कुछ दिनों का बच्चा

Question: माम मेरी 20 दीन की बेटी है उसका नाभि अभी सुखा नही है aise में कोई खतरा तो नही है na

1 Answers
सवाल
Answer: इसमें चिंता की कोई बात नहीं है. आप उसको ज्यादा खुला न रखे ताकि इन्फेक्शन का खतरा न हो. और चिंता करने की बात नहीं है.
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी बेटी 8मन्हास की है पर अभी बैठती नही है कोई चिन्ता की बात तो नही
उत्तर: हेलो डिअर, सभी बेबी एक जैसे नही होते है कुछ बेबी जल्दी बैठना सिख जाते है तो कुछ बेबी को बैठने में समय लग जाता है आप बिलकुल परेशान न हो ज्यादातर बेबी 5 या 6 महीने में बैठना शुरू कर देते है आपका बेबी अगर नही बैठता है तो आप अपने बेबी को अपने गोद मे लेकर बैठाए आपका बेबी आपके सहारे बैठना शुरू कर देना चाहिये ऐसे में आपके बेबी को एक सहारा मिल जायेगा आप अपने बेबी के आस पास और पीठ के पीछे तकिया रख दे और कुछ देर अपने बेबी को तकिया के सहारे बैठाए आप यही प्रक्रिया रोज और दिन भर 2 से 3 बार कुछ देर के लिए करे ऐसा करते रहने से आपका बेबी धीरे धीरे ल शुरू कर देगा , अपने बेबी की अधिक से अधिक मॉलिश करे इस से आपके बेबी की मास पेशियां मजबूत हो जाएगी ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी हरे रंग की पोती करती है कोई चिन्ता की बात तो नही है na
उत्तर: बच्चा कोई भी गंदी चीज जैसे कि खिलौना या गंदे हाथ मुंह में ना डालें . अगर आप अपने बच्चे को दूध की बोतल दे रहे हैं तो ध्यान रखें कि आप उस बोतल को अच्छे से साफ करें. आप बच्चे को साबूदाने का पानी दे चावल का पानी दे बेबी के पास ग्रीन स्टूल रखे बेबी को जायफल का पाउडर अपने दूध में मिला कर दे बेबी की नाभी में हींग को गुनगुने पानी मे भिगो कर लगाए बेबी की पॉटी को ग्रीन घास पर देखिये देखिये ग्रीन पॉटी सर्दी जुखाम से भी होती है तो आप बेबी की ध्यान दे को उसे सर्दी जुखाम तो नहीं ह मुझे आशा है कि मेरी युक्तियां आपकी मदद करेंगी .... ध्यान रखें ..
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी अभी 20 दीन की है लेकिन वो मेरा दूध नही पीती में क्या करु
उत्तर: आपका बच्चा दूध क्यों नहीं पीता है यह जानने की कोशिश कीजिए हो सकता है उन्हें गैस हो जाता हो गैस के लिए आप बच्चे को सही पोजीशन में रखकर दूध पिलाएं जिससे वह गैस कम पीयेंगे और उनको डकार दिलवाएं। हर बार थोड़ी थोड़ी मात्रा में दूध पिलाने के बाद आप उन्हें डकार दिलवाते रहिए इससे उनके पेट में गैस नहीं जमेगी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें