37 weeks pregnant mother

Question: प्रेग्नेन्सी में बाई तरफ सोने की सलाह दी जाती है .. पर हर बार बाई तरफ़ नही सोया जाता क्युकी बाज़ू थक जाती है तो मै ये पूछना चाहती हु के अगर दाई तरफ़ सोया जायें तो बच्चे को कोई नुक्सान तो नही होगा na

3 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर प्रेगनेंसी में पेट के बल और पीठ के बल नहीं सोना चाहिए इसके अलावा आप दाएं करवट और बाएं करवट दोनों तरफ सो सकते हैं इससे कोई नुकसान नहीं होता है सोने के लिए आप करवट बदल कर भि सो सकती है तकिए लगाकर सो सकती है आप आपने टाँग के बीच में तकिये लगाकर सो सकती है इसस आपको आराम मिलेगा ऑर नीन्द भि अच्छी आएगी
Answer: hello dear गर्भावस्था के दौरान जरूरी नहीं कि एक ही करवट सोने अब जिस करवट कंफर्ट महसूस करती हैं उस ओर करवट लेकर सो सकती है थोड़ी थोड़ी देर में करवट बदलकर सोए तो आपको ज्यादा आराम मिलेगा बस गर्भावस्था के दौरान पीठ के बल नहीं सुनना चाहिए
Answer: right side sone se baby ko sahi tarike se oxygn or blood nhi mil pata eslye left side se sona chahye
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा 3 महीना चल रहा है में जब भी अस्पताल जाती हु तो हर बार डॉक्टर सोनोग्राफी करते हैं तो क्या बार बार सोनोग्राफी करवाना सही हैं ? इस से बेबी पे कोई असर होगा बार बार सोनोग्राफी से कोई प्रोब्लेम तो नही होगी ना ?
उत्तर: आजकल सोनोग्राफी का बहुत ज्यादा यूज़ हो रहा है प्रेगनेंसी के दौरान पांच सोनोग्राफी करवाना एक साधारण बात है वैसे अभी तक यह प्रूफ नहीं हो पाया है कि सोनोग्राफी से बच्चे को कोई नुकसान होता है इसलिए आपकी डॉक्टर जितने चेकअप करवाना चाहती है वह सुरक्षित ही होता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो डॉक्टर मुझे आपसे कुछ पूछना है मेरा 7 मंथ लगने वाला है क्या प्रेगनेन्सी में बार बार पेट पर हाथ फेरने से बेबी को कोई प्रोबल्म हो सकती है क्या क्युकी मेरा बेबी जब भी हल्की सी muwment करता है में अपने पेट पर हाथ फेरने लगती हूँ इससे बेबी को कोई नुकसान तो नही होगा ना
उत्तर: हेलो डियर ऐसी कोई बात नहीं है आप बिल्कुल अपने पेट पर हाथ लगा सकते हैं और अच्छे से अपनी बेबी की मूमेंट को feel करें यह एक बहुत ही अच्छा एक एहसास होता है मां के लिए इसलिए आप अपनी प्रेगनेंसी को अच्छे से इंजॉय करें बिना किसी टेंशन नहीं है हेल्दी डाइट देते रहें खूब अच्छे से पानी भी है और अपना ख्याल रखें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी एक साल की है .. वो बहुत ज़िद्दी हो गयी है . और अगर उसकी ज़िद ना मानी जायें तो वो मुझसे रुट जाती है . वो इतनी छोटी है की उसे कुछ समझा भी नही सकते . पर उसकी ज़िद से परेशान हो जाते हैं उसकी ये ज़िद को कैसे दूर करे . हर बात में ज़िद करती है . प्लीज़ हेल्प me
उत्तर: बच्चो में ऐसी आदत होती है। जो भी चाहिए होता है उसके लिए ज़िद करते है। नहीं मिलने पर रोने लगते है। पर हम अगर एक बार उनकी ज़िद पूरी क्र दे तो वह हमेशा ही रोकर ज़िद क्र के अपनी मन की केर व लेते है। बाछे को हमेशा बोले तुम गुड बॉय हो या गुड गर्ल हो।। हमेशा बच्चे को बेहेवियर ही बोलिये।। तुम होशियार हो।। समझ दार हो।। बहुत अच्छे बच्चे हो।। बच्चे बहुत सीधे होते है।। भोले होते है।। आप उनकी ज़िद पूरी मात करिये आप उनको बहला लीजिये।। बहुत जल्दी बहलते है बछ।। जब भी ज़िद करे कोई और बात करने लगे उनसे।। बहार कुछ और दिखने लाग। स्टोरी बनाकर बटने लाग।
»सभी उत्तरों को पढ़ें