2 महीने का बच्चा

Question: मुझे हल्का सा बुखार है क्या मै अपने बच्चे को दूध पिला सकती हूँ

1 Answers
सवाल
Answer: हां आप को बुखार है तो आप बच्चे को दूध पिला सकते इसमें किस कोई किस तरह का कोई भी कॉम्प्लिकेशन नहीं है मगर हां अगर आप कोई हार्ड दवाई ले रहे हैं तो आप दूध ना पीला है अगर आप नॉर्मल पर आयुर्वेदिक दवाई वगैरा ले रहा है तो आप इसमें बच्चों को दूध पिला सकते इसमें कोई हर्ज नहीं है क्योंकि अभी जो आपके बच्चे को मारे इसमें वह दूध केला नहीं रह सकता है तो अगर आप दूध नहीं पिएगा तो फिर बच्चा रोएगा इससे आपको भी परेशानी होगी तो इसीलिए अच्छा यही हुआ कि बच्चा को भूखे ना रहने दे और उसको थिक साल के अंतराल में उसको दूध पीला और इसलिए तो सोचे अगर आपको ज्यादा परेशानी है तब डॉक्टर के सलाह से भी दवाई ले सकते हैं और यह आयुर्वेदिक दवाई लेकर भी अब उसे पीट कर आ सकता है इसमें कोई दिक्कत नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मुझे बुखार हो रहा है क्या मैं बच्चे को दूध पिला सकती हूँ l
उत्तर: आप बच्चे को दूध पिला सकते हैं लेकिन आप जल्द से जल्द ठीक होने की कोशिश कीजिए.. बुखार आना नॉर्मल नहीं है बुखार का आना मतलब आपकी बॉडी में किसी प्रकार का इंफेक्शन है। इसलिए आप अपने डॉक्टर से जाकर संपर्क कीजिए जिससे वह आपके बुखार के आने के कारण का पता लगाएंगे। अगर आप को तेज बुखार है तो आप अपने माथे पर गीले कपड़े की पट्टी लगा सकती हैं, जिससे कि आप का टेंपरेचर ज्यादा नहीं बढ़ेगा । अगर बहुत ज्यादा तेज बुखार है तो आप अपने बदन पर भी कपड़े की गीली नैपकिन से पूछकर 1 डिग्री तापमान कम कर सकती हैं । Aap अपना खास ध्यान रखिए पानी ज्यादा मात्रा में पिए और तरल पदार्थ लेते रहिए ।अपने खानपान में भी विशेष ध्यान रखें ताकि आप को कमजोरी na हो...
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे कान खजुरे ने काट लिया है क्या मैं अपने बच्चे को दूध पिला सकती हूँ
उत्तर: अगर आपको कनखजूरे ने काट लिया है तो आप तुरंत ही बच्चे को अपना दूध ना पिलाए थोड़ी देर आराम करने के बाद और कुछ उपचार करने के बाद दो से 3 घंटे बाद आप बच्चे को दूध पिला सकती हैं wah बहुत जहरीला होता है और इसके काटने की वजह से शरीर में ऑक्सीजन की प्रक्रिया धीमी हो जाती है इसका jahar फैलने की वजह से कभी-कभी इंसान की मौत भी हो जाती है इसलिए आप उसके काटने से तुरंत आपको कुछ घरेलू उपचार करने की जरूरत होती है इसलिए मेरी सलाह यही रहेगी कि आप बच्चे को तुरंत दूध ना पिलाए अगर आपको कुछ upayर करने के बाद लग रहा है कि आपके शरीर पूरी तरह से ठीक है तो अब बच्चे को दूध पिला सकती हैं या हो सके तो 1 दिन के लिए आप बच्चे को फार्मूला मिल्क दे सकते हैं 1 दिन के बाद पिलाया तो ज्यादा अच्छा होगाl इसके लिए कोई घरेलू उपचार कर सकती है जैसे अगर आपको कनखजूरा नहीं काटा तो आपको तुरंत उस जगह पर सेंधा नमक भेजना चाहिएl अगर शरीर के किसी भी हिस्से में कनखजूरा चिपक जाता है तो उसमें चीनी पाउडर डालना चाहिए जिससे कि वह शरीर से तुरंत निकल जाए उस जगह पर आपको हल्दी पाउडर और सेंधा नमक को मिलाकर पीस लें इसके बाद इसमें देसी घी मिलाकर उस जगह पर लगा है इसे jagar नहीं फैलेगा इसके साथ-साथ आप उस जगह पर प्याज का रस और लहसुन का रस भी लगाते हैं तो शहर बहुत जल्दी से नहीं चलेगा और उसका जहर खत्म हो जाता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे बुखार है तो मै अपने बेबी को दूध पिला सकती hu
उत्तर: hello अगर आप को बुखार सामान्य है और सर्दी खांसी की वजह यl वायरल फीवर की वजह से हैं तो आप बच्चे को दूध पिला सकते हैं लेकिन अगर बुखार बहुत तेज हो जाए या कोई और कॉम्प्लिकेशंस होने के कारण बुखार आता है तो बच्चे को अपना दूध ना पिलाए ऐसी कंडीशन में बच्चे को फॉर्मूला मिल पिला सकते हैं आप कोई भी मेडिसिन बिना डॉक्टर के सलाह के ना ले बुखार के लिए कुछ होम रेमेडी भी ट्राई कर सकती हैं आप एक चम्मच हल्दी पाउडर एक चम्मच सोंठ पाउडर और आधा चम्मच काली मिर्च पाउडर को एक गिलास पानी में दो चम्मच शक्कर डालकर उबाल है और जब पानी आधा रह जाए तो उसे छोड़ दें और दिन में दो से तीन बार थोड़ी-थोड़ी मात्रा में पीएं इससे बुखार में आराम मिलता है और इम्यूनिटी स्ट्रांग होती है । आप थोड़े से लोगों को 1520 तुलसी के पत्ते और दो गिलास पानी में थोड़ी चाय पत्ती और गुड़ डालकर उबालें और जब यह उबल कर आधा रह जाए तो छानकर दिन में दो से तीन बार पिए। आप इसी तरीके से धनिया की चाय भी बना सकते हैं इससे भी पीने से बुखार में राहत मिलता है थोड़े से मेथी दाने को एक गिलास पानी में रात में भीगा दे और सुबह इसे छानकर इस पानी को दिन में तीन से चार बार पिए। इन सब उपाय में आप कोई एक भी करती हैं तो आपको बुखार से राहत मिलेगा और इसका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे टाइफाइड है क्या मैं अपने बच्चे को दूध पिला सकती हूं
उत्तर: हेलो डियर वैसे बहुत सारी माई टाइफाइड में अपने बच्चों को दूध पिलाती हैं लेकिन कुछ केसेस ऐसे आए हैं जो कि अगर मां को टाइफाइड है तो बच्चे को भी हो गया है तो मैं आपको यह सजेस्ट करुंगी कि एक बार आप अपने डॉक्टर से पूछ लीजिए और अपना प्रॉपर ट्रीटमेंट कराइए टाइफाइड का उबला हुआ पानी पीजिए खूब हरी सब्जियां खाइए खाइए अच्छी डाइट लीजिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें