15 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मुझे अल्ट्रासाउन्ड कब करना cahiye

5 Answers
सवाल
Answer: हेलो .. डियर आमतौर पर पहली तिमाही में दो स्कैन किए जाते हैं। छह से नौ सप्ताह के बीच डेटिंग व वायबिलिटी स्कैन और 11 और 13 सप्ताह के बीच अर्ली मोर्फोलॉजी स्कैन या एनटी स्कैन। यद्यपि, आपको गर्भावस्था की पुष्टि के लिए स्कैन की जरुरत नहीं होती है, मगर शुरुआती हफ्तों में स्कैन कराने से निम्न बातों का पता चलता है: गर्भाशय में शिशु सही स्थिति में है या नहीं स्कैन के दौरान आप शिशु की धड़कन सुन सकती हैं, जो इस बात का संकेत है कि आपकी गर्भावस्था जीवक्षम है। शिशु का दिल आमतौर पर छह हफ्तों के आसपास धड़कने लगता है। शिशु के जन्म की सही नियत तिथि का पता लगाना। अगर आपका माहवारी चक्र अनियमित है या फिर आपको पिछली माहवारी के पहले दिन की तिथि याद नहीं, तो स्कैन से पता चल सकता है कि आपकी गर्भावस्था कहां तक पहुंची है। अगर, आपको कोई रक्तस्त्राव या खून के धब्बे हो रहे हैं, तो इनका कारण पता लगाना। यह पता लगाना कि आपके गर्भ में कितने शिशु पल रहे हैं।
Answer: हेलो . डियर आमतौर पर पहली तिमाही में दो स्कैन किए जाते हैं। छह से नौ सप्ताह के बीच डेटिंग व वायबिलिटी स्कैन और 11 और 13 सप्ताह के बीच अर्ली मोर्फोलॉजी स्कैन या एनटी स्कैन। यद्यपि, आपको गर्भावस्था की पुष्टि के लिए स्कैन की जरुरत नहीं होती है, मगर शुरुआती हफ्तों में स्कैन कराने से निम्न बातों का पता चलता है: गर्भाशय में शिशु सही स्थिति में है या नहीं स्कैन के दौरान आप शिशु की धड़कन सुन सकती हैं, जो इस बात का संकेत है कि आपकी गर्भावस्था जीवक्षम है। शिशु का दिल आमतौर पर छह हफ्तों के आसपास धड़कने लगता है। शिशु के जन्म की सही नियत तिथि का पता लगाना। अगर आपका माहवारी चक्र अनियमित है या फिर आपको पिछली माहवारी के पहले दिन की तिथि याद नहीं, तो स्कैन से पता चल सकता है कि आपकी गर्भावस्था कहां तक पहुंची है। अगर, आपको कोई रक्तस्त्राव या खून के धब्बे हो रहे हैं, तो इनका कारण पता लगाना। यह पता लगाना कि आपके गर्भ में कितने शिशु पल रहे हैं।
Answer: hello...आमतौर पर पहली तिमाही में दो स्कैन किए जाते हैं। छह से नौ सप्ताह के बीच डेटिंग व वायबिलिटी स्कैन और 11 और 13 सप्ताह के बीच अर्ली मोर्फोलॉजी स्कैन या एनटी स्कैन। यद्यपि, आपको गर्भावस्था की पुष्टि के लिए स्कैन की जरुरत नहीं होती है, मगर शुरुआती हफ्तों में स्कैन कराने से निम्न बातों का पता चलता है: गर्भाशय में शिशु सही स्थिति में है या नहीं स्कैन के दौरान आप शिशु की धड़कन सुन सकती हैं, जो इस बात का संकेत है कि आपकी गर्भावस्था जीवक्षम है। शिशु का दिल आमतौर पर छह हफ्तों के आसपास धड़कने लगता है। शिशु के जन्म की सही नियत तिथि का पता लगाना। अगर आपका माहवारी चक्र अनियमित है या फिर आपको पिछली माहवारी के पहले दिन की तिथि याद नहीं, तो स्कैन से पता चल सकता है कि आपकी गर्भावस्था कहां तक पहुंची है। अगर, आपको कोई रक्तस्त्राव या खून के धब्बे हो रहे हैं, तो इनका कारण पता लगाना। यह पता लगाना कि आपके गर्भ में कितने शिशु पल रहे हैं।
Answer: हेलो डियर doctors के कहने पर एक प्रेग्नेंट महिला को कम से कम तीन बार अल्ट्रासाउंड की सलाह दी जाती है पहला अल्ट्रासाउन्ड 13 से 15 week के बीच उसके बाद 20 से 22 वीक के बीच और फिर उसके बाद 32 से वे हपते में करवाया जाता है 13 से 15 हपते में होने वाले अल्ट्रासाउन्ड को ટાર્ગેટ स्कैन कहते हैं इसमे बच्चे के इंटर्नल ougan जेसे किडनी हार्ट लीवर ban रहें या नही चेक kiyaअभी जाता है आपके 15 हपते हुए है और अगर आपने अल्ट्रासाउन्ड नही कराया तो ज़रूर करवायें
Answer: 3rd month, 7th month, and 9th month me aapko ultrasound krvana chahiye
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मुझे सेकण्ड लेवल अल्ट्रासाउन्ड कब करना चाहिए
उत्तर: बच्चे की ग्रोथ का पता लगाने के लिए डॉक्टर तीन बार अल्ट्रासाउंड टेस्ट कराते हैं। अल्ट्रासाउंड टेस्ट दूसरे महीने में बच्चे की धड़कन जानने के लिए, चौथे महीने में बच्चे का विकास देखने के लिए और आखिरी महीने में बच्चे की स्थिति देख कर डिलिवरी करने के लिएअगर बच्चे या माँ किसी को भी कोई हेल्थ problem है तो doctor की सलाह से 3 से ज़्यादा बार अल्ट्रासाउन्ड कराया जा सकता है अधिक अल्ट्रासाउंड कराने से बेबी को किसी प्रकार का नुकसान पहुंचे यह बात पूरी तरह प्रमाणित नहीं है इसलिए प्रेगनेंसी में आवश्यकतानुसार 3 बार से अधिक भी अल्ट्रासाउंड कराया जा सकता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: अल्ट्रासाउन्ड कब करना चाहिये
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी में अल्ट्रासाउंड आपको तुरंत प्रेगनेंसी कंफर्म होने के कुछ दिन बाद कराना चाहिए क्योंकि पहले वाला अल्ट्रासाउंड कराने से डिलीवरी डेट पता चलता है wah डेट accurate होता है जब आप ultrasound कर आते हैं तो डॉक्टर आपको दूसरी अल्ट्रासाउंड का डेट देते हैं और डेट पर जाकर कराना होता है ज्यादातर स्वस्थ महिला जो होती है उनको 3 बार अल्ट्रासाउंड कराने का सलाह दिया जाता है jo unhealthy रहती है उनको समय-समय पर कराना बहुत जरूरी रहता है ताकि बच्चे की स्थिति के बारे में जानकारी मिलती रहे
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: अल्ट्रासाउन्ड कब कब करना चाहिए
उत्तर: हेलो डियर पूरी प्रेगनेंसी के दौरान कम से कम 5 अल्ट्रासाउंड होने चाहिए एक अल्ट्रासाउंड शुरू के 3 महीने में उसके बाद 2 अल्ट्रासाउंड बीच के 3 महीने में और फिर 2 अल्ट्रासाउंड आखिरी के 3 महीने में और इसके अलावा अगर आपकी डॉक्टर और भी अल्ट्रासाउंड करने के लिए बोले आपकी हेल्थ को देखते हुए या बेबी के ग्रोथ को देखते हुए तो वह भी कर आना चाहिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें