18 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मुजें 4 महिने हो चुके हे और मेरा पेट नी बड़ा हे अभी तक ... क्या करू

1 Answers
सवाल
Answer: फर्स्ट pregnancy m 5 के बाद ही पेट दिखता एच आपको कुछ करने की जरुरत नही h बस आप खुश रहिए और अच्छे से खाना पीना करिए
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा पेठ अभी तक बड़ा नही हे
उत्तर: यह कोई बहुत बड़ी चिंता की बात नहीं है पेट कम या ज्यादा होना महिलाओं की शारीरिक बनावट पर डिपेंड करती है पेट बड़ा या छोटा हो सकता है लेकिन बच्चे दोनों के ही स्वस्थ होते हैं आप बिल्कुल चिंता ना करें थोड़े टाइम बाद ही आपका पेट दिखने लगेगा यह बात ही नॉर्मल सी चीजें हैं बिल्कुल टेंशन ना ले
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुजें प्रगनसी कन्सिव नी हो रही है क्या करू मेँ
उत्तर: बेबी planning ke लिए आपको अपनी period ke start ki exact date pata होनी चाहिए ,दुसरी बात अगर आपका पिरियड नियमित है तो आपका cycle 28-30din तक का होगा उस हिसाब से ,period shuru होने se लेकर 14th डे ke आसपास ovulution होता hai, ovulution होने ke 2 दिन पहले और ovulution होने ke 2-3 din ke बीच यदि संभोग किया जायें तो प्रेग्रेन्सी होने ka chance होता है .means पूरी cycle me 8 se 18 days most fertile पिरियड होते है , आप इस समय प्रेग्रेन्सी ke लिए try karege to आपको ज़रूर रिजल्ट पॉजिटिव milege. प्रेग्रेन्सी planning me आपको आपने खान पान का विशेष ध्यान dena hoga, बेहतर होगा आप एक बार डॉक्टर से भी consult kar le, wo आपको कुछ ज़रूरी test भी kara sakte hai jaise ,complete blood test,thyriod level test, आदि .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मज़े 9 महिने हे और अभी तक ब्चे नी हुया तो मुजे कसे पता लगेगा
उत्तर: हेलो डिअर, आप की डिलीवरी के समय आने पर आप कुछ इस तरह से पहचान सकती है माहवारी (पीरियड) आने से पहले वाली अनुभूति और ऐंठन के साथ लगातार पीठ के निचले हिस्से में या पेट में दर्द होता है कभी कभी दर्द धीरे फिर तेज भी हो सकता है और फिर अधिक तेज होने लगता है पानी की थैली फटना। एमनियोटिक द्रव के तेजी से बहने या रिसाव से आपकी झिल्ली फट सकती है। ऐसा कुछ भी हो, तो अपनी डॉक्टर से संपर्क करें। भूरे या खून सी रंग वाले तरल चीजो का निकलना। अगर आपकी गर्भाशय की ग्रीवा पर लगा श्लेम का डाट बाहर आ जाता है, तो हो सकता है आपका प्रसव बहुत करीब हो या फिर इसमें कई दिन भी लग सकते हैं। पेट में गड़बड़ या दस्त। बात बात पर मूड बदलने लगता है बार बार नींद टूटती है
»सभी उत्तरों को पढ़ें