10 महीने का बच्चा

Question: मेरा बेटा 9 मंथ्स का है कुछ खेत नही है क्या kare

2 Answers
सवाल
Answer: आप परेशान ना हो , बच्चे इज उमर मे ऐसा करते है , आप कोशिश करते रहें बच्चे को खिलाने की , बच्चा खाने लगेगा .. खाना खिलाते समय बच्चे का आप धयान खाने से हटा दे , जब भि खाना खिलऐ बच्चे को एक जगह बिठा दे , बेबी के साथ कोई गेम खेले या कोई गाना गाये , बीच बीच मे बच्चे को खिलऐ , बच्चा पुरा नही खाता है तो फोर्स ना करे , कुछ देर बाद फिर खिलायें .. आप कोशिश करें कि बच्चे को हर दिन कुछ ना कुछ नया खिलाए ताकि बच्चे को हर खाने का टेस्ट मिल सके कभी-कभी बच्चे एक ही तरह का खाना खा खाकर बोर हो जाते हैं और नया नया खाने से उनको खाने क्यों दिलचस्पी बढ़ती है धीरे धीरे आप को पता चलता जाएगा कि आपके बच्चे को किस तरह का खाना पसंद है आप उसकी पसंद के अनुसार उसके लिए खाना बना है बनाएं साथ ही कोशिश करेंगे जो भी खाना बना है उसमें बेबी को भरपूर न्यूट्रिशन मिले ,मै आपको कुछ आइडिया देती हूं खाने के बारे में जिसे आप अपने हिसाब से चेंज कर सकते हैं आपका बच्चा 9 महीने का हो चुका है तो अब आप उसको कई प्रकार के आहार दे सकती हैं ऐसे बहुत से आहार जो आप पुरे घर के लिए बनाती हैं और जिसमे नमक और मसाला कम हो  बच्चों को रोटी या पराठा देते वक्त उसको छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़ दें, अच्छी तरह पका हुआ हो और नरम हो नौ महीने पुरे होने पे आप अपने बच्चे को non-vegetarian आहार भी दे सकते हैं जैसे की अंडा , chicken, और मछली ज्यादातर बच्चे दिन में ३ आहार और एक बार थोड़ा स्नैक लेते हैं अपने बच्चे को चिकन या हैल्दी सब्जियों का सूप बनाकर de बच्चे को ऐसी सब्जियां खिलाएं जो आसानी से बच भी जाए और प्रोटीन बी भरपूर मिले,शकरकंद और उबली गाजर ऐसी ही सब्जियां . मलायम चावल ,सूजी हलवामूंग दाल की खिचड़ीरागी हलवा ,पांच दालों की खिचड़ी,दलीय,सब्जियों की खिचड़ी,सेवइयां,सूजी उपमा ,गाजर का हलवा,सब्जियों का puree सादी या मीठी दही बच्चे को सादी दही खिलाए,अगर वह नहीं खा रहा तो उसका टेस्ट चेंज करने के लिए मीठा मिला लें, याद रखें कि दही बच्चे को हमेशा सुबह के समय ही खिलाएं.
Answer: Aap uske sath baith kr uske saamne khaye wo aapko देखेगा to khane ki koshish krega
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेटा 18 महीने का है वो कुछ खेत हाइ नही क्या करु
उत्तर: हेलो डियर आप चिंता नहीं करें आजकल सभी बच्चे खाने के टाइम पर बहुत नाटक करते हैं आप अपने बेबी को अलग अलग तरह की वैरायटी दीजिए खाने में और साथ ही में यह ध्यान रखें कि जब भी बच्चा कुछ भी खाए उससे ढाई से 3 घंटे तक कुछ भी ना दें यदि आप खाने का अंतराल बनाएंगे तो इससे बच्चे को अच्छे से भूक लगेगी और बच्चा अच्छे से खाना खाएगा इसलिए खाने के अंतराल को ढाई से 3 घंटे का जरूर रखें अपने बच्चे को टाइम से पानी दे और बच्चे के खाने में अजवाइन का यूज करें अजवाइन के 2 फायदे होते हैं पहला यह है कि अजवाइन से बच्चे को भूख खुलकर लगती है दूसरा बच्चे को गैस की समस्या नहीं होती है खाना खिलाते टाइम बेबी के साथ आप खुद अपनी भी प्लेट लेकर बैठे और साथ में बेबी के लिए कार्टून की प्लेट लेकर बैठे थे दोनों में था ना डालें और बेबी के साथ आप बेबी को खाना सिखाएं उसको यह अभी से ही बताएं कि खाने के टाइम पर एक जगह पर बैठकर खाते हैं और साथ ही में जब भी आप खाना कुछ bite ले मुंह में तो बोले कि बहुत यम्मी है खाना इसे बच्चा इंप्रेस होता है और बच्चा खाने लगता है पर जैसा कि मैंने बताया कि 2:30 से 3 घंटे का ब्रेक जरूर दें इस बीच में कोई भी बिस्किट चिप्स नमकीन या कुछ भी देने की जरूरत नहीं है क्योंकि मोस्टली बचे ऐसा ही करते हैं खाना खाने के बाद टिडबिट्स खाते हैं जिसकी वजह से उनकी भूख मर जाती है तब भी बच्चा नहीं खाए तो आप एक काम कर सकते हैं आप अपनी बेबी के लिए पेन ड्राइव में या सीडी प्लेयर में कोई भी बच्चों की राइम्ज़ लगा दे उसको खेल खेल में खाना खिलाए पर डियर सबसे बेस्ट जो ऑप्शन है वह यही होता है कि आप खाने के टाइम पर बच्चे को तभी लेकर बैठे जब सभी घर के बाकी मेंबर्स भी खा रहे हो कुछ टाइम लगेगा आपको पेशेंस रखना होग
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा कुछ नही खेत क्या करु
उत्तर: हेलो डियर आप चिंता नहीं करें आजकल सभी बच्चे खाने के टाइम पर बहुत नाटक करते हैं आप अपने बेबी को अलग अलग तरह की वैरायटी दीजिए खाने में और साथ ही में यह ध्यान रखें कि जब भी बच्चा कुछ भी खाए उससे ढाई से 3 घंटे तक कुछ भी ना दें यदि आप खाने का अंतराल बनाएंगे तो इससे बच्चे को अच्छे से भूक लगेगी और बच्चा अच्छे से खाना खाएगा इसलिए खाने के अंतराल को ढाई से 3 घंटे का जरूर रखें अपने बच्चे को टाइम से पानी दे और बच्चे के खाने में अजवाइन का यूज करें अजवाइन के 2 फायदे होते हैं पहला यह है कि अजवाइन से बच्चे को भूख खुलकर लगती है दूसरा बच्चे को गैस की समस्या नहीं होती है खाना खिलाते टाइम बेबी के साथ आप खुद अपनी भी प्लेट लेकर बैठे और साथ में बेबी के लिए कार्टून की प्लेट लेकर बैठे थे दोनों में था ना डालें और बेबी के साथ आप बेबी को खाना सिखाएं उसको यह अभी से ही बताएं कि खाने के टाइम पर एक जगह पर बैठकर खाते हैं और साथ ही में जब भी आप खाना कुछ bite ले मुंह में तो बोले कि बहुत यम्मी है खाना इसे बच्चा इंप्रेस होता है और बच्चा खाने लगता है पर जैसा कि मैंने बताया कि 2.5 से 3 घंटे का ब्रेक जरूर दें इस बीच में कोई भी बिस्किट चिप्स नमकीन या कुछ भी देने की जरूरत नहीं है क्योंकि मोस्टली बचे ऐसा ही करते हैं खाना खाने के बाद टिडबिट्स खाते हैं जिसकी वजह से उनकी भूख मर जाती है तब भी बच्चा नहीं खाए तो आप एक काम कर सकते हैं आप अपनी बेबी के लिए पेन ड्राइव में या सीडी प्लेयर में कोई भी बच्चों की राइम्ज़ लगा दे उसको खेल खेल में खाना खिलाए पर डियर सबसे बेस्ट जो ऑप्शन है वह यही होता है कि आप खाने के टाइम पर बच्चे को तभी लेकर बैठे जब सभी घर के बाकी मेंबर्स भी खा रहे हो कुछ टाइम लगेगा आपको पेशेंस रखना होगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा कुछ खेत नही है क्या करु
उत्तर: hello डियर ,,,बच्चों की खाना na खाने की समस्या बहुत ही नॉर्मल है आप बेबी को खाना खिलाने के लिए उसे कहानी कविता या उसके मनपसंद चीजें दिखा कर अपनी बातों में लगाकर बहला-फुसलाकर थोड़ा-थोड़ा खिलाने की कोशिश कीजिए| बेबी को एक ही तरह के खाने ना खिलाए इससे बच्चे बोर हो जाते हैं | बेबी की पसंद का हेल्दी फूड आफ बना सकती हैं जैसे वेजिटेबल चीला वेजिटेबल दोसा वेजिटेबल उपमा आदि बेबी को दे सकती हैं | बेबी को जबरदस्ती खिलाने का प्रयास ना इससे बच्चे खाने में और भी ज्यादा झिझकने लगते हैं बेबी को मछली ,अंडे ,हरी पत्तेदार सब्जियां ,फुल क्रीम वाला दूध पनीर ड्राई फ्रूट्स पाउडर फ्रूट जूस , एप्पल शेक ,बनाना शेक आदि दे सकती हैं जिससे की बेबी की लंबाई और वेट में भी बढ़ेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें