19 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: प्रेगनेन्सी के दोरान स्टोमैच पेन बहुत होता ह उसका क्या रीज़न ह और कमर मेन भी

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर ,,aap 19 week ki pregnet hai.,प्रेगनेंसी में कमर,, पेट दर्द होना बहुत ही कॉमन है hormon me होने वाले परिवर्तन के प्रभाव से ही आपके बॉडी पेट, कमर में दर्द होता है | पेट दर्द को दूर करने के लिए आप बीच-बीच में थोड़ा थोड़ा कुछ खाते रहें ,हल्का गुनगुना पानी पिए ,हल्के गर्म गुनगुने पानी से नहाए इससे पेट दर्द में कमी आने लगती है | जिस तरफ पेट दर्द हो रहा है उसके उल्टे दिशा में सोए| fibre युक्त आहार, हरी सब्जियां ,साबुत अनाज, हल इत्यादि ले आप की pet पेन में कमी hogi.. Kamar ka dard दर्द को कम करने के लिए आप एक ही स्थिति में ना खड़े रहे अपनी पोजीशन को बदलते रहे ,बीच-बीच में हलचल kre,अत्यधिक शारीरिक श्रम ना करें ,भारी-भरकम सामान ना उठाएं थकने वाले काम ना करें नींबू पानी ,पानी ,शरबत ,जूस आदि ले उससे आपको राहत मिलेगी, left side Sone Ka Prayas kare ..अत्यधिक दर्द बढ़ जाने पर डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं' |
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी कमर me बहुत पेन होता है और पेट के निचे हिस्से मे भी दर्द हे . क्या करू
उत्तर: महिला के अंदर हर समय हो रहे हार्मोन में बदलाव भी दर्द का कारण बनते हैं। पेट का भार लगातार नीचे की ओर होता है। इसलिए इस समय मांसपेशियों का पर दबाव ज्‍यादा होता है तभी गर्भवती महिला को अपना पोस्‍चर हमेशा बनाएं रखना चाहिये। टहलना, सीधे बैठना, पैरा खीचना और नीचे की ओर न झुकना आपकी कमर पर बिल्‍कुल भी दबाव नहीं डालेगें। दर्द को अगर कम करना है तो रात को सोते समय पीठ के बजाय करवट लेकर ही सोएं। कमर पर कम दबाव पडें, इसके लिए अपने घुटनों के नीचे तकिया लगाकर सोएं। अपने घुटनों के बीच तकिया लगाकर सोने से भी आप कमर दर्द से बच सकते हैं। इस समय हल्‍के तथा ढीले-ढाले कपड़े पहनने चाहिये। टाइट कपड़े पहनने से शरीर में खून का दौरा कम होने लगता है और इसी कारण मांसपेशियां दर्द होने लगती हैं। इसलिए सूती के आरामदायक कपड़े ही पहनने चाहिये। इसी के साथ हाई हील चप्‍पलें या जूते भी कमर की मांसपेशियों पर असर डालते हैं, जिस कारण दर्द होता है जमीन पर ना बैठे और क्रॉस लेग करके नहीं बैठे वरना दर्द ज्यादा बढ़ सकता है पीठ के बल सोने की बजाए साइड की करवट लेकर सोना चाहिए  यह दर्द हील वाली सेंडिल पहने से भी हो सकता है इसलिए हमेशा स्लिपर ही पहने ज्यादा देर तक एक स्थिति में खड़े ना रहे  जिस तरफ दर्द हो रहा हो, उसके दूसरी तरफ होकर लेट जाएं और आराम करें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो मेम , फर्टिलिटी या ओव्यूलेशन के दोरान बैक पेन या कमर दर्द होता है ??
उत्तर: yeah. ye normal h but h hr kisi ko nhi hota.. ye pain kisi ko hota h to kisi ko nhi.. dear
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere कमर और जनघ के बोन main बहुत पेन हित है और karbat लेने मेन भि दरद होता है
उत्तर: डिअर पेट के नीचे हिस्से में दर्द होना जिसे पेड़ू में दर्द भी कहा जाता है डिअर पेड़ू का दर्द, करवट लेते समय, में ज्यादा होता है ये दर्द सीडी चढ़ते समय भी होने लगता है प्रेगनेंसी के दौरन जड़ झुकने वाला काम और ज्यादा भारी सं भी नही उठाना चाहिए क्योंकि इससे पेड़ू में दर्द होने लगता है डिअर प्रेगनांच्य में हील वाली सैंडल भी नही पहननी चाहिए इससे भी पेड़ू में दर्द होने लगता है एक ही पोजीशन में ज्यादा देर तक खड़ा रहने से भी पेड़ू में दर्द होता है तो ज्यादा देर तक खड़े न रहे जमीन पर न बैठे और क्रॉस पेर करके न बैठे क्योंकि दर्द और तेज हो जाता है हेलो डियर डियर प्रेगनेंसी में वैसे तो बहुत सी प्रॉब्लम है पर उसमें से एक प्रॉब्लम है आपके कूल्हे व कमर में दर्द दिया हमें प्रेग्नेंसी में आम ही प्रॉब्लम है क्योंकि इसमें हमारा वजन बढ़ता है हमारा बेबी का विकाशहोता करता है जिस कारण हमारे कूल्हों व कमरमें दर्द होता है डियर जब हमारा बेबी मूवमेंट ज्यादा करता है तभी हमारे कूल्हों व कमर में दर्द होता है डियर आप ज्यादा आज रेस्ट कीजिए क्योंकि ज्यादा देर तक खड़े होने से भी आपके कूल्हों व कमर में दर्द हो सकता है डियर आप हाई हील सैंडल करना पहने हाई हील सैंडल सैंडल पहनने से आपकी फूलों का कमर में दर्द हो सकता है डियर आप कूल्हों व कमर में दर्द के लिए सिकाई कर सकते हैं आप को ज्यादा से ज्यादा पानी पीजिए क्योंकि ज्यादा पानी पीने से भी दर्द हमारा कम होता है डियर दर्द के लिए आप अपने कूल्हों के नीचे तकिया लगा कर सोएंगे क्योंकि तकिया लगाकर सोने से भी हमारे दर्द में राहत मिलती है और हम को आराम मिलता है आप जब भी सोया तो करवट लेकर सोइए क्योंकि सीधे सोने से आपके गले में दर्द होगा करवट लेकर सोने और तकिया लगा यूज़ जरूर कीजिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें