गर्भावस्था की तैयारी

Question: मम प्रेग्नेंसी में कितने टाइम स्कैनिंग करना चाहिए और कौन सी मंथ में करना चाहिए

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर आप अपने प्रेग्नेंसी में कम से कम 3 या 4 बार अल्ट्रासाउंड स्कैन जरूर कर ा सकते हो . यह पूरी तरह से सुरक्षित होता है आपकी बेबी की ग्रोथ जानने के लिए प्रेग्नेंसी में . आप दूसरे महीने में पहला स्कैन कर सकते हैं इस की मदद से आप की बेबी की हार्टबीट का पता लगाया जाता है , दूसरा स्कैन चौथे महीने में होता है आपकी बेबी की ग्रोथ कैसी हो रही है इसका पता लगाने के लिए , और सातवें महीने में एक स्कैन होता है जो बेबी की ग्रोथ ठीक से हो रही है ना इसके लिए होता है , और आखिरी महीने में एक स्कैन होता है जिसकी मदद से आप की डिलीवरी प्लान हो सके जैसे आपका वॉटर लेवल कितना है आपके बेबी ने हेड डाउन पोज़िशन कर ली है या नहीं आपकी प्लेसेंटा कहां पर है इस बारे में पता लगाने के लिए. आपको प्रेग्नेंसी में स्कैन जरूर करवाना चाहिए यह आपकी दोनों ओर की हेल्थ के लिए काफी आवश्यक होता है अपना ख्याल रखें .
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: डिलीवरी के कितने दिन bad सेक्स करना चाहिए और कितने दिन bad गर्वनिरोधक दवाई खानी चाहिए और क्या बिना मेडिसिन के सेक्सी करना सेफ होगा
उत्तर: हेलो मैम आपको कम से कम प्रेगनेंसी के 40 दिनों के बाद ही संबंध बनाने के बारे में सोचना चाहिए क्योंकि प्रेगनेंसी के बाद महिला का शरीर बहुत ही कमजोर होता है इस अवस्था में बिल्कुल भी संबंध बनाने के लिए आपका शरीर तैयार नही होता गर्भनिरोधक गोलियों के लिए आपको डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए आपको कम से कम 40 दिन का परहेज करना ही चाहिए मैडम
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: 9th month me body pe harpis ho jay toh kyarna chahia...? konsi मेडिसिन लेनि chahia
उत्तर: हेलो डियर आप अभी प्रेगनेंसी में कोई भी दवाई या सुप्पलिमेन्त बीना डॉक्टर की सलाह के नही लें . आप आपने डॉक्टर को दवाई दिखायें सलहकरे तभी लें . प्रेग्नेन्सी का समय आपके और आपके बच्चे के लाइए बहुत नाज़ुक है. आप्ना बहुत ध्यान रखें . सन्तुलित पोष्टिक अहार बहुत ज़रूरी है . पानी बहुत पीये . आप डॉक्टर को तुरन्त दिखायें .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: 8th month me konsi batto ka dhyan rakhna chahia kon kon sa kam karnA chahia
उत्तर: प्रेगनेंसी का यह मंथ काफी इंपॉर्टेंट होता है इस समय आपकी बॉडी में काफी चेंजेस हो जाते हैं इस समय कुछ महिलाओं को कॉन्स्टिपेशन , पेट फूलना ,इन डाइजेशन हेडेड, चक्कर आना अचानक गर्मी का एहसास होना इसलिए आठवीं महीने में आपको कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए जैसे कि आप रोज 8 से 10 गिलास पानी जरूर पीएं जब बच्चा पेट में रहता है तब पेट के निचले हिस्से में ज्यादा जोर पड़ने लगता है जिसे पीठ में दर्द होने लगता है इसलिए ज्यादा देर के लिए ना खड़े हो सके तो बेड रेस्ट लेने की कोशिश करें जितना हो सके उतना एक्टिव रहें हल्का फुल्का व्यायाम करें इससे कमर दर्द नहीं होगा अपनी डाइट पर ध्यान दें फाइबर रिच फ़ूड जैसे कीवी ,हरी सब्जियां ,फल ,अंडा, मछली खा सकते हैं , अपनी बॉडी की सुने अगर यदि आप थक रहे हैं तो आप आराम करें आपको कुछ खाने का मन कर रहा है तो खा ले नींद बहुत ही जरूरी है पूरी नींद लेैं , 8 घंटे नींद लेना बहुत जरूरी है अपने डॉक्टर से जरूरी सलाह लेते रहें
»सभी उत्तरों को पढ़ें