9 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मुझे सेकण्ड मंथ है तो क्या मैं ट्रैवलिंग कर सकती हु क्या

6 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर प्रेग्नेंसी के दौरान यात्रा करना उन महिलाओं के लिए हानिकारक हो सकता है, जिन्हें हाई रिस्क प्रेग्नेंसी है या जिन्हें डॉंक्टर ने पूरी तरह से आराम करने की सलाह दी है। इन महिलाओं को यात्रा के दौरान काफी समस्या हो सकती है, जैसे- सफर का लंबा समय, सड़क खराब होना, सफर के दौरान चिकित्सा सुविधाओं का अभाव आदि कुछ ऐसे परेशानियां हैं, जिनसे प्रेग्नेंसी पर असर पड़ता है। •लंबा सफर करने से बचें। •यदि आप ट्रैवल कर भी रहे हैं तो अपने साथ पानी की पूर्ण सुविधा रखें जिससे पानी की कमी न होने पाएं। •कहीं भी जाने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें और डॉक्टर के निर्दशों का पालन करें। •ट्रैवल पर जाते समय डॉक्टर के निर्देशों का पालन करते हुए सभी दवाइयों को अपने साथ रखें और अपने डॉक्टर के पेपर्स और डॉक्टर का नंबर हमेशा अपने साथ रखें। जिससे आपातकालीन में आप उसका उपयोग कर पाएं। •गाड़ी में यात्रा के दौरान खिड़की खोल कर रखें और सीट बेल्ट को पेट के नीचे बांधे। •कार में बहुत ज्यादा सिकुड़ कर न बैठे बल्कि पैर फैलाते हुए ऐसे बैठे जिससे आप आसानी से पैर हिला सकें और ऐंठन या अकड़न होने पर आपको अपना पोस्चर बदलने में दिक्कत न हो। •सीट पर पीछे की तरफ कमर ऐसे टिका कर बैठे जिससे कोई दर्द न हो। •सफर पर जाने से पहले वहां के माहौल और मौसम की पूरी जानकारी ले लें और उसी हिसाब से कपड़े लेकर जाएं। •बहुत ज्यादा फैशन के चक्कर में टाइट कपड़े या फिर हील वाली सैंडल इत्यादि का इस्तेमाल न करें। ट्रैवल के दौरान कोई भी समस्या होने पर अपने मन से कोई दवा न खाए ं अपने डॉक्टर या फिर नजदीकी किसी डॉक्टर से जरूर कसंल्ट कर लें।
Answer: हेलो डियर , प्रेग्नेन्सी में जहा तक हो सकें तो ट्रेवल नही करना चाहिये , क्युकी शुरुआती समय में आपके बेबी के bhurna के बनने का समय होता है इसलिए आपको ऐसे में ट्रेवल करने से धक्का वगैरह लगने की वजह से आपको ब्लीडिंग भी हो सकती है , इसलिए ऐसे में ट्रैवल नही करना चाहिये , लेकिन बहुत मजबूरी है जाना तो आप डॉक्टर से ऍड्वाइज लेकर कार से ट्रेवर कर सकती है कार से सफर करना सेफ़ होता है !
Answer: हैलो डियर- गर्भावस्था के शुरू के 3 महीने बहुत खास होते हैं इसमें थकने वाले और ज्यादा भागदौड़ वाले काम नहीं करने चाहिए इसमें आपको बहुत ही आराम से रहना चाहिए ।गर्भावस्था में सफर करने से पहले आपको अपने डॉक्टर की सलाह ले लेनी चाहिए । क्योंकि आपकी डॉक्टर ही आपकी गर्भावस्था में आप की कंडीशन क्या है अच्छी तरीके से समझ सकती हैं। इसलिए उचित सलाह आपकी डॉक्टर ही दे सकतीं हैं।
Answer: हेलो डियर जहाँ तक मै जानती हूँ प्रेग्नेन्सी के पहले 3 मंथ ट्रैवल नही करना चाहिए ।उसके बाद अगर आपकौ कोई प्रॉब्लम नही है तो आप ट्रैवल कर सकती है आपनी गयानी की permission से ।और अभी आपकी प्रेगनसी को केवल 2मंथ हुए ।इसलिए मेरी राय है की आप अभी ट्रैवल ना करे ।लेकिन अगर जाना बहुत जयादा जरुरी है तो आप अपनी गायनी से सलाह ले ।उसके बाद ही ट्रैवल करे।
Answer: हेलो डियर जहाँ तक मै जानती हूँ प्रेग्नेन्सी के पहले 3 मंथ ट्रैवल नही करना चाहिए उसके बाद अगर आपकौ कोई प्रॉब्लम नही है तो आप ट्रैवल कर सकती है आपनी गयानी की permission से ।और अभी आपकी प्रेगनसी को केवल 2मंथ हुए ।इसलिए मेरी राय है की आप अभी ट्रैवल ना करे ।लेकिन अगर जाना बहुत जयादा जरुरी है तो आप अपनी गायनी से सलाह ले ।उसके बाद ही ट्रैवल करे।
Answer: हेलो डियर , प्रेग्नेन्सी के शुरुआती समय में बेबी के bhrun बनने का प्रोसेस होता है जिसमें आपको ट्रेवल नही करना चाहिये , ट्रेवल करने से आपको अगर किसी भी तरह से धक्का लगने पर ब्लीडिंग भी हो सकता है इसलिये आपको ऐसे में हो सकें तों ट्रेवल करने से बचना चाहिये , लेकिन बहुत मजबूरी हो जाना तो आप डॉक्टर की ऍड्वाइज लेकर कार से ट्रेवल कर सकती है !
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मुझे thariod है क्या मैं प्रोटीन powder ले सकती हूँ
उत्तर: Hello! aap doctor se consult karlo ki aap protein powder lein paoogi ki nehi aur kaunsa lena hain woh bhi doctor ko prescribe karne ke liye bol dijiye.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा अभी 4 महीना चल रहा है तो क्या में सेक्स कर सकती हु और प्रेग्नेन्सी मे सेक्स नही करने से कुछ प्रॉब्लम टु नही hai
उत्तर: sex is safe throughout pregnancy and will not hurt your baby if there are no problems. This includes the early weeks after you get pregnant. The developing amniotic fluid and sac and the muscle layers of your uterus cushion and protect your embryo from trauma as your pregnancy progresses. As long as you are comfortable, in the mood, and have an uncomplicated pregnancy, go ahead and enjoy your normal sexual activities.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी पहली डिलीवरी सी-सेक्शन से हुई थी जो कि डेट से 15 दिन पहले यह कह कर की गई थी कि बच्चे के गले के चारो तरफ कॉर्ड है और बच्चे की हार्ट बीट काम हो रही है। तो अब मैं दुबारा माँ बनने वाली हु, क्या फिर से डिलीवरी ऑपरेशन से ही होगी। या नार्मल भी हो सकती है।। कृपया मुझे सही सुखाव दे क्योंकि मैं एक वर्किंग वुमन हु ओर मुझे काफी परेशानी हो जाती है।
उत्तर: Hello ma'am , Aapki first delivery c- section ke through hua hai or aapki ye second delivery normal ho Sakti hai bilkul but iske liye kuchh chijo ka dhyan rakhna hota hai Jo Mai aapko batane ja rahii hu par normal delivery ke liye ek or chij important hai wo hai aapki first pregnancy ko kitna time hua hai ispe bhi depend karta hai. Agar aapki first pregnancy or second pregnancy me jayeda gap nahii h to muskil ho sakta hai normal delivery me :- Tips for normal delivery:- 1) stay active and exercise regularly. 2) be well hydrate. 3) remove stress free - don't take Stress during pregnancy. 4) be well informed about labour pain and delivery . 5) breathing techniques- ( practising pranayams) . 6) adequate support- this time u have to need for physically support and emotionally support both . 7) need regular perineal massage. 8) rest and sleep . This all things help you for normal delivery . Thanku .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे खासी हो गई है दवा ले सकती हु ।
उत्तर: Ap Asthakind syrup le sakti hain
»सभी उत्तरों को पढ़ें