23 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मेडम मेरा सिक्स्थ मंथ स्टार्ट हुआ ह सेकण्ड sonografhy में मेरा बेबी डॉक्टर ने उलटा बताया है क्या नाइन्थ मंथ तक बेबी अपनी राइट पोजिशन में आ jayega ऑर इसके लाइए मुझे कोन्सी पोजिशन मि सोना chiye

1 Answers
सवाल
Answer: Aapko left side sona chiye 9month tak baby aapin sahi jaga par aajayega
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेम मेरा बेबी डॉक्टर ने उलटा बताया है इसे सही पोजिशन में लाने के लिए क्या करु plz answer
उत्तर: हेलो डियर आप परेशान मत होइए ।अभी आपका सातवां महीना चल रहा है । बच्चा अपनी मूवमेंट के द्वारा पोजिशंस को बदलता रहता है इसलिए अभी आपके पास समय है । बेबी का उल्टा होना ब्रीच पोजीशन कहलाती है इस पोजीशन में जब आपका बच्चा होता है तो वह सिर्फ अपने मोमेंट के द्वारा ही अपनी स्थिति को बदल सकता है और अगर आपका बेबी अपनी मोमेंट्स को बदल लेता है तो जरूरी नहीं है कि आपको सिजेरियन ही करवाना पड़ेगा आपकी नार्मल डिलीवरी भी हो सकती है इसीलिए आप घबराएं नहीं और अपनी बेबी की मूवमेंट पर ध्यान रखें ।आप संतुलित और पौष्टिक भोजन कीजिए। तनावमुक्त रहिए और ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पीजिए और खुश रहने की कोशिश कीजिए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा 6 मंथ चल रहा हि ऑर अल्ट्रसाउंड कराने पे डॉक्टर ने कह बेबी उलटा हे में क्या करु की बेबी की सही पोजिशन आ जायें
उत्तर: हेलो डियर ऐसा होता है बेबी उलट है मतलब बच्चे का सर ऊपर है और पैर नीचे ऐसी सिचुएशन को ब्रीच पोजिशन कहते है ब्रीच पोजीशन की डिलीवरी में शिशु का सर आखरी में निकला जाता है। इस कारन उसको निकालने में दिक्कतें आती है। ऐसे में कभी कभी अम्बिलिकल कॉर्ड गले में लपट जाती तब डॉक्टर सी सेक्शन से डिलिवरी करवाते है . कभी कभी समय आने पर बच्चे अपनी सही पोजिशन में आ जाते है बच्चे अन्दर मूव करते रहते है आप घबराये ना पॉजिटिव रहें सब अच्छा होगा आप अपना हेल्थी डायट लेती रहें और pani खूब पीये स्ट्रेस ना ले
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा 8 मंथ स्टार्ट हुआ है अल्ट्रा साउंड रिपोर्ट मि बेबी ब्रीच पोजिशन में ह तों मेरा डिलिवरी नॉर्मल hoga
उत्तर: ऐसे बहुत ही कम होता है कि बच्चे का सिर ऊपर हो और पैर नीचे हो इस पोजीशन को ब्रीच पोजीशन कहते हैं यह पोजीशन डिलीवरी के लिए safe नहीं होती है इस पोजीशन में से सर अटकने का खतरा बना रहता है इसमें बच्चे को ऑक्सीजन की कमी का भी खतरा होता है बच्चे की गर्भनाल पर भी दबाव पड़ता है जिससे ऑक्सीजन बंद हो जाती है ऐसी पोजीशन में ही सिजेरियन की एडवाइज दी जाती है ऐसा नहीं है कि इसमें नॉर्मल डिलीवरी नहीं हो सकती है पर बच्चे का सर शुरुआत में बड़ा होता है और धड़ छोटा होता है इसलिए डिलीवरी के दौरान अनहोनी से बचने के लिए सर्जरी की सलाह दी जाती है
»सभी उत्तरों को पढ़ें