Planning for pregnancy

Question: मेरा पिरियड 24 ऑक्टोबर को था तो मेरा ओवुलेशन कब आएगा

सवाल
Answer: डेट btaiye
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: 24 jan को पिरियड आया था टु ओवुलेशन डेट कब आएगा प्लीज़ maam bataiye
उत्तर: पीरियड शुरू होने से लेकर १४ डे के आसपास ओवूलूशन होता है. ओवूलूशन होने के २ दिन पहले और ओवूलूशन होने के २-३ दिन के बीच यदि संभोग किया जायें तो प्रेग्रेन्सी होने का चांस होता है. मीन्स पूरी साइकिल में ८ से १८ डेज मोस्ट फर्टाइल पिरियड होते है , इस हिसाब से आपका फर्टाइल पीरियड १ फेब्रुअरी से १० फेब्रुअरी है.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी पिरियड 24 november को था अगला ओवुलेशन कब होगी
उत्तर: हेलो डियर, आप अगर प्रेग्नेंट होना चाहती है तो ज्यादातर लोगों का पीरियड 28 दिन का है तो आप अपने पीरियड के 14 दिन पहले जो समय होता है वह ओवुलेशन डे होता है इसमें आपके अंडाणु 12 से 24 घंटे तक जीवित रहते हैं जो कि फलोपियन ट्यूब में अंडा आ जाता है इस दौरान शुक्राणु और अंडाणु का मिलन जब होता है तो प्रेग्नेंसी के चांसेस बढ़ सकते हैं इस तरह आप प्रेग्नेंट हो सकती है लेकिन अगर आप का पीरियड अनियमित है तो इसमें ओवुलेशन डे का अच्छे से पता नहीं चल पाता है और अच्छे से प्रेगनेंसी नहीं हो पाती है इसलिए पीरियड का नियमित होना बहुत ही जरूरी होता है प्रेग्नेंट होने के लिए!
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा पिरियड इस महिने 8 सेप्टेम्बर को आया था मेरा ओवुलेशन पिरियड कब शुरू होगा
उत्तर: Ovulation day अगर आप का पीरियड का cycle 28 से 30 दिनों का है तो आपके पीरियड के पहले दिन को ginte हुए 14वें din होना चाहिए उस हिसाब से अगर आप का पीरियड का पहला दिन 8 sep को है तो आपका ovulation डे 21 sep को होना चाहिए।अगर आपका पीरियड रेग्युलर है और 28 से 30 दिनों का साइकल है तो, आप अपने पीरियड के 11से 22दिन के बिच जरूर कोशिश करे क्युकी हमारा एग ज्यादातर पीरियड के 14 दिन को ovulate होता है, और वह हमारे योनि में सिर्फ 24 घंटे से 48 घंटे ही जीवित रहता है। इसी बीच अगर कोशिश करे तो आपके Pregnancy के चांस बढ़ जाते हैं।पुरुषो के शुक्राणु महिलाओँ की योनि में ३ से ४ दिन जीवित रह सकते हैं।इस्लिय ओवुलेशन के २ से ३ दिन पहले और बाद में भी कोशिश करनी चहिय।। इन सब के अलावा आप खाने में बैलेंस डाइट लीजिए सही मात्रा मे प्रोटीन काबोहैड्रेट और विटामिन से भरपूर खाना लीजिए तनाव से दूर रहिए यह सबसे ज्यादा जरूरी है। हल्कि एक्सेरसिस योग मैडिटेशन हल्की वाकिंग कीजिए अपना वजन कंट्रोल में रखिए ।जयादा एक्सेरशन ना करे। भारी सामान ना उठे। जयादा सीधी न चढ़े उतरे । आप चाय कॉफी का सेवन कम कीजिए और सॉफ्ट ड्रिंक अल्कोहल से दूर रहिए बॉडी को हिट करने वाले खाद्य पदार्थ थोड़ा अवॉइड कीजिए नहीं लीजिए जैसे पपीता अनानास तिल तिल के लड्डू गुड़ आप आम बैगन भी कम लीजिए. हप्पी रहे और पौष्टिक अहार ले। आप अपने खाने-पीने में खास ध्यान रखिए और संतुलित आहार लीजिए खाने में प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट ज्यादा लीजिए आप हल्का फैट वाला खाना भी खा सकती हैं जो आसानी से पचने वाला हो। आप अपने खाने में हरी पत्तेदार सब्जियां दाल चावल रोटी ग्रीन वेजिटेबल्स दूध अंडा यह सब ऐड कीजिए दिन में कम से कम दो से तीन फल खाने की कोशिश कीजिए फलों का जूस और तरल पदार्थ लेते रहिए। ओर सबसे जरुरी खुश रहिय।पॉज़िटिव थिंकिंग रखिये...आपको जरूर फायदा होगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें