16 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: बॉय हे या गर्ल हे के से पत्ता चला

4 Answers
सवाल
Answer: बच्चे का बेटा होना या बेटी होना कोई भि नही तय कर सकता , ये पुरुष के क्रोमोसोम पर डिपेंड कर्ता है .. फिमेल मे सिर्फ़ x होता है और मेल मे x और y .. जब पुरुष का x महिला के x से मिलता है तब लड़की होती है और जब पुरुष का y महिला के x से मिलता है तब लड़का होता है .. x+x= girl y+x=boy आप अच्छा खाना खाएं , भरपूर आराम करे , बच्चा स्वस्थ होगा .भगवान आपको वही सन्तान दें जिसकी आपको चाह हो .
Answer: हेलो डियर आप के गर्भ में लड़का है या लड़की यह कहना मुश्किल है डीआर आपको यह जल्दी ही डिलीवरी के टाइम पर पता चल जाएगा बेबी का हेल्दी होना अति आवश्यक है इसके लिए आप हेल्दी डाइट ले को बच्चे से पानी पिए अपनी प्रेगनेंसी को अच्छे से इंजॉय करें ऑल द बेस्ट
Answer: हेलो डियर ऐसा कोई तरीका नहीं है जिससे यह पता लगाया जा सके कि आपके गर्भ में पलने वाला बच्चा लड़का है या लड़की है लड़का होना या लड़की होना ये ना आपके हाथ मे है ना आपके पति के हाथ मे। ये ऊपर वाले की देन है। बस भगवान से प्राथना कीजिये।
Answer: हेलो डियर ऐसा कोई तरीका नहीं है जिससे आप लड़की या लड़का पैदा कर सकती है। ना तो यह आपके हाथ में है और ना आपके पति के हाथ में है। इसके लिए तो सिर्फ आप भगवान से प्रार्थना कीजिए कि जो आप चाहती हैं वह आपको मिल जाए।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: बॉय या गर्ल केस पत्ता hogi
उत्तर: Girl है या boy ये हमें किसी भी प्रकार पता नहीं चलता डिलीवरी से पहले. और इस बात की जांच करवाना या पूछना कानूनन अपराध है. तो आप ये जानने की कोशिश न करे. और ये सोचे की जो भी हो वो स्वस्थय हो. ये ज्यादा जरुरी है. इसके आप ठीक से पौष्टिक खाना ले और ज्यादा पानी पिए.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: कसें पत्ता चला की बॉय हा या गर्ल
उत्तर: Dear, लड़का या लड़की होना क्रोमोसोम्स के फ्यूजन पर डिपेंड करता है यदि स्त्री के XX क्रोमोसोम्स पुरुष के XY क्रोमोसोम से फ्यूज होते हैं तो लड़का होता है और यदि स्त्री के XX क्रोमोसोम्स पुरुष के XX क्रोमोसोम से फ्यूज होते हैं तो लड़की होती है यह लॉजिक है लड़का और लड़की होने का बच्चे के लिंग का पता तो जन्म के बाद ही चल सकता है। भारत में बच्चे का लिंग जानने की अनुमति नहीं है अतः आप किसी और विधि से से भी इसका पता नहीं लगा सकती हैं। आपको किसी भी प्रकार का तनाव नहीं लेना चाहिए और खुश रहें साथ में आप को अधिक से अधिक आराम करना चाहिए। तरल पदार्थों का सेवन करें ।10 से 12 गिलास पानी प्रतिदिन पिए। साथ ही नारियल पानी भी पिएं और पौष्टिक आहार का सेवन करें, खुश रहें जिससे स्वस्थ बच्चे का जन्म हो । कुछ किवदंतियां हैं की यदि गर्भवती स्त्री को मीठा अच्छा लगता है तो बेटा जन्म लेता है और यदि नमकीन अच्छा लगता है तो बेटी जन्म लेती है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: कैसे पत्ता चलेगा मरे अन्दर बॉय है या गर्ल
उत्तर: Dear, लड़का या लड़की होना क्रोमोसोम्स के फ्यूजन पर डिपेंड करता है यदि स्त्री के XX क्रोमोसोम्स पुरुष के XY क्रोमोसोम से फ्यूज होते हैं तो लड़का होता है और यदि स्त्री के XX क्रोमोसोम्स पुरुष के XX क्रोमोसोम से फ्यूज होते हैं तो लड़की होती है यह लॉजिक है लड़का और लड़की होने का बच्चे के लिंग का पता तो जन्म के बाद ही चल सकता है। भारत में बच्चे का लिंग जानने की अनुमति नहीं है अतः आप किसी और विधि से से भी इसका पता नहीं लगा सकती हैं। आपको किसी भी प्रकार का तनाव नहीं लेना चाहिए और खुश रहें साथ में आप को अधिक से अधिक आराम करना चाहिए। तरल पदार्थों का सेवन करें ।10 से 12 गिलास पानी प्रतिदिन पिए। साथ ही नारियल पानी भी पिएं और पौष्टिक आहार का सेवन करें, खुश रहें जिससे स्वस्थ बच्चे का जन्म हो । कुछ किवदंतियां हैं की यदि गर्भवती स्त्री को मीठा अच्छा लगता है तो बेटा जन्म लेता है और यदि नमकीन अच्छा लगता है तो बेटी जन्म लेती है
»सभी उत्तरों को पढ़ें