2 महीने का बच्चा

Question: पिछाले 2 दिनोसे मेरी बेटी तटी (संडास) नाही की, काय ऊस वाजहसे उसे कोई तकलीफ होशक्तीचे। यादी हा तो काय कारण चाहीये हमे?

2 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर आप परेशान ना हो क्योकि अक्सर देखा गया है की माँ का दूध पीने वाले बेबी 1 week मे 1 बार या 1 दिन मे 8 से 10 बार potty करें तों ये नॉर्मल है इस मे परेशान होने वाली कोई बात नही है पर बेबी का susu करना ज़रूरी है | आप कुछ घरेलू उपाय कर सकती है ~1) गुनगुने सरसों के तेल से बेबी के पेट पर उगंलियों की सहायता से मालिश करें दबाव ना डालें |2) गुनगुने पानी मे हींग मिक्स कर के बेबी की नाभि के चारों ओर clock wise लगायें | 3) बेबी के पैरों को साइकिल की तरह चलाये |
Answer: Ye normal hai kabhi kabhi baccha 6 se 7 din tak nahi karata
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी बेबी 5 महिनो की हो गयी हें, तो अब हमे उसे क्या खिलाना चाहीये, और अब मेरी बेबी का वजन कितना होणा चाहीये
उत्तर: हेलो डियर""" जन्म से लेकर 6 माह तक बेबी को किसी भी प्रकार के भोज्य पदार्थ या पानी, जूस आदि की आवश्यकता नहीं होती ,ना ही चीजों को बेबी को देना चाहिए| 6 माह तक की बेबी के लिए मां का दूध ही संपूर्ण आहार है मां के दूध में पोषक तत्व विद्यमान होते हैं जो की बेबी के शारीरिक व मानसिक विकास के लिए पूर्ण होते हैं मां का दूध सर्व आहार व बेबी के लिए प्रतिरोधक क्षमता बनाने का भी काम करती है|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी 11 मही की हा उसे सर्दी हुऐ तो काय kare
उत्तर: हेलो डिय छोटे बच्चों को अक्सर खांसी जुखाम सर्दी की प्रॉब्लम हो जाती है मैं आपको बेबी की खांसी सर्दी के कुछ घरेलू उपाय बताती हूं जिसकी मदद से बेबी की सर्दी खांसी में राहत मिलेगी 5 या 10 लहसुन को सरसों के तेल का तड़का अजवाइन का बीज के सन्त तड़का दें ऑर ठण्डा करकें रख लें फ़िर बेबी के सर छाती गले में मलीस करें भाप दें बेबी को अजवाइन को थोड़ा शा भून कर उसे पोटली बना कर रखें फ़िर उसको बेबी के नाक के पास सुनघऐ सर्दी या परेसानी ज्यदा होने की स्थिति में डॉक्टर से बेबी को सुलाने के टाइम पतला सा तकिया सर पर रख कर सुनाएं इससे बेबी का सर पर उठा रहेगा तो उसको सांस लेने में प्रॉब्लम नहीं होगी और बेबी अच्छे से सो पाएगी
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी 7 महीने की है उसे कया खीलाना चाहीये
उत्तर: छोटे बच्चों के लिए आहार -----धीरे धीरे उसे दूध के साथ साथ भूख के समय में उसे थोड़ा थोड़ा ठोस आहार दें दाल चावल दही चपाती जो भी व्यंजन जो रोज घर पर बनते हैं।बारीक पीस कर दाल या दुध में मीलाकर चम्मच की सहायता से दें और अगर फिर भी न खाये तो आप उसे चपाती के जगह गेंहू का दलीया भी दे सकतीं हैं।अभी। बच्चा बहुत छोटा है तो उसको हर चीज उसके टेस्ट को देखकर ही खिलायें दलीया को आप मीठा और नमकीन दोनोही बना सकते हैं।आप उसे घर पर बने सभी व्यंजन मैश करके दीजिये।
»सभी उत्तरों को पढ़ें