4 months old baby

Question: मेरा बेटा कभी कभी हरे रंग की पोट्टी करता है ? क्या करु ?

सवाल
Answer: ब्रेअस्टफ़ीफ़ करने वाले बच्चों में कभी-कभार ग्रीन स्टूल आना काफी सामान्य है, यदि बच्चे का वजन बढ़ रहा है और उसका विकास सही हो रहा है तो चिंता की कोई बात नहीं होती यदि आप बेबी को एक निश्चित समय तक दूध पिलाकर ब्रेअस्टफ़ीफ़ करवाना बंद कर देती हैं, तो हो सकता है कि बेबी को वसा युक्त दूध न मिल पाए ब्रेस्ट फिट करते समय शुरुआत का दूध ज्यादा पी लेने की वजह से बच्चों की potty का कलर ग्रीन हो जाता है, ग्रीन potty हो जाने का मतलब है कि बच्चों को बीच का न्यूट्रिशन वाला दूध नहीं मिल रहा है. कोशिश करें कि बच्चे को एक ही साइड के breast से ज्यादा देर तक दूध पिलाएं ताकि बच्चे को आखिर तक का गाढ़ा दूध मिल सके, अगर बच्चा ज्यादा देर तक दूध नहीं देता है तब आप दूध पिलाने से पहले शुरू का दूध थोड़ा निकाल दें जो पानी की तरह होता है , ताकि बच्चे को बीच का अच्छा गाड़ा दूध मिल सकें.
Answer: 6 महीने से छोटे बच्चे में अगर हरी पोटी हो तो घबराने की कोई बात नहीं है , छोटे बच्चों में होने वाली हरी पॉटी का सिर्फ एक ही कारण है वह है मां के दूध का शुरुआती हिस्सा पीना . मां के दूध के शुरुआती हिस्से में पानी की मात्रा ज्यादा रहती है जिससे बच्चों की प्यास बुझती है, पर कभी-कभी बच्चे सिर्फ शुरूआती हिस्सा पी लेते हैं जिसकी वजह से उनको न्यूट्रिशन कम मिलता है और पोटी का कलर हरा हो जाता है ,इसलिए आप कोशिश कीजिए कि बच्चे को एक साइड से अच्छी तरह से दूध पिलाएं ,अगर आपका बच्चा जल्दी दूध पीकर छोड़ देता है तो आप अपने दूध का शुरुआती हिस्सा निकाल सकते हैं ताकि बच्चे को बीच का दूध मिले जो कि बच्चे के लिए बहुत ही अच्छा है जिससे बच्चे का वजन बढ़ेगा और और पोटी का कलर मस्टर्ड येलो कलर का होगा
Answer: हेलो गलत तरीके से दूध पिलाने से ये प्रॉब्लम आती है। दूध पिलाते समय आप सबसे पहले एक ब्रेस्ट के दूध को पिलाएं 20 मिनट के बाद अब दूसरे साइड के ब्रेस्ट से पिलाये ब्रेस्ट में ऊपर ऊपर का दूध पतला होता है और अंदर का दूध गाढ़ा होता है पतले दूध को पीने से बच्चे की प्यास बुझती है और गाढ़ा दूध को पीने से बच्चे की भूख मिटती है ऊपर ऊपर का दूध पीला देने से बच्चे को बार बार भूख लगती है और बच्चा उस दूध को पीने से झाग वाली पॉटी, ग्रीन पॉटी,छिछड़ा पॉटी,या बार बार पॉटी करता है।
  • avatar
    chetna jalaj pasoli119 days ago

    मेरी बेबी का 4 मंथ चल रहा है दिन से वो ese ही potty कर rahi है डिन मि 8_10 टाइम टु क्या प्रॉब्लम हो सकती है

  • avatar
    Kiran Singh119 days ago

    बच्चा जब तक मां के दूध पर डिपेंड है तब तक १ दिन में 10 बार पार्टी करें या 10 दिन में एक बार पॉटी करें नॉर्मल है

Answer: हेलो डीयर वैसे हरा मल बहुत common होता है बेबी मे। ये कई कारणो से होता है है जैसे-- बेबी को सर्दी हो। बेबी मदर फ़ीड पर हो और मदर ने कुछ हरा खाया हो। बेबी को infection या डायरिया हो। बेबी को digestion issue हो। आप ध्यान दे क्या बेबी को पेट मे दर्द है या मल मे बहुत ज्यादा अजीब smell है तो digestion की दिक्कत हो सकती है। इस condition मे डॉक्टर को दिखाएं।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेटा हरी रंग की पोटी करता है क्या करु
उत्तर: बच्चा कोई भी गंदी चीज जैसे कि खिलौना या गंदे हाथ मुंह में ना डालें . अगर आप अपने बच्चे को दूध की बोतल दे रहे हैं तो ध्यान रखें कि आप उस बोतल को अच्छे से साफ करें. आप बच्चे को साबूदाने का पानी दे चावल का पानी दे बेबी के पास ग्रीन स्टूल रखे बेबी को जायफल का पाउडर अपने दूध में मिला कर दे बेबी की नाभी में हींग को गुनगुने पानी मे भिगो कर लगाए बेबी की पॉटी को ग्रीन घास पर देखिये देखिये ग्रीन पॉटी सर्दी जुखाम से भी होती है तो आप बेबी की ध्यान दे को उसे सर्दी जुखाम तो नहीं ह मुझे आशा है कि मेरी युक्तियां आपकी मदद करेंगी .... ध्यान रखें ..
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा ४महीने का है वो हरे रग की पोटी करता हे क्या करु
उत्तर: छोटे बच्चों के साथ ऐसा बहुत ही नॉर्मल है. 6 महीने तक आप उनकी पार्टी के रंग में परिवर्तन देखेंगे इससे आप परेशान ना हो| नवजात में पॉटी के रंग में बदलाव का कारण लैक्टोज होता है, क्योंकि, इस समय शिशु का शरीर दूध से मिलने wale लैक्टोज (दुग्ध शर्करा) को अच्छे से पचा नहीं pata. जिस कारण उसके पेट में सामान्य से अधिक गैस और पानी तैयार होने लगता है, जो हरे या काले रंग के पॉटी के रूप में सामने आता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा 3 महीने का है वो पानी की तरह हरे रंग की पोटी कर रहा है मै क्या करु
उत्तर: हेलो गलत तरीके से दूध पिलाने से ये पॉटी की प्रॉब्लम आती है। दूध पिलाते समय आप सबसे पहले एक ब्रेस्ट के दूध को पिलाएं 20 मिनट के बाद अब दूसरे साइड के ब्रेस्ट से पिलाये ब्रेस्ट में ऊपर ऊपर का दूध पतला होता है और अंदर का दूध गाढ़ा होता है पतले दूध को पीने से बच्चे की प्यास बुझती है और गाढ़ा दूध को पीने से बच्चे की भूख मिटती है ऊपर ऊपर का दूध पीला देने से बच्चे को बार बार भूख लगती है और बच्चा उस दूध को पीने से झाग वाली पॉटी, ग्रीन पॉटी,छिछड़ा पॉटी ,ड्राई,या बार बार पॉटी करता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें