9 महीने का बच्चा

Question: maidam 9 माह के बच्चे ka डायट चार्ट बताये

1 Answers
सवाल
Answer: ।आप उनके लिए रोज़ नयी नयी चीजें बनाकर खिलाएं।बेबी को वेजिटेबखिचडी,उपमा,इडलि,डोसा,दलिया,फ्रुइट्स की प्यूरी ,पुड्डिंग्स ये सब बना कर दीजिए । खाने में देसी घी मिलाकर खिलाएं. प्रोटीन युक्त भोजन खिलाएं आप उन्ह एग भी खिला सकती है। उन्हें दही खिलाएं, केला मैश करके दे। आप बच्चे को आलू खिलाएं।शकरकंद खिलाएं। 2se3बादाम को रात में पानी में भिगोकर सुबह उसके छिलके निकलकर पीस कर बच्चे को दे आपको जरूर फायदा होगा। आप बच्चे को अवोकदो, चीकू,आम,केला, ऐपल, कद्दू, गाजर, बीट रूट, हरा मटर, गोभी, ब्रोकली ग्राइंड करकें pyuri बनाकर भी खिला सकती है। आप उन्हें कैल्शियम युक्त अहार दिजिय। डेयरी प्रॉडक्ट हलका चीज़ बटर घी दूध इसमें भरपूर मात्रा में कैल्शियम मिलता है। आप उन्हें एग भी दे सकती है।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: एक माह के प्र्ग्नैन्सी का डायट चार्ट बताये
उत्तर: महिला को गर्भावस्‍था के शुरुआती हफ्तों में अतिरिक्‍त फॉलिक एसिड की जरूरत होती है। जो न्‍यूरल ट्यूब बनाने के काम आती है। जो बाद में चलकर दिमाग और रीढ़ की हड्डी बनती है प्रोटीन और मिनरल्स से भरपूर कच्चाी दूध सेहत के लिए फायदेमंद है लेकिन गर्भवती महिलाएं, गर्भावस्थाक के शुरूआती दिनों में भूल से भी कच्चे दूध का सेवन न करें। ऐसे समय में उबला हुआ दूध का ही सेवन करना चाहिए। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को सब्जी और फल खाने की सलाह दी जाती है। लेकिन ऐसे मौके पर गर्भवती महिलाएं पपीता और अनानास खाने से बचें। गर्भवती महिला को इन सभी विटामिन और खनिजों का सेवन करना बहुत आवश्यक है| विटामिन C कैल्शियम फाइबर विटामिन D जिंक आयोडीन फोलेट विटामिन आयरन प्रोटीन कार्बोहाइड्रेट फोलिक एसिड etc… दूध, अंडा, गाजर, पालक, हरी सब्जियां, ब्रोकोली, आलू, कद्दू, पीले फल, खरबूजा संतरे, संतरे का रस, स्ट्रॉबेरी, हरी पत्तेदार सब्जियां, पालक, बीट्स, ब्रोकोली, फूलगोभी, गढ़वाले अनाज, मटर,सेम, नट्स दही, दूध, चेडर पनीर, कैल्शियम-गढ़वाले खाद्य पदार्थ, सोया दूध, रस, रोटी, अनाज, गहरे हरे पत्तेदार सब्जियां.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: तीन साल के बच्चे के लिए डायट चार्ट बताये
उत्तर: आप अपने बच्चे को इस प्रकार से भोजन करा सकती हैं इससे आपका बच्चा स्वस्थ रहेगा.. बच्चे को ताजे मौसमी फलों का सेवन अधिक karayen . सोमवार सुबह का नाश्ता - Sandwich और एक गिलास दूध दोपहर का खाना - मुंग की दाल की खिचड़ी   शाम का नाश्ता - एक केला रात का खाना - एक कटोरा दाल और रोटी मंगलवार सुबह का नाश्ता - दलीय और एक गिलास दूध  दोपहर का खाना - मटर-गाजर की सब्जी और रोटी   शाम का नाश्ता - एक आम  रात का खाना - पनीर की सब्जी और रोटी बुधवार सुबह का नाश्ता -  सूजी का हलुवा और दूध  दोपहर का खाना - पांच दालों से बनी खिचड़ी    शाम का नाश्ता -  एक संतरा  रात का खाना - मसूर की दाल और रोटी  गुरुवार सुबह का नाश्ता -  आलू पराठा और दही   दोपहर का खाना -  veg-पुलाव और रायता    शाम का नाश्ता -   एक सेब  रात का खाना -  पनीर की रोटी और सब्जी  शुक्रवार सुबह का नाश्ता - सूजी का उपमा और ग्लास दूध     दोपहर का खाना - राजमा और चावल      शाम का नाश्ता - एक अमरुद     रात का खाना -  भिंडी की सब्जी और रोटी  शनिवार सुबह का नाश्ता - मुंग दाल का चीला और दही     दोपहर का खाना - पुलाव और पनीर की सब्जी      शाम का नाश्ता - नाशपाती      रात का खाना -  आलू मटर की सब्जी और रोटी  रविवार सुबह का नाश्ता -  पोहा और एक गिलास दूध   दोपहर का खाना - पौष्टिक दाल और सब्जी की खिचड़ी       शाम का नाश्ता - अंगूर     रात का खाना - रोटी और मुंग की dal
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: 9 महीने के बच्चे का डायट चार्ट
उत्तर: हल्लो। आप ध्यान रखे आपका बचा दिन में ४ बार याने उठते साथ , दोपहर में ,शाम को , और रात में सोने से पेहल।। आपका दुध ले और ३ टाइम याने नाश्ता , दोपहर का भोजन फिर रात का खान।। जो भी आप ताज़ा बनाये वह थोड़ा थोड़ा खै। आप डेरी प्रोडक्ट दिया करे। जैसे घर का बना दही , पनीर ।। आप बाकी ये सब दे सकती है।। Chawal kheer , सूजी की kheer , गाजर की kheer ,ल्वाकि की kheer।। मूँग दाल की खिचडी मासूर दाल की खिचडी दाल चवाल दाल रोटी दुढ रोटी केला शीक फ्रुइट्स की स्मूथिएस काधी चवाल आते का हल्वा सूजी का हल्वे सब्जीयू का सूप काऊ मिल्क याने gaay का दुध pine नहीं द. बच्चे के 1 साल होने के बाद है उसे गाय का दूध देना चाहिए .6 महीने तक के बच्चे के लिए आप जो भी खाना बनाती हैं उसमें आप गाय का दूध इस्तेमाल कर सकते हैं. पर दूध पीने के लिए बिल्कुल भी ना दें. गाय के दूध में पर्याप्त मात्रा में आयरन नहीं होता. जिससे कि उसके शरीर एनिमिक होने की समस्या हो सकती है . मां के दूध में और फार्मूले में गाय के दूध की तुलना में आयरन ज्यादा होता है इसलिए आप 1 साल तक गाय का दूध बिल्कुल भी ना दें . 1 साल के बाद अगर आप गाय का दूध देना भी चाहती हैं तो आप ध्यान रखें कि दूध अच्छी तरह उबला हो और ताजा हो साथ ही दूध की मात्रा 350 ml से 400 ml तक ही दें .गाय के दूध में प्रोटीन कैल्शियम मैग्नीशियम और विटामिन बी12 बी2 होता है. आप जब भी गाय का दूध दे वह मलाई सहित दे मतलब की फुल क्रीम दूध दे. गाय का दूध अगर आप ज्यादा देंगे तो बच्चे को सॉलिड आहार लेने के लिए पेट में जगह नहीं बचेगी .जिससे कि उसका पूरा पोषण तत्व मिलना कम हो जाएगा और शरीर कमजोर होने लगेगा.
»सभी उत्तरों को पढ़ें