1 महीने का बच्चा

Question: मेरा बेटा 23 डे का हुआ है वो photi के दोरन बेहट जोर से निकालता है dhila और चिकना कर्ता है ..

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर आपका बेबी बिल्कुल फिट है आपको अगर लगता है कि बेबी की पॉटी थोड़ी सख्त है तो आप बेबी को अच्छी तरह से ब्रेस्ट मिल्क फीड कराएं क्योंकि बेबी अभी बाहर का कुछ भी नहीं खा सकता है उसकी सेहत आपसे ही जुड़ी हुई है आप भी अपनी डाइट का पूरा ख्याल रखें ज्यादा ऑयली फूड या फास्ट फूड ना खाएं सादा खाना खाएं और खूब सारा पानी पिएं ऐगर आप का बेबी ऍक्टिव है टु . बेबी को कोई भि प्रॉब्लम नही है .ok
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेटा 23 डिन का है . वो कभी कभी डूड पीकर बर्पिंग कर्ता और कभी नही
उत्तर: hello dear आप अपनी बेबी को समय समय पर दूध देती रहे और अगर आपके बेबी की उल्टी होती है तो आप अपने बेबी को एक बार मे ज्यादा दूध ना पिलाये आप थोड़ा थोड़ा कई बार मे दूध पिला सकती है परेशान ना हो छोटे बच्चे में उल्टियां होना नार्मल है आप अपने बेबी को दूध पिलाने के बाद डकार दिला दे
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा 1 साल का हुआ है ,वो रात में भहोत फीडिंग कर्ता है,
उत्तर: हेलो डियर , आपका बेबी अगर रात को फीड करता है तो ज़्यादा tar बेबी रात को फीड करते है आप ऐसे में अगर आपका बेबी बहुत ज़्यादा फीड करता है तो आप अपने बेबी को सुलाने से पहले खाना खिलाये जिससे आपका बेबी का पेट अच्छे से भरें होने के कारन बेबी अच्छे से सोएगा , और फीड कम करेगा !
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेबी बोहोत जोर जोर से आलस निकालता है
उत्तर: hello dear अगर आप यह केहना चाहती है की आपका बेबी बार बार angadai लेता है तो आप परेशान ना हो। बच्चे में अंगड़ाई लेना आम बात होती है जब बच्चा एक ही पोजीशन में लेटे लेटे थक जाता है तो वह अन्गड़ाई लेना शुरू कर देता है। आप परेशान ना हो आप उसकी दिन में दो बार मालिश करें। इससे उस की थकान मिट जाएगी और वह धीरे-धीरे अन्गड़ाई लेना कम कर देगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा 8 महीने का है वो मुह से raal bhaut निकालता है ऐसा kyu
उत्तर: Hello dear. Asa hona bahut hi samany baat hai. aap saaf kapda rakhe usse pochh de. बच्चे की अगर बहुत laar आती है तो आप एक घरेलू उपचार कर सकते हैं . उसके लिए आपको 4 se 5छोटी इलायची थोड़ी . छोटा टुकड़ा सौंठ . एक choti सुपारी और 3 se 4 मुलेठी चाहिए . इन सभी को आप ले लें और उनका पाउडर बना लें .पाउडर बहुत ही महीन होना चाहिए . अपने बच्चे को थोड़ा सा शहद के साथ चटा दें. इससे उसकी लार टपकना कम हो जाएगा.
»सभी उत्तरों को पढ़ें