38 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मेकर बेच क्या कर honga

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: एन.टी. स्कैन टेस्ट ,डूअल मेकर टेस्ट क्या hai
उत्तर: hello dear एनटी स्कैन आमतौर पर बच्चे को जन्म देने से पहले कराया जाता है। हालांकि यह प्रेग्नेंट महिला की इच्छा पर निर्भर करता है कि वह एनटी स्कैन करवाना चाहती है या नहीं। NT स्कैन के द्वारा बच्चे के स्वास्थ्य जैसे एनीमिया, हृदय में समस्या सहित बच्चे में डाउन सिंड्रोम के भी लक्षणों का पता लगाया जा सकता है। यह स्कैन प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में कराया जा सकता है। Double Marker टेस्ट प्रसव पूर्व किया जाने वाला स्क्रीनिंग टेस्ट है जो गर्भावस्था के पहले तिमाही में किया जाता है। यह आपके भ्रूण में होने वाले क्रोमोसोमल विषमता की संभावना का आकलन करने के लिए किया जाता है। यह इस बात का भी पता लगाने में मदद करता है कि आपके होने वाले बच्चे को डाउन सिंड्रोम या trisomy18 जैसी कोई बीमारी तो नही है जो मूल रूप से क्रोमोसोमल विकारों से होती हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: क्या कर रह हो बेच जी
उत्तर: Hello! आपका शिशु अब एक बड़े खरबूजे जितना भारी हो गया है, लगभग 2.4 किलोग्राम। उसकी लंबाई करीबन 46.2 सें.मी. (18.2 इंच) हो गई है। अगले कुछ हफ्तों में उसका प्रतिदिन करीब 28 ग्राम वजन बढ़ेगा। संभव है कि आप केवल अपने पेट को देखकर ही यह बता पाएं कि शिशु किस तरह की हलचल कर रहा है। गर्भ में शिशु किस अवस्था में है, इस आधार पर आप शिशु के उलटने-पलटने पर उसका उतार-चढ़ाव देख सकेंगी या फिर हिचकियां आने पर आप लयबद्ध हरकत महसूस कर सकती हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: ये दोबेल मेकर टेस्ट क्या होता है सर
उत्तर: Hello डबल मार्कर टेस्ट फर्स्ट ट्राइमेस्टर में डिलीवरी से पहले किया जाता है यह आपके fetal me होने वाले क्रोमोसोम की कमी की संभावनाओं को चेक करता है .यह इस बात का भी पता लगाता है कि आपके बच्चे को डाउन सिंड्रोम Aur Trisomy 18 जैसी कोई बीमारी तो नहीं होने वाली जो कि क्रोमोसोमl डिसऑर्डर के कारण होती है. यह प्रॉब्लम बच्चे में brain प्रॉब्लम्स को भी ला सकती है. take care
»सभी उत्तरों को पढ़ें