38 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मेरा अभी नोवा महीन छाल रहा है मुझे डॉक्टर ने कह है की बचे के गेल मि नाडु है ऑर bache का सर निचे नही आ रहा इसलिए सी सेक्शन डिलिवरी करनी पड़ेगी mere पहले भि एक बेटी है ऑर वो नॉर्मल हाइ थी मेन क्या करु प्लीज़ मुझे बँटायें

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा 8 मंथ छाल रहा है मेरे बचे का सर निचे की तरफ़ आ गया है ऑर वेट भि बास 1.8 बाटा रहा है क्या ये सही है
उत्तर: जी हां. ये बिलकुल सही है. आप पोष्टिक खाना पीना लेते रहे और अपने आपको खुश और एक्टिव रखे.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: सी सेक्शन डिलिवरी के बाद पेट लटक ज्ञा है ऑर पहले से जयाद मोटा dhikahyi डट है अभी मुझे 2 महीन 15 दिन हुए hai
उत्तर: hello मेथी के बीज वेट पेट कम करने में काफी मददगार होते हैं. साथ ही यह महिलाओं में हार्मोन को संतुलित रख कर वेट पेट कम करते हैं. रात के समय में 1 चम्मच मेथी के बीजों को 1 ग्लास पानी में उबालें. पानी को हल्का गुनगुना होने पर पीएं. पेट जल्दी कम हो जाएगा. बच्चे को ब्रेस्ट फीड जरूर कराएं. ।इससे बॉडी में मौजूद फैट सेल्स और कैलोरीज दोनों मिलकर दूध बनाने का का काम करते हैं. जिससे बिना कुछ करे ही वजन कम हो जाता है. डिलीवरी के बाद पीने के लिए सिर्फ गर्म पानी का ही इस्तेमाल करें. क्योंकि गर्म पानी ना केवल पेट कम करता है बल्कि यह शरीर को मोटा होने से भी बचाता है. अपने पेट को किसी गर्म कपड़े या एब्डोमिनल बेल्ट की मदद से लपेट कर रखें. यह पेट को सामान्य आकार में लाने का काम करता है साथ ही इससे डिलीवरी के बाद पीठ के दर्द में भी आराम मिलता है. दालचीनी और लौंग बहुत कारगार साबित होते हैं. इसके लिए 2-3 लौंग और और आधा चम्मच दालचीनी को उबाल कर उसके पानी को ठंडा करके पीएं. जल्द ही वेट पेट कम हो जाएगा. ग्रीन टी एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होती है. इससे बच्चे और मां की सेहत को कोई नुकसान भी नहीं पहुंचता है और वजन भी कम हो जाता है. 
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा 9 मंथ छाल रहा है मेरा रात से बी.पी. हाइ है आब भि 143/93 है पी.एल.एस. बँटायें मुझे क्या कर्ण चाहिये
उत्तर: हेलो डियर गर्भावस्था के दौरान बीपी बढ़ने पर आपको कुछ सावधानियां रखने की आवश्यकता होती है गर्भावस्था के दौरान हाई बीपी की स्थिति में आप को अधिक से अधिक आराम करना चाहिए और भोजन में नमक की मात्रा कम ले नमक की जगह पर आप सेंधा नमक डॉक्टर से पूछ कर उपयोग कर सकते हैं हाई बीपी की स्थिति में मलाईदार दूध मक्खन घी तेल नॉनवेज फास्ट फूड डिब्बाबंद खाना ज्यादा तेल घी मसाला का उपयोग ना करें गर्भवती महिलाओं को भोजन में सब्जियों का अधिक प्रयोग करना चाहिए जैसे पालक गोभी बथुआ लौकी तरोई परवल सजन कद्दू टिंडा नींबू आदि सब्जियों को खाने में शामिल करने के साथ-साथ आप फलों में अनार मौसंबी संतरा अमरूद आदि ले सकती हैं क्योंकि यह सब ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है बीपी को कंट्रोल करने के लिए आपको सुबह शाम टहलना चाहिए और अल्कोहल धूम्रपान चाय कॉफी से दूर रहना चाहिए और लगातार डॉक्टर के संपर्क में बने रहे डॉक्टर के कहे अनुसार चेकअप करवाते रहे
»सभी उत्तरों को पढ़ें