3 weeks pregnant mother

प्रेग्नेन्सी में कितने महीने पे अल्ट्रासाउन्ड करवाना सही है ?

सवाल
hello dear आम तौर पर गर्भावस्था में 3 स्कैन या सोनोग्राफी होती है। यदि कोई समस्या है तो स्कैन 3 से अधिक हो सकते हैं।। पहला स्कैन गर्भावस्था, भ्रूण की दिल की दर और गर्भावस्था की आयु की पुष्टि करने के लिए 6 से 9 सप्ताह मे होता है। अगले स्कैन को बच्चे के शरीर और भागों की जांच के लिए 11 से 14 सप्ताह के बीच किया जाता है। दिल, गुर्दे, मस्तिष्क के विकास की जांच के लिए तीसरा 18 से 23 सप्ताह में किया जाता है। ये स्कैन एक स्वस्थ गर्भवती महिला के लिए हैं। अगर आपकी गर्भवस्था मे किसी तरह की दिक्कत है तो उसके अनुसार डॉक्टर आपको और जाँच बता सकती हैं।
हेलो डिअर, आप अगर प्रेग्नेंसीय में स्वस्थ है तो सोनोग्राफी 3 से 4 बार करवानी चाहिए ये आपकी कंडीशन पर भी निर्भर करती है वैसे प्रेग्नेंसीय में प्रथम तिमाही में एक बार सोनोग्राफी होती है , दूसरी तिमाही में एक सोनोग्राफी होती है , तीसरी तिमाही में एक सोनोग्राफी करानी चाहिए , ऐसा आपको हर तिमाही में अल्ट्रासाउंड करवाना चाहिये ताकि आपके बेबी की समय समय पर पोजीशन का पता चलता रहे इससे आपके होने वाले बेबी के स्थति का पता लगाया जा सकता है और अंत मे डिलीवरी के समय डॉक्टर बेबी के कंडीशन का पता करने के लिए सोनोग्राफी करते है !
हेलो डिअर, आप अगर प्रेग्नेंसीय में स्वस्थ है तो सोनोग्राफी 3 से 4 बार करवानी चाहिए ये आपकी कंडीशन पर भी निर्भर करती है वैसे प्रेग्नेंसीय में प्रथम तिमाही में एक बार सोनोग्राफी होती है , दूसरी तिमाही में एक सोनोग्राफी होती है , तीसरी तिमाही में एक सोनोग्राफी करानी चाहिए , ऐसा आपको हर तिमाही में अल्ट्रासाउंड करवाना चाहिये ताकि आपके बेबी की समय समय पर पोजीशन का पता चलता रहे इससे आपके होने वाले बेबी के स्थति का पता लगाया जा सकता है और अंत मे डिलीवरी के समय डॉक्टर बेबी के कंडीशन का पता करने के लिए सोनोग्राफी करते है !
हेलो डियर आमतौर पर बच्चे की ग्रोथ का पता लगाने के लिए डॉक्टर तीन बार अल्ट्रासाउंड टेस्ट कराते हैं। अल्ट्रासाउंड टेस्ट दूसरे महीने में बच्चे की धड़कन जानने के लिए, चौथे महीने में बच्चे का विकास देखने के लिए और आखिरी महीने में बच्चे की स्थिति देखकर डिलिवरी प्लान करने के लिए।हर किसी की प्रेगनेंसी सिम नहीं होती है किसी किसी को ज्यादा बार अल्ट्रासाउंड करवाने की भी आवश्यकता पड़ती है इसलिए आपको जब भी डॉक्टर अल्ट्रासाउंड के लिए कहे तो डियर जरूर करवाएं
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: कितने महीने में अल्ट्रासाउन्ड करवाना चाहिए
उत्तर: आप अगर प्रेग्नेंसीय में स्वस्थ है तो सोनोग्राफी 3 से 4 बार करवानी चाहिए ये आपकी कंडीशन पर भी निर्भर करती है वैसे प्रेग्नेंसीय में प्रथम तिमाही में एक बार सोनोग्राफी होती है , दूसरी तिमाही में सोनोग्राफी होती है , तीसरी तिमाही में सोनोग्राफी करानी चाहिए , तीसरी तिमाही में सोनोग्राफी करानी चाहिए और अंत मे डिलीवरी के समय डॉक्टर बेबी के कंडीशन का पता करने के लिए सोनोग्राफी करते है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: ड्यूरिंग प्रेग्नेन्सी कितने अल्ट्रासाउन्ड karwana ज़रूरी होता है मुझे कब और कोनसा अल्ट्रासाउन्ड करवाना चाहिए
उत्तर: हेलो आमतौर पर बच्चे की ग्रोथ का पता लगाने के लिए डॉक्टर तीन बार अल्ट्रासाउंड टेस्ट कराते हैं। अल्ट्रासाउंड टेस्ट दूसरे महीने में बच्चे की धड़कन जानने के लिए, चौथे महीने में बच्चे का विकास देखने के लिए और आखिरी महीने में बच्चे की स्थिति देख कर डिलिवरी plan करने के लिए . अगर बच्चे या माँ किसी को भी कोई हेल्थ इशू है तो डोक्टर की सलाह से 3 से ज़्यादा बार अल्ट्रासाउन्ड कराया जा सकता है अल्ट्रासाउन्ड ज़्यादा कराने से बच्चे पर कोई नेगटिव इफ़ेक्ट नही पड़ता है आपको अभी 31 वीक्स चल रहें है आप चाहें तो अभी अल्ट्रासाउन्ड करवा सकती है ताकि आप को क्लियर हो सकें की बच्चे की ग्रोथ वेट नॉर्मल है कि नही फ्लूइड का लेवेल कितना है बच्चे की पोजिशन कैसे है बच्चे के गलें में नाल तो नही है अगर कोई प्रॉब्लम नहो हुई तों आप चिन्ता मुक्त हो jayengi और प्रॉब्लम हाॅन पर सही समय पर डॉक्टर की सलाह से सही ट्रीट्मेण्ट किया जा सकेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: प्रेग्नेन्सी में कुल कितने अल्ट्रासाउन्ड होते है और लास्ट अल्ट्रासाउन्ड कोनसे मंथ में होता है
उत्तर: hello dear आम तौर पर गर्भावस्था में 3 स्कैन या सोनोग्राफी होती है। यदि कोई समस्या है तो स्कैन 3 से अधिक हो सकते हैं।। पहला स्कैन गर्भावस्था, भ्रूण की दिल की दर और गर्भावस्था की आयु की पुष्टि करने के लिए 6 से 9 सप्ताह मे होता है। अगले स्कैन को बच्चे के शरीर और भागों की जांच के लिए 11 से 14 सप्ताह के बीच किया जाता है। दिल, गुर्दे, मस्तिष्क के विकास की जांच के लिए तीसरा 18 से 23 सप्ताह में किया जाता है। ये स्कैन एक स्वस्थ गर्भवती महिला के लिए हैं। अगर आपकी गर्भवस्था मे किसी तरह की दिक्कत है तो उसके अनुसार डॉक्टर आपको और जाँच बता सकती हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें