बच्चे को जितना चाहे फिजिकल एक्टिविटी कराएं क्योंकि उनके खेलने से ही उनका खाना jaldi digest होता है aap उनके खाने में हींग का प्रयोग करें| उनको ज्यादा मसालेदार भोजन बिल्कुल नदी से गैस बनने की समस्या होती है| बच्चा जब भी खाना खाता है उसकी आधा घंटा बाद और आधा घंटा पहले ही पानी दे खाने के दौरान बिलकुल पानी ना लक पेट में कीड़ा होने से आप कुछ घरेलू उपचार करके बच्चे के पेट के कीड़े को खत्म कर सकते हैं आप बच्चे को अनार का रस पिला सकते हैं इससे बच्चे के पेट के कीड़े खत्म होते हैं। सुबह शाम अगर आपसे mishree में दही मिलाकर खाते हैं तो इससे भी पेट के कीड़े खत्म होते हैं। आप बच्चे को तुलसी का रस पिला सकते हैं इस से भी फायदेमंद होता है पिसी हुई काली मिर्च के साथ हल्का सा काला नमक मिलाकर बच्चे को खिलाएं
»सभी उत्तरों को पढ़ें