2 months old baby

बच्चे को पेशाब करते समय परेशानी होती है रोता है बहुत जोर लगाता है क्या करे

सवाल
हेलो डियर, आपका बेबी सु सु करते समय अगर रोता है तो जब बेबी सु सु करता है तो उसे प्रेशर बनता है और उसे पेन जैसा महसूस होता है इसलिए बेबी रोने लगता है आप अपनी बेबी को अधिक से अधिक अपना अपना दूध पिलाये , ताकि आपकी बेबी को खुलकर टॉयलेट हो ज्यादातर बेबी टॉयलेट करते समय रोते हैं इसमें कोई गंभीर बात नहीं है आप बिल्कुल भी परेशान ना हो ऐसा होना नॉर्मल बात है
इसको हम दवाई भी दें रहें है colicaid E z hyzewin क्या band कर दे
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मुझे पेशाब करते समय परेशानी होती है
उत्तर: यदि आपको पेशाब में जलन या दर्द हो रहा है तो ऐसी स्थिति में आपको अधिक से अधिक तरल पदार्थों का सेवन करना चाहिए । 10 से 12 glass पानी प्रतिदिन पीना चाहिए और नारियल पानी का सेवन भी प्रतिदिन करना चाहिए आपको अपनी योनि की साफ सफाई पर विशेष ध्यान देना चाहिए । उसे अधिक देर तक गिला ना छोड़ें । गीला हो जाता है तो तुरंत आपको कपड़े चेंज करने चाहिए और अजवाइन का पानी उबाल कर रख ले उस्से योनि को 2 -3 बार साफ़ करे । आपको जल्द ही अराम मिल जायेगा । यदि अन्य कोई परेशानी है आपको उठने बैठने में पेशाब करते समय दिक्कत हो रही है तो आप वेस्टर्न टॉयलेट यूज़ करें.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरे बच्चे को कफ बहुत होती है क्या करे
उत्तर: छोटे बच्चों को सर्दी खांसी जुकाम और कफ से राहत के लिए कुछ घरेलू उपाय 1)अजवाइन सरसो तेल और लहसुन की दस कलियां लेकर उसे पकाए, ठंडा होने पर बच्चे की मालिश करे। 2)बच्चे का सिर सोते समय ऊपर रखे, जिससे वह आसानी से साँस ले सके। 3)सर्दी-खांसी में बच्चे को अजवाइन का काढ़ा पिलायें। 4)खांसी सर्दी के दौरान सूप और चिकन सूप दे सकती हैं। ये प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता हैं। 6)निंबु रस, दालचीनी पाउडर और शहद का मिश्रण तैयार करें। यह सर्दी और खांसी के लिए बहुत अच्छा होता है। 7)शहद और लहसुन मिलाकर पेस्ट बनाएं। दिन में एक या दो बारऊ इसे दें अगर बच्चे को आराम न हो और सर्दी जुकाम के साथ अगर बच्चे को बुखार हो तो अपने मन से कोई मेडिसीन न दें डाक्टर से कंसल्ट करें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा पेशाब करते समय बेहट रोता हि
उत्तर: बच्चे को भी यूरिन इन्फेक्शन हो सकता है उनके डायपर और नैपकिन बीच-बीच में बदलते रहिए उन्हें भरपूर मात्रा में स्तनपान कराइए जिससे उनके थोड़े बहुत इन्फेक्शन कम होंगे आप उन्हें डॉक्टर के पास लेकर जाइए जिससे डॉक्टर उनके चेक कर कर ज्यादा बेहतर सलाह देंगे।
»सभी उत्तरों को पढ़ें