30 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मुझे पेट के उपर के हिस्से मे जलन मेह्सुस हो रही हे ये मेरा 7वा महीना हें .. क्या ये नॉर्मल हें ?

1 Answers
सवाल
Answer: yes'' jin chizo ko khane se acidity hoti ho vo sb अवोइड kare
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मुझे साँस लेने मे परेशानी हो रही हें प्लीज़ कोई उपाय बताये क्या ये नॉर्मल हें ?
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी में सांस लेने में प्रॉब्लम होना नॉर्मल है क्योंकि आपको और आपके बेबी को भरपूर मात्रा में ऑक्सीजन चाहिए होता है जिस वजह से पूर्ति ना होने के कारण सांस फूलने की प्रॉब्लम आ जाती है इसके आप कुछ उपाय कर सकते हैं संतुलित आहार करें ज्यादा तला-भुना खाना ना खाएं खाना खाने के बाद तुरंत आराम ना करें और बिस्तर par na लेते हैंpeeth के बल या पेट के बल ना सोए करवट लेकर ही सो ज्यादा धूल और धुएं वाले जगहों में जाने से बचें नियमित व्यायाम करें और अपना फुलाने जैसा व्यायाम करें पुगा फुलाने से आपको सांस लेने में प्रॉब्लम नहीं होगी और आपको अच्छा लगेगासाथ छोड़ने और सांस लेने वाला व्यायाम करें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुज़हे 5 महीना चल रहा हे मरें पेट के निचे के हिस्से मे कभी कभी दुखता हे क्या ये नॉर्मल हे
उत्तर: हेलो डियर हल्का फुल्का पेट दर्द तो आपकौ पूरी प्रेग्नंसी मे ही होगा ।जैसे-जैसे प्रेग्नन्सी बढ़ती है बेबी का वजन भी बढने लगता है और baby की ग्रोव्थ के बढ़ने के साथ-साथ उतरुस में मांसपेशियों में खिंचाव पैदा होने लगता है जिसकी वजह से पेट के निचले हिस्से मे दर्द जैसी प्रॉब्लम होने लगती है ।कभी कभी पेट दर्द गैस या कब्ज की वजह से भी होता है। पेट दर्द को दूर करने के लिए आप निम्न उपाय अपना सकती हैं- आप लगातार एक ही स्थिति में खड़ी ना रहे ,ना ज्यादा देर तक कहीं पर बैठे ।संतुलित और पौष्टिक भोजन ही करें । ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पिए । ज्यादा हील वाली च्प्पल ना पहने। तनाव मुक्त रहें । जमीन पर पैरों को मोड़ कर ना बैठे । एक ही स्थिति में ज्यादा देर तक ना सोए। और अगर आपको ज्यादा पेट दर्द हो रहा है तो आप तुरंत ही अपने डॉक्टर से मिलें ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरे पेट के उपर के हिस्से मे बहुत जलन और दर्द है क्या करु
उत्तर: हेलो डियर-अक्सर महिलाओं को पहली बार गर्भावस्था के दौरान एसिडिटी और छाती या पेट में जलन दरद और गैस होती है।गर्भावस्था के दौरान सीने में जलन और दरद एसिडिटी शरीर में हॉरमोनल बदलावों के कारण होती है। तैलीय या चटपटा मसालेदार खाना चॉकलेट, खट्टे फल, चाय और कॉफी, एसिडिटी को बढ़ाते है। एक गिलास ठंडा दूध या एक कटोरी दही लेने से एसिडिटी और जलन में आराम मिलता है।गर्भावस्था मे 12 गिलास पानी पीना चाहीये।एसीडिटि से बचने के लिये सोने से करीब तीन घंटे पहले खाना खा लेना चाहिए जीर्ण भोजन न करें जल्दी पचने वाले हल्के और सुपाच्य भोजन और फल फुल जूस हरी सब्जियां आदि लें।खाना खाने के कम से कम एक घंटे बाद ही सोना चाहिए जादा परेशानि होने पर डाक्टर से सलाह लें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें