गर्भावस्था की तैयारी

Question: मेरा प्रेगनेन्सी ट्रीट्मेंट चालू है मुझे पेरिय्ड्स 12th feb कों आया था लेकिन अभी से मेरा पैर और कमर थोड़ा थोड़ा पेन de रहा है क्या karan hai

1 Answers
सवाल
Answer: dear its normal ab ye pain end tak rahega dont worry
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा 9 खतम हाॅन को आया है ऑर मुझे डू डिन से थोड़ा थोड़ा दरद होरा ठा लेकिन अभी नही हो रहा टी मुझे क्या कर्ण chahiye
उत्तर: aap ko dr.ko dikha dena chaiye kbhi delivery k chance ho or baby movement ka dhiyan rkhna
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: में रा लास्ट पीरियड 1अप्रेल को आया था प्रेग्नेंसी टेस्ट भी पॉज़िटिव है पर मेरे कमर और पैर मे दर्द होता है क्या ये नोरमल है ???
उत्तर: हेलो डियर इस दौरान पीठ में दर्द होना बहुत आम है. एक ही अवस्था में बहुत देर तक बैठने या खड़ी होने से बचें बाल्म लगाकर गरम पानी से सिकाई कर लिजिए। हल्का काम ओर थोड़ा बहुत घुमने भी जाइए। केल्शियम कि टेबलेट जो डॉक्टर ने दि हैं वो लिजिए समय पर। प्रेग्नेंसी में ऐसा होता है। गर्म पानी से सिकाई करें। रात को सोते समय पैरों के नीचे तकिया लगाकर सोये। डियर प्रेगनेंसी में पैरों तक पर्याप्त रक्त संचार न हो पाने के कारण उसमें ऑक्सीजन की कमी से पैर दर्द होने लगता है। यह घुटनों, और पैरों की उँगलियों में भी होता है। कभी कभी पैर सुन्न पड़ सकता है।बदलते हॉर्मोन्स लेवल से पैरों में दर्द होता है। जैसे गर्भाशय का आकार बढ़ता है उस प्रकार बदन की निचली मांसपेशियां ढीली पड़ने लगती हैं। इस कारण महिलाओं में पैर दर्द होता है। बढ़ते वज़न के कारण उसकी पैरों की हड्डी पर प्रभाव पड़ता है जिससे मांसपेशियों और पैरों में दर्द होता है। पैरों के दर्द से बचने के लिए पैर की उँगलियों को हलके हाथ से दबाएं। साथ ही गुनगुने तेल से मालिश करें! यह धीरे धीरे बेहतर परिणाम देगा। गर्भावस्था में ऊँची हील की सैंडल न पहनें। आरामदायम फ्लैट्स और ढीली चप्पलें पहनें। इनसे भी आपके पैरों और एड़ियों को आराम मिलेगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो डॉक्टर !मुझे लास्ट पिरियड 14 फ़ेब कों आया था और मैंने अभी चेक किया तो प्रेगनेंसी पॉजिटिव आया है तो अभी मेरा कोन्सा वीक चल रहा है .
उत्तर: डिअर अभी आप 4हफ्ते प्रेग्नेंट हैं और आपकी देय डेट 21 november है आप हेअल्थी डाइट लेतेरहे ताकि बेबी बहुतेअलथी साथ ही खुब्ब पानी पिए अपना धायण रखे आल थे बेस्ट :)लकभग 80% बच्चे ज़्यादातर अपने डीयू डेट से 2 हफ्ते पहले या 2 हफ्ते बाद जन्म लेते हैं| इसका मतलब ये होता है की आपको डॉक्टर के द्वारा बोले गए डीयू डेट से 2 हफ्ते पहले से ही तैयार रहना चाहिए, डीयू डेट अधिकतर आपके पीरियड्स की आखरी तारिख के 40 दिन शुरू होने पर तय किया जाता है|
»सभी उत्तरों को पढ़ें