17 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मुझे पेट मे नाभि मे दर्द हों रहा है

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो ..गर्भ में शिशु के होने की वजह से आपकी मांसपेशियों, जोड़ों और नसों पर काफी दबाव पड़ता है। इससे आपको पेट के आसपास के क्षेत्र में काफी असहजता महसूस हो सकती है।...jiske karan aap ko pet mei ya nabhi mei bhi dard ki samasya ho sakti hai...jo ki pregnancy mei samanya mani jati hai....aap apne dard ko kam karne k liye kuch upay kar sakti hai. थोड़ी देर के लिए बैठ जाएं।जिस तरफ दर्द हो रहा हो, उसके दूसरी तरफ होकर लेट जाएं और आराम करें।हल्के गर्म पानी से नहाएं। जहां दर्द हो रहा हो उस क्षेत्र में गर्म पानी की बोतल या barf ki potli si halke hstho se saik sakti hai...halke hatho se nariyal tel se massage kar sakti hai...bahut aaram hoga...ok....take care.....
  • avatar
    Chauhan Chaka543 days ago

    थैंक you

  • avatar
    S. Adhikary543 days ago

    वेलकम

समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरे पेट मे दर्द हों रहा है ,
उत्तर: हेलों आप प्रेगनेट है आपके पेट में दर्द हो रहा है आपने यह नहीं बताया कि आपको पेट के किस हिस्से में दर्द होता है.अगर आपको कोई हेल्थ कॉम्प्लिकेशन नही है तब प्रेग्नसी में हलका पेट दर्द होना नॉर्मल है जैसे जैसे आपकी प्रेगनेंसी आगे बढ़ती है गर्भाशय भी बढ़ता है और आपके मांसपेशियों नसो जोड़ों में खीचाव होता है जिस कारण निचले पेट में दर्द होता है। जब आप अचानक अपनी स्थिति बदलती हैं तो दर्द तेज या बहुत तेज़ हो सकता है। ये दर्द कुछ समय बाद अपने आप ठीक हो जाते है आप लेफ्ट साइड करवट ले कर दर्द को कम कर सकती है आप क्रॉस लेग ना बैठे आप आराम करे थकान वाले काम ना करे अगर आपको दर्द ज़्यादा हो रहा है तो आप डॉक्टर से सलाह ले पानी भरपूर पीये कभी कभी ये दर्द कब्ज़ गैस के कारण भी हो सकता है कोशिश करें कि ज्यादा देर खड़ी भी ना रहे एक ही पोजीशन में ना बैठे , अपनी पोजीशन बदलते रहे साथ ही अगर आप हील वाली चप्पल या सैंडल पहनती हैं तो अवॉयड करें जब भी आप सो कर उठे तो एकदम से ना उठे हैं पहले करवट ले फिर उठे हैं. अपना ध्यान रखें अपने खाने-पीने का ध्यान रखें.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हलों डॉक्टर मुझे तीन दिन से पेट मे दर्द हों रहा है
उत्तर: hello प्रेगनेंसी में पेट पर होने वाला दर्द या ऐंठनज्यादातर गैस की वजह से होता है ।आप रात में सोने से पहले गुनगुने पानी के साथ एक चम्मच त्रिफला चूर्ण ले जिससे आपको पेट साफ होगा और दिन भर गैस नहीं बनेगा और दर्द से आराम मिलेगा और अगर यह दर्द गैस का नहीं है तो कभी-कभी यूट्रस का आतो पर दबाव पड़ता है जिसके कारण दर्द होता है इससे बचने के लिए आप ज्यादा से ज्यादा पानी पीये और अपने खाने पर सलाद और हरी पत्तेदार सब्जियों की मात्रा बढ़ा दे। लेकिन अगर दर्द साथ बुखार किसी प्रकार का डिस्चार्ज और चक्कर आ रहा है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से मिलें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे पेट मे दर्द है नाभि के पास साथी कमर दर्द भी है
उत्तर: पेट में ऐठन महसूस होना और मरोड़ होना या खिंचाव होना हमारे मसल्स के स्ट्रेच होने की वजह से हो सकता है प्रेगनेंसी में पेट के बढ़ने यूट्रस के बढ़ने की वजह से मसल स्ट्रेच होते हैं राउंड लिगामेंट स्ट्रेच होता है उसकी वजह से उठने बैठने में पेन होता है हो सकता है कि आपको वही पेन हो रहा हो इसके लिए आप जब आपको पेन हो आप ज्यादा से ज्यादा आराम करें आप हल्के गुनगुने पानी को बोतल में भरकर उस से हल्की सी सिकाई कर सकते हैं हल्के गुनगुने पानी से नहाएंगे तो भी आपको अच्छा लगेगा ।कमर में दर्द के लिए आप गुनगुने तेल से मालिश करवा सकते हैं और सिकाई भी कर सकती हैं इससे आप आराम मिलेगा अपने पोस्चर पर ध्यान दें , यदि आप सही पोषण में बैठेंगे उठेंगे और तेज तेज काम नहीं करेंगे जल्दी जल्दी कोई काम ना करके झुकेंगे नहीं तो आपको और कमर में दर्द नहीं होगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: नाभि के पास बहोत दर्द हों रहा है क्या करें
उत्तर: प्रेगनेंसी में पेट दर्द होना बहुत आम समस्या है लेकिन हमेशा पेट दर्द का होना सिर्फ गैस ही वजह नहीं हो सकता गैस की प्रॉब्लम पहले की कुछ महीनों में ही ज्यादा होती है लेकिन उसके बाद पेट में दर्द होने का कारण कुछ और भी हो सकता है जैसे-जैसे आपके बच्चे का साइज बढ़ता है वैसे यूट्रस का साइज बढ़ता है जिससे कि पेट और पेट से जुड़े हुए अंग होते हैं उन सारे अंगो पर दबाव पड़ता है यूटरस का साइज बढ़ने से उसके आस-पास के लिए मसल्स फैलते हैं जिसके कारण हमें दर्द का अनुभव होता है आपको चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है हो सकता है यह दर्द हल्का हल्का पूरे 9 महीने तक रहे लेकिन यदि यह पेट का दर्द ज्यादा है और लंबे समय तक है तो आपको डॉक्टर की सलाह लेकर पेट का checkup कराना चाहिए पेट में दर्द होने से आप किसी प्रकार का बाहरी दवाई बिना डॉक्टर के सलाह के नहीं ले सकते इससे बच्चे को बहुत इफ़ेक्ट होता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें