33 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मुझे बहुत दर्द रहता है नाभि के नीचे और पैर और कमर में बहुत ज्यादा दर्द रहता है क्या करूँ

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर जैसे-जैसे प्रेगनेंसी बढ़ती है वैसे-वैसे किसी किसी को लेफ्ट साइड तो किसी को राइट साइड थोड़ा मीठा मीठा दर्द महसूस होने लगता है ऐसा इसलिए होता है क्योंकि बच्चे का निरंतर अंदर वेट बढ़ रहा है जिसकी वजह से पेट पर और कमर पर भार पड़ता है और इसी वजह से दर्द होता है आपको जिस साइड में दर्द है उस साइड में ना सोकर जिस साइड में दर्द नहीं हो रहा है उस साइड पर सोए बहुत देर तक कभी भी खड़े नहीं रहे बहुत देर तक बैठे नहीं रहे पैरों को कभी लटका पर नहीं बैठना चाहिए थोड़ा बहुत दर्द रहना प्रेगनेंसी में बिल्कुल नॉर्मल है क्योंकि अंदर यूट्रस फैल रहा होता है जिसकी वजह से हम को यह दर्द होता है पर यदि दर्द बढ़ने लगे या कोई और प्रॉब्लम होने लगे तो डॉक्टर से जरूर कंसल्ट करें डियर इस दौरान पीठ में दर्द होना बहुत आम है. एक ही अवस्था में बहुत देर तक बैठने या खड़ी होने से बचें बाल्म लगाकर गरम पानी से सिकाई कर लिजिए। हल्का काम ओर थोड़ा बहुत घुमने भी जाइए। केल्शियम कि टेबलेट जो डॉक्टर ने दि हैं वो लिजिए समय पर। प्रेग्नेंसी में ऐसा होता है। गर्म पानी से सिकाई करें। रात को सोते समय पैरों के नीचे तकिया लगाकर सोये।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mere pair aur kamar me bahut dard rahta hai kya karu ?
उत्तर: hello dear pregnancy में कमर दर्द होना आम बात है इसलिए आप परेशान मत हो जैसे-जैसे गर्भावस्था में आपका गर्भ बढ़ता है और बच्चे का आकार बढ़ता है वैसे-वैसे नसों में खिंचाव पैदा होने लगता है जिसकी वजह से कमर में दर्द होने लगता है यह हारमोनल परिवर्तन के कारण भी होता है। कमर दर्द को दूर करने के लिए आप निम्न उपाय अपना सकती हैं ज्यादा देर तक एक ही स्थिति में ना बैठे संतुलित और पौष्टिक भोजन लीजिए ज्यादातर देर तक एक ही अवस्था में ना लेटे थोड़ी थोड़ी देर पर करवट बदलते रहे कमर दर्द दूर करने के लिए आप कुछ एक्सरसाइज और योगा भी कर सकती हैं कमर दर्द को दूर करने के लिए आप अपने कमर की मालिश सरसों के तेल से कीजिए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere pair aur पीठ me bahut dard hai kya kru
उत्तर: हेलो डियर , प्रेगनेंसी में पीठ में दर्द होना बहुत ही नॉर्मल बात है ,ज्यादातर महिलाओं में प्रेगनेंसी में पीठ दर्द की शिकायत होती ही है पीठ में दर्द होने का कारण एक तो हारमोंस में बदलाव होता है दूसरा पेट में बढ़ रहे भार का हो सकता है जिसके कारण मांस पेशियों में खिंचाव होता है और पीठ में दर्द हो सकता है पीठ दर्द को कम करने के लिए आप कोशिश करें कि अपनी बाइ और सोए सीधे पीठ के बल ना सोए घुटनों के बीच में तकिया लगाकर सोने से भी आपको पीठ दर्द में आराम मिलेगा अगर आप हाई हील की सैंडल , शूज पहनते हैं तो ना पहने यह भी एक पीठ दर्द का कारण हो सकता है साथ ही प्रेगनेंसी में dheele सूती के कपड़े पहनने चाहिए जिससे शरीर में खून का प्रवाह आसानी से हो और हम अनेक तरह के दर्द से बचेगे प्रेगनेंसी में पैरों में दर्द होना बहुत ही कॉमन है इसका कारण वजन बढ़ जाना है जिससे खून का प्रवाह कम हो जाता है और दूसरा कारण पोटेशियम कैल्शियम मैग्नीशियम जैसे खनिज की कमी भी हो सकती है पैर दर्द से बचने के लिए आप स्टेचिंग करें पैर के पंजों को हल्का-हल्का घुमाएं हर रोज हल्की फुल्की वॉक करें जिससे पैरों की मांसपेशियां मजबूत होंगी और दर्द कम होगा साथ ही खाने में हरी सब्जियां फल फ्रूट जूस यह सब ले जिससे आपके शरीर में पोषक तत्वों की कमी नहीं होगी अगर कभी पैर में दर्द ज्यादा हो तो आप गर्म पानी में नीम के पत्ते डालकर boil Kare , गर्म पानी को गुनगुना करें और पैर dubaa कर रखें पैर दर्द में आराम मिलेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere pair aur kamar me bahut dard ho raha hai . mera 8month hai .. kya karu .
उत्तर: हेलो प्रेग्न्सी में होर्मोन चेंजेज और माँ और बच्चे के बढ़ते वेट के कारण गर्भाशय पर दबाव पड़ता है जिसके कारण आसपास के अंग पर भी प्रेशर पड़ता है जैसे कमर पीठ पैर हाथ पेट etc .प्रेग्नेन्सी में back में दर्द होना तो समान्य है इसके लिए आप प्रॉपर सपोर्ट लें के बैठे lलंबे टाइम के लिए ना बैठे l रेस्ट करे , धीरे धीरे हलकी हलकी एक्सर्साइज करे l कमर और पैरों मे सरसों के ऑयल से हलकी मालिश भी लें सकती है आपको आराम मिलेगाl आराम करे lआप गरम पानी की बॉटल से सीकाइ भी कर सकती है आपको आराम मिलेगा सोते समय सपोर्ट ले के सोएं और तकिया ना लगायें एक ही postion में ना सोएं करवट बदलते रहे कमर पर कम दबाव पडें, इसके लिए अपने घुटनों के नीचे तकिया लगाकर सोएं, अपने घुटनों के बीच तकिया लगाकर सोने से भी आप कमर दर्द से बच सकते हैं हेवी saaman ना उठा ये हलकी हलकी एक्सर्साइज करे जिसके कारण आपको बैक पेन में राहत मिलेगी सूर्य के प्रकाश में20 से 25 मिनट बैठे सन रेज से मिलने वाले विटामिन डी आपके बैक पेन और बच्चे के विकास में हेल्पफूल है पैर दर्द होने पर आप पैरों की लिए हलकी हलकी एक्सर्साइज करे आप गुनगुने पानी में नमक डाल कर पैर डुबोए आपको पैर दर्द से राहत मिलेगी आप सरसों के तेल से पैरों की मालिश करे ब्लड सर्कुलेशन बढ़ने से आपका दर्द कुछ कम होगा कैल्सीअम प्रोटीन से भरपूर खाना खाएं जैसे मिल्क दही पनीर एग मूनगफ़लि और गुड भूनें चने आदि धूप में 20 से 25 मिनिट डेली बैठे सूर्य के प्रकाश में पाये जाने वाले विटामिन डी आपके पैर दर्द को कम करने और बच्चे के विकास में सहायक है पर्याप्त आराम करें ताकि ऐंठन से बच सकें। केले, कच्चे एवोकाडो, पके हुए आलू, पका हुआ पालक और मलाईरहित दूध का सेवन करे .
»सभी उत्तरों को पढ़ें