27 weeks pregnant mother

मसूड़ों से बहुत ब्लीडिंग होती है . इसके लिए क्या करना चाहिए plz बताए

सवाल
हार्मोन में होने वाले चेंजेस की वजह से गर्भावस्था के दांतों और मसूड़ों के प्रॉब्लम हो जाती ऐसे समय में अपने दांतो का और मसूड़ों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है हमारी बॉडी में विटामिन सी और डी की कमी की वजह से भी मसूड़ों में खून आने लगता है मैं आपको बताना चाहूंगी कि हमारी बॉडी में जब प्रोटीन की क्वांटिटी कम होने लगती है इसका असर हमारे दांतो पर भी पड़ता है ऐसे में आप अपनी डाइट में प्रोटीन की मात्रा संतुलित ले दवाइयों का साइड इफेक्ट कुछ ऐसी दवाइयां भी होती है जिनके सेवन से दातों में खून निकलने लगता है जैसे एंटीडियोड्रेंट और ब्लड प्रेशर की दवाई इनको लेने से मसूड़ों में खून निकलता है क्योंकि ऐसी दवाइयों से मुंह में लार नहीं बनती है और लार की कमी के कारण मुंह में बैक्टीरिया पैदा हो जाते हैं
  • avatar
    NIDHI SATYAM38 days ago

    कोई होम रिमेडीज

डियर ..कई बार प्रेग्नेंसी में महिलाओं के शरीर में कैल्शियम और विटामिन डी की कमी होने के कारण उन्हें दांतों के जुड़ी समस्याएं जैसे मसूड़ों में सूजन, जलन या खून और दर्द आदि हो सकती हैं. हल्दी एंटीसेप्टिक की तरह काम करती है और इसका किसी तरह का साइड-इफैक्ट भी नहीं होगा.इसके लिए 1 टीस्पून हल्द पाउडर में पानी मिलाकर गाढ़ा पेस्ट तैयार कर लें...फिर कॉटन के साथ इसे दांतों और मसूड़ों में लगाएं..इससे आपको तुरंत ही राहत मिलेगी. 2 लौंग में जैतून का तेल, नारियल तेल मिक्स करके पेस्ट बना लें. इस कॉटन के साथ प्रॉब्लम वाली जगह पर लगाएं..इसे आप दिन में कई बार लगा सकती है. इस्से भी बहुत आराम मिलता है और आप नमक के पानी से kulla भी कर के . दाँत के दर्द से राहत पा सकती है . ओके
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेटा मिटी बहुत खाता है इसके लिए क्या करना चाहिए
उत्तर: मिट्टी खाने की आदत कई बच्चों में होती है। बहुत से पेरेंट्स ऐसे है जो अपने बच्चे की इस आदत को यह सोच कर अनदेखा कर देते है कि शायद समय के साथ यह आदत भी चली जाएगी. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि बच्चे की इस आदत का असर उनके स्वास्थ्य पर अधिक पड़ता है. इसलिए बेहतर होगा कि बच्चे की इस जल्द से जल्द सुधार लियाजाय लौंग-- 6-7 लौंग को लेकर पीस लें. फिर इन्हें पानी में डालकर उबाल लें. बच्चों को दिन में 1-1 चम्मच तीन बार पिलाएं. इससे बच्चे की मिट्टी खाने की लत झट से गायब होती दिखाई देगी. केला और शहद-- पके हुए केले को मैश करके पेस्ट बना लें. फिर इसमें शहद मिलाकर बच्चे को रोज थोड़े-थोड़े अंतराल के बाद खाने को दें। इससे बच्चे की भूख भी कंट्रोल में रहेगी और मिट्टी खाने की लत भी छुट जायेगी। अंजवाइन---अजवाइन से कई बीमारियों का इलाज किया जा सकता है. रोज रात को गुनगुने पानी के साथ 1 चम्मच अजवाइन का चूर्ण बच्चे को खाने के लिए दें. इस प्रक्रिया को लगातार तीन सप्ताह तक जारी रखें. इससे मिट्टी खाने की आदत छुट जाएगी. आम की गुठली----आम की गुठली में से निकलने वाली गिरी का चूर्ण बना लें. फिर इसे पानी में मिलाकर बच्चे के पीने को दें. दिन में 3 बार ऐसा करें. इससे बच्चे के पेट के कीड़े भी मर जाए और मि्ट्टी खाने की लत भी छूट जाएगी. इन घरेलू नुस्खों के अलावा बच्चे की किसी अच्छे से विशेषज्ञ से जांच करवाएं. इसके अलावा बच्चों को खाने के लिए पोषक तत्वों से भरपूर आहार दें ताकि उनके शरीर में किसी भी तरह की कोई कमी न आए
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे ब्रेस्ट से दूध कम आता है इसके लिए क्या करना चाहिए
उत्तर: hello dear दूध बढ़ाने के लिए आप निम्न उपाय अपना सकती है कभी-कभी स्तन में ब्लड सरकुलेशन कम होने के कारण दूध की आपूर्ति कम हो जाती है ऐसे में स्तनपान कराने से पहले अपने स्तन की गर्म चीजों से सिकाई करें जैसे सूती कपड़े को गर्म करके। स्तनपान कराने से पहले 5 मिनट तक अपने स्तन की मसाज करें इसके अलावा शिशु को दूध पिलाने से पहले गर्म पानी में मोती कपड़े को भिगो कर निचोड ले अब अपने निप्पल के पास सिकाई करें और स्तन को थोड़ा दबाएं इससे दूध की आपूर्ति बढ़ेगी यह मसाज आप 5 से 10 मिनट के लिए करें और उसके बाद शिशु को दूध पिलाएं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: गोरा बच्चा हो इसके लिए क्या करना चाहिए
उत्तर: hello आमतौर पे बच्चे अपने मा पापा के ही रंग रुप मे होते है, फिर भी कई घरेलू उपाय है जिनकी मदद से आप गोरा बच्चा पा सकते है। 1 नारियल का पानी पिए। 2 कच्चा नारियल खाऐ। 3 गाय का दूध पिए । 4 दूध मे केशर मिलाकर पिए। 5 अंडा खाए। 6 बादाम को रात भर भिगाकर सुबह खाऐ तथा और भी कई फल है जैसे कि संतरा , , अंगूर , आवले का मुरब्बा इन सभी चीजो से बच्चा गोरा होने के साथ ही तंदरुस्थ भी होता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें