3 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मुज्जे utrus एम भोत दरद होता एच मेरा 3 वीक चाल रहा h

1 Answers
सवाल
Answer: hello यूट्रस में जब बच्चा होता है तब यूटरस की साइज बढ़ती है जिसके कारण दर्द होता है अगर दर्द ज्यादा है तो आप डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा पेट भोत दरद होता हे
उत्तर: प्रेगनेंसी के दौरान पेट दर्द होना एक आम समस्या होती है पेट में दर्द कभी-कभी गैस की समस्या से या फिर लिगामेंट संकुचन के कारण भी होता है । यदि आपके पेट में दर्द लिगामेंट संकुचन के कारण हो रहा है तो ऐसे में आपको रेस्ट करना चाहिए और सहजता के साथ उठना बैठना चाहिए सीढ़ियां ज्यादा चढ़ना उतरना नहीं चाहिए और अचानक से जमीन पर भी ना बैठे हैं । और यदि पेट दर्द गैस की समस्या की वजह से हो रहा है तो आपको फाइबर युक्त भोज्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए और अधिक से अधिक तरल पदार्थों का सेवन करना चाहिए 10 से 12 गिलास पानी प्रतिदिन पीना चाहिए और नारियल पानी का सेवन प्रतिदिन करें इससे आपका शरीर हाइड्रेटेड बना रहेगा और आपको किसी प्रकार के इन्फेक्शन नहीं होंगे खासकर यूरिन इन्फेक्शन नहीं होगा । यदि आपको कमर में दर्द रहता है तो आप गर्म पानी के बैग से अपनी कमर के हल्के से सिखाई कर सकती हैं इससे आपको कमर दर्द में राहत मिलेगी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा फोर्थ मंथ चल रहा है मुज्जे कमर मै बोहत दरद होता है
उत्तर: गर्भावस्था में कमर दर्द होना एक आम बात है करीब आधे से ज्यादा महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान किसी न किसी समय कमर दर्द की शिकायत होती है आपका वजन सामान्य से अधिक है या फिर आप पहले से भी गर्भवती हो चुकी हैं तो आपको kamar दर्द होने की संभावना अधिक रहती है कमर दर्द कम करने के लिए आप कुछ उपाय अपना सकते हैं जैसे kamar के व्यायाम कर सकती हैं मालिश करवा सकती हैं मालिश करने से मांसपेशियों का आराम मिलता है सही मुद्रा अगर आपकी आदत सही मुद्रा में बैठने की नहीं है तो भी आप kamar दर्द के शिकार हो सकते हैं एक गर्म स्नान एक गर्म पैक दर्द कम करने में मदद कर सकते हैं उचित जूते या सैंडल पहने कम ऊंचे और आरामदायक जूते पहने फिर भी आप अपने डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: बेबी कितने वीक एम होता एच
उत्तर: हेलो डियर 36 वीक के बाद आपकी डेलीवरी कभी भी हो सकती है ।ड्यू डेट से पहले भी और बाद मे भी इसलिए आप परेशान ना हो ।सन्तुलीत और पौस्तिक भोजन खाये ।जयदा से ज्यादा मात्रा मे पानी पिए और तनाव मुक्त रहिए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें