10 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: पेट मे दर्द होने पर क्या करे

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर, प्रेगनेंसी में पेट दर्द बच्चे के बढ़ते वजन के कारण पेट के निचले हिस्से me दबाव पड़ता है जिससे पेट में खिंचाव के कारण पेट के आसपास के हिस्सों में दर्द होता है इसके अलावा कभी-कभी गैस ,अपच , एसिडिटी ,कब्ज आदि के कारण भी प्रेगनेंसी में पेट दर्द होता है सामान्य पेट दर्द के लिए अदरक का रस ,पुदीने का रस ले |हींग को पानी में घोलकर पेट के आसपास लगाएं |10 से 12 गिलास पानी पिए | छाछ , दही खाएं |हल्का गुनगुने पानी में नमक व नीबू का रस डालकर पीए ,खाना खाने के बाद सौंफ या जीरा खाए पेट दर्द में राहत मिलेगी |
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: कमर में दर्द होने पर क्या करे
उत्तर: आपको जब कमर may दर्द हो to आपको रेस्ट करना चाहिए . पेट का साइज बढ़ने से पेट क्या राउंड लिगामेंट और जॉइंट्स लूस हो जाते है जिस वजह से यह दबाब आपको कमर par पड़ता ahi. आप aise may खुद को एक्टिव रखिए . वाक कीजिये .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: कमर दर्द होने पर क्या करे
उत्तर: आप बहुत ज्यादा exertion वाला काम नहीं कीजिए ज्यादा देर खड़े रहकर और झुक कर काम करना अवॉइड कीजिए। आप कपड़ों से भरी बाल्टी भी उठाना अवॉइड कीजिए। सीढ़ी चढ़ना उतरना अवार्ड कीजिए। आप बैठकर कुछ भी काम कर सकती जैसे आप बैठकर सब्जी काट कर सकती हैं। आप बैठकर कुछ कपड़े फोल्ड करने का काम कर सकती है। अब बच्चों को पढ़ा सकती है इस टाइप की बैठ के काम करने वाले आराम से आप कर सकती है। लेकिन जो बॉडी को exertion देता है जैसे कि झुक कर और ज्यादा देर खड़े रहकर इससे आपको पैर और कमर में दर्द की प्रॉब्लम हो सकती इसलिए यह सब काम करना अवॉइड कीजिए। दोनो पैरो के बीच में तकिया लेकर सोये। इससे बहुत आराम मिलेंगा। आप सरसो के तेल से हलकी हलकी मालिश भी कर सकती है। कमर के दर्द पीठ और पैरो के दर्द के लिए सरसो का तेल बहुत फायदेमंद रहता है। शुरू के कुछ मंथ बेबी जस्ट गर्भाशय में रुका रहता है उसे गर्भाशय के दिवार में अच्छे से जुङने के लिए कुछ जरुरी हॉर्मोन्स हमारी बॉडी में बनते है।। एक बार हमारी बॉडी अच्छे से प्रेगनेंसी के हॉर्मोन निकलना शुरू करदे तब आप हलके फुल्के काम कर सकती है। कभी कभी पेट में हल्का दर्द हो सकता है. हल्की spoting भी हो सकती हैं। जयादा एक्सेरशन ना करे। भारी सामान ना उठे। जयादा सीधी न चढ़े उतरे । आप चाय कॉफी का सेवन कम कीजिए और सॉफ्ट ड्रिंक अल्कोहल से दूर रहिए बॉडी को हिट करने वाले खाद्य पदार्थ थोड़ा अवॉइड कीजिए नहीं लीजिए जैसे पपीता अनानास तिल तिल के लड्डू गुड़ आप आम बैगन भी कम लीजिए. हप्पी रहे और पौष्टिक अहार ले। आप अपने खाने-पीने में खास ध्यान रखिए और संतुलित आहार लीजिए खाने में प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट ज्यादा लीजिए आप हल्का फैट वाला खाना भी खा सकती हैं जो आसानी से पचने वाला हो। आप अपने खाने में हरी पत्तेदार सब्जियां दाल चावल रोटी ग्रीन वेजिटेबल्स दूध अंडा यह सब ऐड कीजिए दिन में कम से कम दो से तीन फल खाने की कोशिश कीजिए फलों का जूस और तरल पदार्थ लेते रहिए यह सब पौष्टिक आहार आपके बेबी को ग्रोथ करने में बहुत मदद करेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो पेट मे गैस होने पर क्या करे ?
उत्तर: कई बार किसी प्रकार के भोजन के कारण भी गैस हो सकता है इसलिए आप नोटिस करते रहिए कि, आपको कौन से भोजन के कारण ज्यादा गैस एसिडिटी की समस्या होती है। और फिर आप उसे अवॉइड कर सकते हैं जैसे गोभी कुछ प्रकार की दालें कुछ प्रकार के फल जिससे आपको गैस होता है उन्हें अवॉइड कीजिए। पानी भरपूर मात्रा में पीजिए अगर आपको कब्ज की शिकायत है तो भी आपको गैस की समस्या हो सकती है इसके इसके लिए भरपूर मात्रा में पानी पीजिए और तरल पदार्थ लेते रहिए। गैस एसिडिटी की समस्या से निदान पाने के लिए बहुत ज्यादा मात्रा में एक बार ही भोजन नहीं कीजिए। खाना अच्छे से चबा-चबाकर खाइए और ऑयली तली हुई डीप फ्राई भोजन अवॉइड कीजिए। पीने के लिए हल्का गर्म पानी इस्तेमाल कीजिए इससे भी आपका खाना जल्दी pachega और गैस एसिडिटी की समस्या कम होगी। अगर आपको गैस एसिडिटी की समस्या बहुत ज्यादा है कि आपके पेट में बहुत ज्यादा दर्द हो जाता है तो आप जरूर एक बार डॉक्टर से मिलना और उनसे जरूर सलाह लीजिए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें