16 weeks pregnant mother

Question: hii.. मुझे 3 दिन से पेट के निचे हिस्से में पेन हो रहा है .. pls बताये मुझे क्या करना चाहिय...

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर ,"""'पेट के नीचे हिस्से में होने वाला दर्द नॉर्मल है बेबी के वेट और ग्रोथ के कारण पेट पर बेबी के वजन से दबाव पड़ने लगता है जिससे कि पेट में निचले हिस्से से हल्का हल्का दर्द का अनुभव होने लगताhai.. पेट के दर्द को कम करने के लिए आप एक ही स्थिति में ना खड़े रहे अपनी पोजीशन को बदलते रहे बीच-बीच में हलचल kre.अत्यधिक शारीरिक श्रम ना करें ,भारी-भरकम सामान ना उठाएं , नींबू पानी ,पानी ,शरबत ,जूस आदि ले उससे आपको राहत मिलेगी left side Sone Ka Prayas kare ..अत्यधिक दर्द बढ़ जाने पर डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं' |
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: हेलो मैम मुझे 2 दिन से पेट के निचले हिस्से में रुक रुक कर दर्द हो रहा है क्या यह लेबर पेन के लक्षण है
उत्तर: हेलों लेबर पेन का अनुभव हर लेडी के लिए अलग अलग होता है प्रेग्न्सी के अन्तिम अवस्था में कमर दर्द पेट दर्द वैजिना में दर्द और प्रेशर का अनुभव करना नॉर्मल है लेकिन जब दर्द समय के साथ बढ़े .लेबर पेन की शुरुआत पिरियड में होने दर्द जैसे हो सकती है ये दर्द के साथ आपको पेट में दर्द कमर दर्द सर दर्द उलटी पोटी जाने की इच्छा हो सकती है जब दर्द समय के साथ लगातार बढ़े और असनीय होने लगे जब लगातार और थोड़ी-थोड़ी देर पर गर्भ की पेशियों में खिंचाव महसूस हो। इसके अलावा जब यह अधिक समय तक और तीव्रता से हो।अगर आपके कमर के निचले हिस्से में दर्द की शिकायत हो।आपका बच्चा तरल पदार्थ की एक थैली से सुरक्षित रहता है। यह प्रसव पीड़ा के दौरान टूटता है और पानी गिरना शुरु हो जाता है। यह प्रसव का ही एक लक्षण है।अगर रक्त स्त्राव की समस्या हो रही हो।आपको बुखार, सिरदर्द या पेट में दर्द हो। तो आप तुरन्त डॉक्टर से सलाह ले
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri 5 month ki प्रेग्नेन्सी hai...mera plesenta नीचे की तरफ़ है कुछ दिन से मेरे पेट के निचले हिस्से में बहुत दर्द हो रहा है ये दर्द 3 दिन से ज़्यादा हो रहा है मुझे क्या करना चाहिए?
उत्तर: अपको तुरन्त डॉक्टर से सम्पर्क करना चाहिए ... आप बिल्कुल भी घबराए नहीं और डॉक्टर के निर्देशों का ध्यान से पालन कीजिए.. Placenta एक ऐसा ऑर्गन है जो बच्चे को माता से ब्लड सप्लाई करता है और न्यूट्रीशन पहुंचाता है। इसकी पोजीशन यूट्रस में कहीं भी हो सकती है यह तो ऊपर छतरी के सामान रहेगा या आगे या पीछे या फिर कभी कभी किसी किसी केस में yeh नीचे की ओर भी अटैच हो जाता है। लो प्लेसेंटा होने की स्थिति में ज्यादातर माताओं को आराम करने की सलाह दी जाती है, क्योंकि बच्चा जैसे-जैसे ग्रोथ करता है, उसका दबाव प्लेसेंटा पर पड़ता है और आपको कभी भी ब्लीडिंग स्पोटिंग होने की संभावना रहती है। इसलिए हमेशा माताओं को आराम करने की सलाह दी जाती है । इस केस में माताओं को ज्यादा झुक कर और ज्यादा देर खड़े रहकर काम नहीं करना चाहिए ज्यादा exertion वाले एक्सरसाइज और योगा और वाकिंग भी नहीं करनी चाहिए। लो प्लेसेंटा ज्यादातर स्कैन के द्वारा शुरुआती महीनों में ही पता चल जाता है यह प्रेगनेंसी के अंत अंत तक ठीक भी हो जाता है। क्योंकि हमारी यूटरस का साइज़ बढ़ता है और प्लेसेंटा नीचे से साइड की तरफ शिफ्ट हो जाता है। इसमें घबराने की कोई बात नहीं है इसमें आपको हमेशा नॉर्मल डिलीवरी अवॉइड करने की सलाह देते हैं क्यूकी प्लेसेंटा सर्विक्स को कवर करके रखता है और नॉर्मल डिलीवरी के केस में बच्चा पहले निकलना चाहिए उसके बाद प्लेसेंटा लेकिन लो प्लेसेंटा के केस में प्लेसेंटा पहले होता है और बच्चा बाद में इसलिए हमेशा सी सेक्शन करने की सलाह दी जाती है। डॉ इस समय पर इंटर कोर्स करने से भी हमेशा मना करते हैं पूरी प्रेगनेंसी में आपको अपना खास ध्यान रखना पड़ता है अब ज्यादा हैवी सामान भी नहीं उठाई है आराम कीजिए और पौष्टिक आहार लेते रहिए हल्की वॉक कर सकते हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा 5 मंथ है मुझे पेट मि निचे साइड पेन हो रहा है क्या करना chaiye
उत्तर: हेलो ..गर्भ में शिशु के होने की वजह से आपकी मांसपेशियों, जोड़ों और नसों पर काफी दबाव पड़ता है। इससे आपको पेट के आसपास के क्षेत्र में काफी असहजता महसूस हो सकती है।...jiske karan aap ko pet mei dard ki samasya ho sakti hai...jo ki pregnancy mei samanya mani jati hai....aap apne dard ko kam karne k liye kuch upay kar sakti hai. थोड़ी देर के लिए बैठ जाएं।जिस तरफ दर्द हो रहा हो, उसके दूसरी तरफ होकर लेट जाएं और आराम करें।हल्के गर्म पानी से नहाएं। जहां दर्द हो रहा हो उस क्षेत्र में गर्म पानी की बोतल या barf ki potli si halke hstho se saik sakti hai...halke hatho se nariyal tel se massage kar sakti hai...bahut aaram hoga...ok....take care.....
»सभी उत्तरों को पढ़ें