39 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मम मुझे टॉयलेट का प्रेस बार बार आ रहा हा डू डिन se

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो .. प्रेग्नेन्सी मे बार बार टॉइलेट जाना .. ये to होने वाली माँ k लिये आम बैट है ... delivery का समय जैसे जैसे पास आता है . वैसे वैसे आप के बेबी के साइज or wait bhi बढ़ता है . और आप के गर्भाशय का भि .. गर्भाशय का साइज जीतन बढ़ता जता है . ऑर आप के ब्लैडर के ऊपर प्रेशर डट है जिंस के करन आप ko bar bar washroom जने की जरुरत होटी है ...वैसे तो पेशाब का बदला हुआ रंग भी कोई खास समस्या नही है..ऐसा दवाई के कारन हो सकता है..लेकिन अगर रंग बदलने के साथ साथ पेशाब मे जलन या खुजली होती है तो संक्रमण हो सकता होता है..ok
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मुझे बार-बार टॉयलेट आ रहा है क्या करूं
उत्तर: हेलो डियर बार बार टॉयलेट आने के कई कारण हो सकते हैं जैसे आपकी किडनी में इन्फेक्शन होना इसकी वजह से भी आपको बार बार टॉयलेट आने लगती है ।khoon मे सुगर लैवल का मात्रा बढ़ जाना या फिर डायबिटीज की प्रॉब्लम होने पर भी बार बार टॉयलेट होने लगती है । कभी-कभी यूटीआई इंफेक्शन होने पर भी बार बार टॉयलेट आने लगती है । अगर आपको बार बार टॉयलेट आने की प्रॉब्लम हो रही है आप एक बार अपने डॉक्टर से कंसल्ट कर लीजिए और उनसे सलाह ले लीजिए इस दौरान आप ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पीजिए और तरल पदार्थों का सेवन करिए जिससे आपकी बॉडी डिहाइड्रेट ना होने पाए ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे टॉयलेट बहुत आ रहा है बार-बार आ रहा है
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी के दौरान ह्यूमन क्रोनिओनिक गोनैडोट्रोपिन हार्मोन के स्त्राव के कारण शरीर में ब्लड फ्लो काफी बढ़ जाता है। इसके कारण किडनी में भी ब्लड की मात्रा ज्यादा पहुंचती है जिसे किडनी प्यूरीफाई करता है और ख़राब टोक्सिन को बाहर निकालता है। इस वजह से भी ऐसा महसूस होता है जैसे तेज पेशाब लगी हो।जैसे-जैसे शिशु गर्भाशय में बड़ा होता जाता है वैसे ही ब्लैडर पर दवाब बढ़ता जाता है। जिस वजह से आपको बार बार ऐसा महसूस होता है कि आपको तेज पेशाब लगी है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मम मुझ आज कल चाकर बहुत आ रहा हा सुबह का टाइम वोटिंग का लिया मन करता हा
उत्तर: अगर आपका BP कम है तो हो सकता है आपको चक्कर आ सकते हैं ,वोमिट फील हो सकता है बीपी को सामान्य रखने के लिए मैं आपको कुछ सलाह देना चाहती हूं आप सुबह शाम अपने पार्टनर के साथ टहलने जाएं, पोषक तत्वों से भरपूर डाइट लें तीनो टाइम भोजन करें बीपी को कंट्रोल करने वाले तत्व जैसे लहसुन आदि का प्रयोग करें खुश रहें पूरी नींद लें और दिमाग को शांत करने के लिए ध्यान लगाएं गर्भवती महिला को नियमित रूप से अपना ब्लड प्रेशर चेक करते रहना चाहिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें