7 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मेडम मेरी पहली बेटी बहुत परेशानी से हुई थी जो 7.5month की मुझे ब्लड प्रेशर के कारण थी क्या आगे भि ऐसा हो सकता हा

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर बिल्कुल भी ऐसा जरूरी नहीं है यदि आप की पहली प्रेग्नेंसी में बीपी हाई रहा है तो इस बार भी हो आप पहले से ही बीपी को कंट्रोल में रखें अधिक नमक खाना खराब होता है नमक को अवॉइड करें तमिल नमक वाला खाना खाएं दिन भर में पर्याप्त मात्रा में तरल लेने की आदत डालें क्योंकि रक्तचाप कम करने के लिये यह सबसे अच्छी आदत है। आप नमक या शर्करा रहित फलों तथा सब्जियों के रसों को ले सकते हैं। लहसुन धमनियों की थकान को कम करता है, हृदय के दर को नियन्त्रित करता है और धड़कन को कम करता है जिससे कि रक्तचाप कम हो जाता है। टहलनें से कई स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्यायें दूर हो सकती हैं, खासतौर से उच्च रक्तचाप। जब आप टहलें तो गहरी साँस लेकर छोड़ें। छोटे-छोटे कदम लें और सकारात्मक चीजें सोचें जिससे कि आपका उच्च रक्तचाप कम हो जायेगा।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी पहली डिलिवरी ओप्रेशिओन से हुई थी जो की बेटी थी क्या मेरी दूसरा बेबी नॉर्मल हो सकता h
उत्तर: हां डियर बिल्कुल हो सकता है पर इसके लिए कुछ बातों का ध्यान आपको जरूर रखना होगा जैसे नियमित पौष्टिक आहार लेना, रोज 10 से 12 गिलास पानी पीना, नियमित टहलना और डॉक्टर की सलाह से रोज एक्सरसाइज करना अगर इन बातों का ध्यान आप रखती हैं तो नॉर्मल डिलीवरी होने की हंड्रेड परसेंट चांस होते हैं.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी पहली डिलिवरी सअसेृअन हुई थी टॅब मुझे ब्लड प्रेशर की प्रॉब्लम थी बी.पी. हाइ की वजह से डॉक्टर ने सीसेर किया ठा लेकिन उसके 4
उत्तर: हेलो डिअर, कृपया आप अपना प्रश्न अधूरा ना करे इसे पूरा करे , ताकि आपके प्रश्नों का जवाब हम सब माम् मिलकर अच्छी तरके से दे सके ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी पहली बेटी 8 इयर्स की है जो प्रीमैच्योर हुई थी क्या 2 भी हो सकता है मुझे लो लाइन प्लैसेन्टा hai
उत्तर: हेलो डियर , आपकी अगर पहली डिलिवरी में आपकी बेबी प्रि machure थी और इस बार भी अगर प्रेग्नेन्सी में लो लाइन प्लेसेंटा है तो ऐसे में आपको डॉक्टर jaisa ऍड्वाइज करे आपको वैसे ही रहना चाहिये , क्युकी लो लाइन प्लेसेंटा में डिलिवरी समय से पहले भी हो सकती है , इसलिए इसमें कोई भी लापरवाहि नही करनी चाहिये , हालंकि प्लेसता का नीचे होना कॉमन होता है ये दूसरी तिमाही के लास्ट या तीसरी तिमाही तक प्लेसता ऊपर आ जाता है , ऐसे में टेशन न ले, ऐसी कंडीशन में नॉमल डिलीवरी हो सकती है, लेकिन प्लेसता अगर ऊपर नही आता है और ब्लीडिंग भी हो जाए तो ऐसी कंडीशन में डॉक्टर completely बेड रेस्ट करने को सलाह देते हैं , ऐसे भारी सामान नही उठाना चाहिए , भारी काम न करे और सीढ़ियों पर न चढ़े , ऐसे में डिलीवरी ऑपरेशन से ही होती हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें