9 महीने का बच्चा

Question: मरे बचे को नीन्द अती ह ताब बोहोत रोता ह

2 Answers
सवाल
Answer: छोटे बच्चों का रोना समझना बहुत मुश्किल है बच्चों का रोना बेवजह नहीं होता है बच्चे कुछ कारण से ही रोते हैं जो हम समझ नहीं पाते और बच्चों को थोड़ी देर के लिए चुप करा लेते हैं लेकिन मैं थोड़ी देर बाद फिर से रोना चालू करते हैं बच्चों की रोने की बहुत सारी वजह होती है जैसे अगर बच्चों को भूख लगी होती है तो वह बहुत रोते हैं कई बार ऐसे होता है कि बच्चे तुरंत दूध पीते हैं और थोड़ी देर बाद फिर से रोना चालू करते हैं क्योंकि उनका पेट बहुत छोटा होने की वजह से सूसू पार्टी करने से और कुछ एक्टिविटी करने से उनका पिया हुआ दूध जल्दी से डाइजेस्ट हो जाता है फिर थोड़ी देर बाद उनको भूख की वजह से रोना पड़ता है दूसरी वजह होता है diper अगर गीला हो जाता है तो बच्चे डिस्काउंट फूट की वजह से रोने लगते हैं बच्चे को कुछ नया चीज महसूस करने से वह बहुत होते हैं उनको गीलापन बिल्कुल पसंद नहीं होत तीसरी wahan यह हो सकती है कि अगर बच्चा रुम में सोया है तो वहां का टेंपरेचर या तो बहुत ज्यादा है या तो उनको बहुत ठंडी लगी हो जिसके कारण भी रोने लगते हैं isliyeअब अगर बच्चा यदि रुम में सो रहा हो तो बच्चे को बार बार चेक करना चाहिए बच्चा अगर बहुत थका हुआ हो तो वह अपनी मम्मी के गोदी के लिए बहुत रोता है ऐसे भी बच्चे को थोड़ा मालिश करें और उसे आराम से अपने गोद में सुनाएं बच्चे को अगर किसी प्रकार का दर्द या पीड़ा हो तो वह बहुत रोता है कभी-कभी बच्चे के पेट में गैस बन जाती है जब वह डकार नहीं लिया हो तो तो उस टाइम भी बच्चे बहुत रोते हैं इसलिए आप चिंता ना करें बच्चों की प्रॉब्लम जानने की कोशिश करें कि वह किस वजह से रो रहा है
Answer: आप बच्चे का पेट अच्छे से भर कर उन्हें सुलाने की कोशिश कीजिए इससे उनको चिड़चिड़ापन कम होगा और वह आराम से सो पाएंगे। आप बच्चे को अच्छे से मालिश करके भी सुला सकती हैं जिससे उनके हाथ पैर को आराम मिलेगा और उन्हें नींद अच्छी आएगी।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेबी एक साल का हो गया है उसे दो तीन से पेसाब करने मे दर्द हो है और रात को पिसाब नही करता और रोता है
उत्तर: hello dear ho sakta h apke baby ko urine infection ho pedestrian ko consult kar lijiye.
»सभी उत्तरों को पढ़ें