2 महीने का बच्चा

Question: मेरा बेटा ग्रीन येल्लो कलर के दस्त जा रहा है एसा क्यो ??

2 Answers
सवाल
Answer: ग्रीन कलर की potty का मतलब होता है आपके बेबी को cuff है .. उन्हें हाल hi में सर्दी खासी हुई होगी ..cuff जो बेबी बहार नही निकाल पते to gatak lete हैं जो पेट से पचते हुए potty के dwara बहार निकल jata है . आप बच्चे को भाप dilaye जिससे उनके सीने मि cuff नही jamegi .. और पेट से होते हुए पती से निकल जायेगी ऐगर यह samsya jyada लम्बी चल रही है बार बार दस्त jese हरी potty होरी है तो ये किसी प्रकरण का इन्फेक्शन भि हो सकता है जिसके लाइए आपको डॉक्टर से मिल्क सलाह लेनी चाहिए जरुरत pade टु वो आपको स्टूल टेस्ट मतलब potty टेस्ट भी कराने बोल सकते हैं .. आप अपना दूध अच्छे से पिलाते रहिए ...
Answer: हेलो डियर आप परेसान ना हों छोटे बेबी को अकसर green पोट्टि की प्रॉब्लम हो जाती है मगर आप बेबी को फीड करना बन्द ना करें ऑर आप कोई भि जादा ऑयली ऑर sapaycy खाना ना खाए इस्से बेबी को यह प्रॉब्लम होती है क्युकी जो आप खाती है वही बेबी को दूध के ज़री ए बेबी तक जता है ऑर उसे नुकसान करता है जिस वजह से भी बेबी को पोट्टि हो सकती है यदि बेबी 1 दिन में 8 से 10 बार पोट्टि करती है तो डॉक्टर के पास ले ज़ाए
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेबी ग्रीन ऑर येल्लो दस्त जा रहा है.... एसा किस कारन से हो रहा है ऑर इसका क्या उपाय है....
उत्तर: हलों डियर , आप टेंशन ना ले बच्चों को ग्रीन पोटी आना नॉर्मल है , इसके केई कारन हो सकते है जैसे टीथिंग , बच्चे को ठंड लग जाना , फॉरम्यूला मिल्क पीना , फॉरम्यूला मिल्क का ब्रॅन्ड चेंज करना पेट मैं इन्फेक्शन होना और अगर आप स्तनपान कारवा रहें है तो आपका कुछ ग्रीन कलर का खाना ... अगर बच्चा फॉरम्यूला मिल्क पिता है तो उसमें जादा मात्रा मैं आयरन होता है जिसकी वजह से ऐसा होता है .. अगर बच्चा कोई गन्दी चीज़ मुह मैं डाल रहा है जैसे गेन्दें हाथ या गेन्दें खिलोने तो भी ऐसा हो सकता है ... अगर बच्चे को ठंड लग गयी है तो बलगम की वजह से से ग्रीन पोटी आ सकती है ... ऐसा होना आपने आप हि ठीक हो जाता है पर अगर बच्चे का वज़न इस वजह से कम हो राहा हो या बच्चा एक दिन मैं 10-12 से जादा पोटी करतो डॉक्टर को कन्सल्ट करे .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: लेकिन मेरा बेटा ग्रीन potty जा रहा है और वो भी पतले दस्त की तरह
उत्तर: %E0%A5%A9%20%E0%A4%AE%E0%A4%B9%E0%A5%80%E0%A4%A8%E0%A5%87%20%E0%A4%95%E0%A5%87%20%E0%A4%AC%E0%A4%9A%E0%A5%8D%E0%A4%9A%E0%A5%87%20%E0%A4%95%E0%A5%87%20%E0%A4%B2%E0%A4%BF%E0%A4%8F%20%E0%A4%AA%E0%A5%89%E0%A4%9F%E0%A5%80%20%E0%A4%95%E0%A4%BE%20%E0%A4%AF%E0%A5%87%20%E0%A4%95%E0%A4%B2%E0%A4%B0%20%E0%A4%AC%E0%A4%BF%E0%A4%B2%E0%A4%95%E0%A5%81%E0%A4%B2%20%E0%A4%A8%E0%A4%BE%E0%A4%B0%E0%A5%8D%E0%A4%AE%E0%A4%B2%20%E0%A4%B9%E0%A5%88.%20%E0%A4%87%E0%A4%B8%E0%A4%AE%E0%A5%87%E0%A4%82%20%E0%A4%86%E0%A4%AA%20%E0%A4%95%E0%A5%8B%E0%A4%88%20%E0%A4%AD%E0%A5%80%20%E0%A4%9A%E0%A4%BF%E0%A4%82%E0%A4%A4%E0%A4%BE%20%E0%A4%A8%E0%A4%BE%20%E0%A4%95%E0%A4%B0%E0%A5%87.%20%E0%A4%94%E0%A4%B0%20%E0%A4%87%E0%A4%A4%E0%A4%A8%E0%A5%87%20%E0%A4%9B%E0%A5%8B%E0%A4%9F%E0%A5%87%20%E0%A4%AC%E0%A4%9A%E0%A5%8D%E0%A4%9A%E0%A5%87%20%E0%A4%95%E0%A5%80%20%E0%A4%AA%E0%A5%89%E0%A4%9F%E0%A5%80%20%E0%A4%95%E0%A4%88%20%E0%A4%AC%E0%A4%BE%E0%A4%B0%20%E0%A4%AA%E0%A4%A4%E0%A4%B2%E0%A5%80%20%E0%A4%A4%E0%A5%8B%20%E0%A4%95%E0%A4%88%20%E0%A4%AC%E0%A4%BE%E0%A4%B0%20%E0%A4%B9%E0%A4%BE%E0%A4%B0%E0%A5%8D%E0%A4%A1%20%E0%A4%B9%E0%A5%8B%E0%A4%A4%E0%A5%80%20%E0%A4%B9%E0%A5%88.%20%E0%A4%AF%E0%A5%87%20%E0%A4%B8%E0%A4%AC%20%E0%A4%A8%E0%A4%BE%E0%A4%B0%E0%A5%8D%E0%A4%AE%E0%A4%B2%20%E0%A4%AC%E0%A4%BE%E0%A4%A4%20%E0%A4%B9%E0%A5%88.%20%E0%A4%95%E0%A5%8B%E0%A4%88%20%E0%A4%9A%E0%A4%BF%E0%A4%82%E0%A4%A4%E0%A4%BE%20%E0%A4%B5%E0%A4%BE%E0%A4%B2%E0%A5%80%20%E0%A4%AC%E0%A4%BE%E0%A4%A4%20%E0%A4%A8%E0%A4%B9%E0%A5%80%E0%A4%82%20%E0%A4%B9%E0%A5%88.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा एकदम ग्रीन कलर की पॉटी कर रहा है दूध पीने के तुरंत बाद
उत्तर: हेलो डियर यह तब होता है जब आप बच्चे को गलत तरीके से दूध पिलाते है। दूध पिलाते समय आप सबसे पहले एक ब्रेस्ट के दूध को पिलाएं 20 मिनट के बाद अब दूसरे साइड के ब्रेस्ट से पिलाये ब्रेस्ट में ऊपर ऊपर का दूध पतला होता है और अंदर का दूध गाढ़ा होता है पतले दूध को पीने से बच्चे की प्यास बुझती है और गाढ़ा दूध को पीने से बच्चे की भूख मिटती है ऊपर ऊपर का दूध पीला देने से बच्चे को बार बार भूख लगती है और बच्चा उस दूध को पीने से झाग वाली पॉटी, ग्रीन पॉटी,छिछड़ा पॉटी,या बार बार पॉटी करता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें