4 महीने का बच्चा

Question: 6 महीने बचे का aahar

6 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर अब आपका बेबी 6 महीने का हो गया है अब आपको सॉलिड फूड शुरु करना चाहिये। अगर बेबी को हर 2 घन्टे मे आप कुछ खाने को देती हैं तो बेबी का वजन भी बढ़ेगा और बेबी का विकास भी होगा। आप दिन में 3 बार भोजन दे सकती हैं जिसे अच्छी तरह से पकाया जाना चाहिए। 8-- बजे - बीएम / एफएम सुबह 9 बजे रावा इडली , ओट्स रागी डोसा, सूजी खीर, केला, दलिया, पेन्केक सेब प्यूरी (कोई भी एक) सुबह 11बजे-- बीएम / एफएम 12बजे-- मसला हुआ केला, दही, 1बजे-- Khichdi, आलू और गाजर Khichdi, दही चावल, रागी दलिया, veggie के साथ suji upma 3बजे-- बीएम / एफएम 5बजे--कोई नरम फल, दही, उबले हुए आलू, सेब प्युरी 7बजे-- उत्तम, सूजी खीर, चावल के साथ मूंग दाल, कच्चे केले का दलिया, जौ अनाज, गेहूं अनाज दलिया। अन्य खाद्य पदार्थ जो आप 6-7 महीने के बेबी को खिला सकती हैं। रागी या बाजरा दलिया, रागी खीर, दाल पानी, चावल का पानी, ऐप्पल और केला, ऐप्पल प्यूरी, चिकू प्यूरी, कद्दू प्यूरी, गाजर प्यूरी, ब्रोकोली प्यूरी, आलू मैश, मीठे आलू प्यूरी, आलू और गाजर के साथ दलिया दलिया सूप, वेगी खिची, एवोकैडो प्यूरी, सब्जियों के सूप, मखाना खीर पपीता प्यूरी, तरबूज, ऐप्पल खीर, सूजी और केले दलिया। आदि।
Answer: हेल्लो डीयर आपका बेबी 6मंथ का है उसे आप निम्न फूड़ खिला सकते है जिससे बेबी के हेल्थ के साथ साथ उसका विकास भी अच्छे तरीके से होगा। 8-- बजे - बीएम / एफएम सुबह 9 बजे रावा इडली , ओट्स रागी डोसा, सूजी खीर, केला, दलिया, पेन्केक सेब प्यूरी (कोई भी एक) सुबह 11बजे-- बीएम / एफएम 12बजे-- मसला हुआ केला, दही, 1बजे-- Khichdi, आलू और गाजर Khichdi, दही चावल, रागी दलिया, veggie के साथ suji upma 3बजे-- बीएम / एफएम 5बजे--कोई नरम फल, दही, उबले हुए आलू, सेब प्युरी 7बजे-- उत्तम, सूजी खीर, चावल के साथ मूंग दाल, कच्चे केले का दलिया, जौ अनाज, गेहूं अनाज दलिया। अन्य खाद्य पदार्थ जो आप 6 महीने के बेबी को खिला सकती हैं। रागी या बाजरा दलिया, रागी खीर, दाल पानी, चावल का पानी, ऐप्पल और केला, ऐप्पल प्यूरी, चिकू प्यूरी, कद्दू प्यूरी, गाजर प्यूरी, ब्रोकोली प्यूरी, आलू मैश, मीठे आलू प्यूरी, आलू और गाजर के साथ दलिया दलिया सूप, वेगी खिची, एवोकैडो प्यूरी, सब्जियों के सूप, मखाना खीर पपीता प्यूरी, तरबूज, ऐप्पल खीर, सूजी और केले दलिया। आदि।
Answer: 6 मंथ कंपलीट होने के बाद आप बच्चे को खाना दे सकते हैं आप baby को पहली बार खाना खिला तो आप ध्यान रखें कि बच्चे को पूरी तरह से puree खाना दे ताकि बच्चे के गले में ना फंसे साथ ही बच्चे को खाना हमेशा कांच, स्टील या चांदी के bowl में खिलाए कोशिश करें कि प्लास्टिक इस्तेमाल ना करें आप बच्चे को दाल का पानी सब्जियों का purre रजैसे कि गाजर चुकंदर, फ्रूट फ्यूरी ,फ्रूट जूस घर का बना हुआ, दाल चावल की पतली खिचड़ी आप बच्चे को यह सब दे सकते हैं बस आप इस बात का ध्यान रखें कि जो भी खाना दे आप 3 दिन तक दे ताकि आपको समझ में आ जाए के बच्चे को उस खाने से किसी प्रकार का रिएक्शन नहीं हो रहा है शुरुआत में बच्चा बहुत ही कम खाएगा दो-तीन चम्मच खाएगा आप उसका ध्यान रखें कि आप बच्चे को फोर्स ना करें धीरे धीरे बच्चा अपने आप खाने लगेगा बच्चों को पानी भी जरूर पिलाएं ताकि बच्चे को कब्ज की समस्या ना हो कोशिश करें कि आप बच्चे को 2 साल तक अपना दूध जरूर पिलाएं
Answer: 6 मंथ कंपलीट होने के बाद आप बच्चे को खाना दे सकते हैं आप baby को पहली बार खाना खिला तो आप ध्यान रखें कि बच्चे को पूरी तरह से puree खाना दे ताकि बच्चे के गले में ना फंसे साथ ही बच्चे को खाना हमेशा कांच, स्टील या चांदी के bowl में खिलाए कोशिश करें कि प्लास्टिक इस्तेमाल ना करें आप बच्चे को दाल का पानी सब्जियों का purre रजैसे कि गाजर चुकंदर, फ्रूट फ्यूरी ,फ्रूट जूस घर का बना हुआ, दाल चावल की पतली खिचड़ी आप बच्चे को यह सब दे सकते हैं बस आप इस बात का ध्यान रखें कि जो भी खाना दे आप 3 दिन तक दे ताकि आपको समझ में आ जाए के बच्चे को उस खाने से किसी प्रकार का रिएक्शन नहीं हो रहा है शुरुआत में बच्चा बहुत ही कम खाएगा दो-तीन चम्मच खाएगा आप उसका ध्यान रखें कि आप बच्चे को फोर्स ना करें धीरे धीरे बच्चा अपने आप खाने लगेगा बच्चों को पानी भी जरूर पिलाएं ताकि बच्चे को कब्ज की समस्या ना हो कोशिश करें कि आप बच्चे को 2 साल तक अपना दूध जरूर पिलाएं
Answer: 6 मंथ कंपलीट होने के बाद आप बच्चे को खाना दे सकते हैं आप baby को पहली बार खाना खिला तो आप ध्यान रखें कि बच्चे को पूरी तरह से puree खाना दे ताकि बच्चे के गले में ना फंसे साथ ही बच्चे को खाना हमेशा कांच, स्टील या चांदी के bowl में खिलाए कोशिश करें कि प्लास्टिक इस्तेमाल ना करें आप बच्चे को दाल का पानी सब्जियों का purre रजैसे कि गाजर चुकंदर, फ्रूट फ्यूरी ,फ्रूट जूस घर का बना हुआ, दाल चावल की पतली खिचड़ी आप बच्चे को यह सब दे सकते हैं बस आप इस बात का ध्यान रखें कि जो भी खाना दे आप 3 दिन तक दे ताकि आपको समझ में आ जाए के बच्चे को उस खाने से किसी प्रकार का रिएक्शन नहीं हो रहा है शुरुआत में बच्चा बहुत ही कम खाएगा दो-तीन चम्मच खाएगा आप उसका ध्यान रखें कि आप बच्चे को फोर्स ना करें धीरे धीरे बच्चा अपने आप खाने लगेगा बच्चों को पानी भी जरूर पिलाएं ताकि बच्चे को कब्ज की समस्या ना हो कोशिश करें कि आप बच्चे को 2 साल तक अपना दूध जरूर पिलाएं
Answer: हेलो डिअर, आप अपने बेबी को 6 महीने होने पर ब्रैस्ट मिल्क के अलावा ऊपर का मिल्क और सॉलिड फ़ूड भी खिला सकती है, आप अपने बेबी को ठोस भोजन इस तरह से दे सकती है जैसे ,रागी या बाजरा दलिया, रागी खीर, दाल पानी, चावल का पानी, दाल चावल , ऐप्पल और केला, ऐप्पल प्यूरी, चिकू प्यूरी, कद्दू प्यूरी, गाजर प्यूरी, ब्रोकोली प्यूरी, आलू मैश, मीठे आलू प्यूरी, आलू और गाजर के साथ दलिया दलिया सूप, vagitable खिचड़ी , एवोकैडो प्यूरी, सूजी की खीर , उपमा , सब्जियां सूप, मखाना खीर , पपीता प्यूरी, तरबूज, ऐप्पल खीर, सूजी और केले, दलिया। आदि।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: जुकाम है बचे को 6 महीने का है kya dey
उत्तर: hello dear, लहसुन की कुछ कलियों को तभी तवा पर भूल लीजिए फिर इन कलियों को एक रूमाल में बांधकर उसकी पोटली बना लेते हैं जब फिर इस पोटली ko बच्चे keसीने पर रखकर के सिकाई करते हैं इस बात का ध्यान रखिएगा की पोटली बहुत ज्यादा गर्म ना हो इससे बच्चे का कफ काफी जल्दी ढीला होगा| *सरसों का तेल गर्म करके उसमें थोड़ी सी अजवाइन और लहसुन की कुछ कलियां डालकर पका लें ठंडा होने पर इसी तेल से बच्चे के पूरे शरीर में मालिश करें l
»सभी उत्तरों को पढ़ें