10 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मेम मुझे ब्लड टेस्ट कब करवाना होगा

2 Answers
सवाल
Answer: Lpm date ke 45 din बाद blood test करायें BHCG Test
Answer: आप 8th month मि टेस्ट करवायें
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: टेस्ट कब करवाना चाहिये ब्लड वाला और बी कुछ test
उत्तर: हेलो डिअर , प्रेगनेंसी के शुरुआती समय में जब आपको पता चलता है कि आप प्रेग्नेंट हो गई हैं आपको उसमे पेशाब की जांच खून का एक लेवल की जांच यानी कि हिमोग्लोबिन की कितनी मात्रा है , ब्लड प्रेशर की जांच , आप का वेट कितना है उसकी जांच ,यूरिन टेस्ट ,इस समय डॉक्टर आपको कैल्शियम और आयरन फोलिक एसिड की मेडिसिन सजेस्ट करेंगे और आपको अपनी पूरी प्रेगनेंसी कॉल में कैसे रहना है वह आपको जीवन शैली बताएंगे इसलिए आप परेशान ना हो आपकी यह सारे टेस्ट प्रेगनेंसी के पहले तिमाही में हो जाती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे अब अल्ट्रसाउंड कब करवाना होगा
उत्तर: हेलो डियर ​नियमित होने वाले अल्ट्रासाउंड में आमतौर पर निम्नांकित स्कैन शामिल होते हैं: छह और नौ सप्ताह के बीच डेटिंड व वायबिलिटी scan 11 और 13 सप्ताह के बीच न्यूकल ट्रांसलुसेंसी स्कैन, जिसे कई बार अर्ली मॉर्फोलॉजी स्कैन भी कहा जाता है। 18 और 20 सप्ताह के बीच एनॉमली स्कैन (अल्ट्रासाउंड लेवल II) भ्रूण के विकास (ग्रोथ स्कैन) और उसकी सेहत (फीटल वेलबींग) के बारे में जानने के लिए 28 और 32 सप्ताह के बीच स्कैन 36 और 40 सताह के बीच ग्रोथ स्कैन और कलर डॉप्लर स्कैन बाकी हर किसी की प्रेगनेंसी अलग होती है किसी किसी को ज्यादा बार भी अल्ट्रासाउंड करवाना पड़ जाता है इसलिए डियर आप के डॉक्टर आपको जब भी अल्ट्रासाउंड के लिए बुलाए आप जरूर करवाएं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो मेम मुझे अब अल्ट्रासाउंड कब करवाना चाहिए
उत्तर: hello आप 35 वीक के बाद कभी भी डॉक्टर की सलाह से अल्ट्रासाउंड करवा सकती हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो डॉक्टर! प्लीज़ मुझे बताएं की पूरी प्रेगनेंसी में मुझे कितनी बार अल्ट्रासाउंड करवाना पड़ेगा?
उत्तर: सभी लोगो की शारीरिक समस्या एक जैसी नहीं होती हैं। सभी लोगो की अपनी-अपनी समस्या होती है। वैसे नॉर्मली पहली तिमाही में पहला स्कैन किया जाता है जो पांचवे से आठवें सप्ताह के बीच में किया जाता है। इस स्कैन के द्वारा बच्चे की धड़कन की जाँच की जाती हैं और उसके विकास के बारे में पता लगाया जाता है। दूसरी स्कैन 11 वें से 13वें सप्ताह के बीच में किया जाता है। इसे NT स्कैन में भी कहा जाता है, बच्चे में अगर कोई एब्नॉर्मलिटी है तो इस स्कैन से पता लग जाता है। तीसरा स्कैन 18 वें से 21 वें सप्ताह के बीच किया जाता है, इसे अनोमली (anomaly scan) कहा जाता है। इस स्कैन के जरिये बच्चे की पूरी शारीरिक जांच जैसे किडनी, हाथ, चेहरा, प्लेसेंटल पोजीशन(placental position), एमनीओटिक फ्लूइड(amniotic fluid) के बारे में पता लगाया जाता है। चौथा स्कैन 32 वीक के आस-पास किया जाता है, जिसमे बच्चे की हरकत के साथ-साथ उसके शारीरिक और मानसिक विकास को ट्रैक किया जाता है। इसके अलावा हो सकता है की आपको fetal echocardiography के अलावा तीसरी तिमाही में और भी स्कैन करवाने पड़े।
»सभी उत्तरों को पढ़ें