15 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मुझे 14 हफ्ते हो गये है क्या मैं अण्डे खा सकती hu

1 Answers
सवाल
Answer: hello अंडे में प्रचुर मात्रा में प्रोटीन होता है जो बच्चे के विकास में सहायक होता है इसमें मौजूद ओमेगा 3 ब्रेन पावर बढ़ाता है अंडे खाने से बर्थ डिफेक्ट की प्रॉब्लम कम होती है फ्रिज से बाहर रखे हुए अंडे कभी ना खाएं कच्चा या अधपका अंडा कभी ना खाएं। अगर आप उबले हुए अंडे खा रही हैं तो यह देख ले कि अंडा पूरी तरीके से उबला है कि नहीं। दो से ज्यादा अंडे ना खाएं। अगर आप आमलेट खाना चाहते हैं तो आप अच्छे से पकाकर खाएं। क्योंकि प्रेगनेंसी के दौरान डाइजेस्टिव सिस्टम कमजोर होता है और अंडे को डाइजेस्ट होने में समय लगता है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: हेलो क्या मैं उबले अण्डे खा सकती हूँ ओम्लेट मुझे पसन्द नही है रोज कितने उबले अण्डे खाना उचित रहेगा ...
उत्तर: हेलो डियर आप उबले अण्डे एग खा सकती है एग तो आपके ऑर आपके बच्चे के लिए पुरी तरह सुरक्षित है अण्डे खाने से बेबी के दिमाग का विकास भूत तेजी से होता है लेकिन एग को अच्छी तरह से उबाल कर ही खाए एग काइ पोसक तत्वों का स्रोत होता है इसलिए इसे सुपेरफ़ूद बनाया गया है एग में प्रोटीन की मात्रा सर्वाधिक पाई जाती है ऑर बच्चे की सभी कोशिका प्रोटीन से बनती है मगर आपका वज़न यदि जादा है तो आपको इसे कम मात्रा में खाना चाहिए एक सप्ताह के अधिकतर दीनो में एक या दो एग ही खाना चाहिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: क्या मैं अब अण्डे खा सकती हूँ .......
उत्तर: 3 month app k pure nahe hue hai es lea app egg na khay gram hota hai.bhurji bana kar kha sakti hai lekin jada nahi .3 month hone k baad app acche se paka hua egg ko kha sakti hai liken daily mat khana ..
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे 15 हफ्ते पूरे हो गये है तो क्या मैं तिल के लड्डु खा सकती हूँ और रात मै केसर का milk पी सकती हु क्या अभी से
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी में तिल के लड्डू खा सकते हैं ऐसा माना जाता है कि तिल का लड्डू गर्म होता है जो कि प्रेगनेंसी में हानिकारक हो सकता है लेकिन अभी तक वैज्ञानिक तौर पर इस थी इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है इसलिए आप बहुत ही संतुलित मात्रा में तिल के लड्डू ले सकती हैं तिल के लड्डू में प्रोटीन विटामिन बी विटामिन सी एमिनो एसिड वाह बहुत ही महत्वपूर्ण रूप से आवश्यक तत्व मिनरल्स वायरल भी होते हैं आयरन भी होते हैं जो की बेबी के विकास में बहुत ही सहायक होता है तिल में कैल्शियम की मात्रा अधिक होती है जो प्रेग्नेंसी के दौरान कैल्शियम की पूर्ति करती है दिल में अच्छे बूस्टर पाए जाते हैं जिससे सिंह प्रेगनेंसी के दौरान आपकी मांसपेशियां वह हड्डियों को मजबूती मिलती है लेकिन प्रेग्नेंसी में किसी चीज की अधिकता नुकसानदायक हो सकती है आप सीमित मात्रा में ही तिल का लड्डू राय खा सकती हैं केसर का प्रयोग आप प्रेगनेंसी के दूसरी तिमाही के बाद कर सकते हैं केसर का उपयोग आप सुबह शाम दूध के साथ कर सकते हैं कि केसर को आधा घंटा दूध में डूबा कर रख दीजिए जब kesar ka rag निकल जाए तब आप इसे le सकती है चाहे तो आप इसे ठंडा करके फ्रिज में रख केदीजिए और केशरफिर वाला दूध पीजिए केसर का दूध प्रेगनेंसी में बहुत ही फायदेमंद होता है केसर से पाचन तंत्र ठीक रहता है प्रेगनेंसी के दौरान जो रक्तचाप की समस्या होती है वह केसर के उपयोग से सामान्य स्तर पर बनी रहती है बढ़ेगा नहीं घटेगा लेकिन के सर को खरीदते समय बहुत ही ध्यान रखना चाहिए बाजार में एक प्रकार उपलब्ध नकली केसर उपलब्ध है नकली केसर के प्रयोग से हानि हो सकती है इसलिए असली केसर खरीदें केसर का प्रयोग ध्यान से करना चाहिए प्रेगनेंसी में इसकी अत्यधिक मात्रा नुकसान पहुंचा सकती है इसलिए केवल एक चुटकी के सर का ही प्रयोग करें टेक केयर बाय
»सभी उत्तरों को पढ़ें