गर्भावस्था की तैयारी

Question: मेम मै आपका जवाब पढ़ नही पायी क्या आप फिर से रिप्लाइ कर सकते हो

1 Answers
सवाल
Answer: hello यहां पर आपका क्वेश्चन शो नहीं हो रहा है कृपया आप अपना क्वेश्चन फिर से पूछे रिप्लाई जरूर मिलेगा
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: hallo मेम mane पहले बी आप से सावल क्या था और अब बी लेकिन कोई जवाब नही आया आप का
उत्तर: यहा सभी मॉम कोशिश करती है की , सब को जवाब मिलें , पर कभी कभी इतने सवाल होते है , की कुछ चूक जाते है , आपको परेशानि हुई उसके लिई माफ़ कीजिए , आप एक बार अपना सवाल फिर पूछें , मै कोशिश करूँगी की आपको जल्दी जवाब दूँ . आप अपना सवाल मेरे कमेंट बॉक्स में या फिर दुबारा पूछे... मैं आपका सवाल का जवाब जल्द से जल्द देने की कोशिश करूंगी। ज्यादातर mom येही कोशिश करते हैं कि, आपको आपके सवालों का जवाब जल्दी से जल्दी कुछ समय में ही मिल जाए। लेकिन बहुत ज्यादा क्वेश्चन होने के कारण कभी-कभी इसमें लेट भी हो जाता है। लेकिन आप घबराइए नहीं, अगर आपको ऐसा लगता है कि, आपके क्वेश्चन का आंसर नहीं मिल रहा है तो आप दोबारा अपना क्वेश्चन पोस्ट कर दीजिए। जिससे जल्द से जल्द आपको आपका आंसर मिलेगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मै 9 वीक से प्रेगनेंट हूँ तो क्या इस समय सेक्स कर सकते है या फिर कब कर सकते है
उत्तर: हेलों आप 9 वीक प्रेगनेट है आप अभी सेक्स करना अवोइड करे क्योकी मिसकैरेज के चान्सेस शुरुआत में ज़्यादा होते है अगर आपकी प्रेग्नेसी हेल्थी है और आपको कोई हेल्थ कॉम्प्लिकेशन जैसे बेड रेस्ट मिसकैरेज लो लाइन प्लेसेन्टा ब्लीडिंग नही है तो आप डॉक्टर की सलाह ले कर सेक्स कर सकती है सेक्स के लिए 6 से 8 मंथ के बीच का समय बेहतर होता है .सेक्स करते टाइम पोजिशन का धयान रखें ताकि एक्स्ट्रा वेट आपके पेट के ऊपर ना पड़ें और पेट में किसी प्रकार का दबाव या खीचाव ना पड़े . सेक्स करते समय इंटिमेट पार्ट क्लीन रखें और प्रॉपर हाइजीन मेन्टेन रखें varna आपको यूरिन इन्फेक्शन की समस्या हो सकती है .सेक्स करते समय कुछ अलग जैसे ब्लीडिंग कोई डिस्चार्ज खुजली दर्द हो तो सेक्स ना करे
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो डॉक्टर! क्या आप मुझे बता सकते हो की ICT क्या है?
उत्तर: ICT को Indirect Coombs test कहा जाता है। इस टेस्ट के जरिये पता चलता है की rh नेगेटिव वाली माँ के शरीर में एंटीबॉडीज बना है या नहीं। नेगेटिव ict टेस्ट के मतलब है की प्रेग्नेंट महिला के शरीर के अंदर अभी कोई भी एंटीबॉडीज नहीं बना है और बच्चा पूरी तरह से सुरक्षित है। उसे कोई नुकसान नहीं है। पॉजिटिव ict टेस्ट के मतलब है की शरीर में एंटीबॉडीज बन चूका है, और Rh-positive वाले बच्चे को खतरा हो सकता है। अगर एंटीबॉडीज बढ़ता रहता है , तो इससे बच्चे को नुकसान भी हो सकता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें