28 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: पानी की कमी कैसे दूर करें इस्से क्या परेशानी हो सकती है

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर प्रेगनेंसी में कभी-कभी शरीर में पानी की कमी हो जाती है।इसके लिए आपको ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पीना चाहिए और तरल पदार्थों का सेवन करना चाहिए जैसे कि फलो के जूस, लस्सी, मट्ठा।नारियल पानी पी सकती है। ध्यान रखें कि आप दिन भर में कम से कम 8 से 10 गिलास पानी पिए जिससे शरीर में हुई पानी की कमी को पूरा किया जा सके
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: पानी की कमी को दूर कैसे करें
उत्तर: जितना हो सके आराम करे।कम से कम 8 से 10 गिलास पानी रोजाना के पिए।ऐसे फलो और सब्जियों का सेवन करे जिनमे पानी की मात्र ज्यादा हो जैसे खीरा, टमाटर , तरबूज , पतागोबी, फूलगोभी, मुली, पालक, अंगूर, सेब  इत्यादि।जब आप आराम करे तो बाई तरफ करवट लेकर सोये क्योकि ऐसा करने पर रक्त का सर्कुलेशन बच्चेदानी की तरफ बढ़ जाता है जिससे peat me paani बढ़ता है ।नारियल पानी का सेवन अधिक से अधिक करे ।कम से कम दिन में दो गिलास दूध पिए ।लम्बे समय तक बैठकर घर की साफ सफाई झाड़ू पोचा न करे ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: पानी की कमी कैसे दूर करें
उत्तर: कम से कम दिन भर में 6 से 7 लीटर पानी पीजिए अच्छी डाइट लीजिए और रेस्ट कीजिए बेड रेस्ट कीजिए आप बिल्कुल भी काम मत कीजिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: कैल्शियम प्रोटीन की कमी कैसे दूर करें
उत्तर: हेलो डियर कैल्शियम और प्रोटीन की कमी दूर करने के लिए आपको हरी सब्जियां खानी चाहिए दूध पीना चाहिए बादाम भिगोकर खाने चाहिए सभी फल खाने चाहिए खजूर खाने चाहिए चुकंदर खाने चाहिए अनार खाने चाहिए इससे कैल्शियम और प्रोटीन की कमी नहीं होगी अपना ख्याल रखना
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: खुन की कमी कैसे दूर करें ?
उत्तर: Hello dear.. एक महिला का हीमोग्लोबिन 12 से 16 के बीच होना चाहिए| प्रेगनेंसी के दौरान 11.5 से 15 तक हीमोग्लोबिन .प्रेग्नेंसी के समय शिशु की देखभाल करने के लिए शरीर ka अपने आप आकार बढ़ता है और रेड ब्लड सेल्स की वृद्धि नहीं होती जिससे कि हीमोग्लोबिन लेवल कम हो जाता है| आयरन लेने से हमारे शरीर में हेमोग्लोबिन अच्छा बनता है. हिमोगलोबिन की मात्रा ब्लड में अच्छी होने से सभी कोशिकाओं में ओक्ससीगन अच्छी तरह पहुचती है. आप आपने खाने में कुछ आहार और ले जिससे आपका हीमोग्लोबिन अच्छा होजाएग। पालक- पालक की सब्जी एनीमिया में दवा की तरह काम करती है। इसमें कैल्शियम, विटामिन ए, बी9, विटामिन ई और विटामिन सी, फाइबर और बीटा केरोटीन पाया जाता है।हरी सब्जियों में पालक डालें। साथ ही, सलाद के रूप में भी इसका सेवन किया जा सकता है। पालक को उबालकर उसका सूप भी बनाया जा सकता है। इसका सूप पीने से बहुत जल्दी खून बढ़ता है। चुकंदर- चुकंदर को एनीमिया में एक रामबाण दवा माना जाता है। यह लौह तत्व से भरपूर होता है। चुकंदर ब्लड सेल्स को एक्टिव कर देता है। चुकंदर को शिमला मिर्च, गाजर, टमाटर में मिलाकर सब्जी बनाई जा सकती है।इसके अलावा चुकंदर को सलाद के रूप में या जूस बनाकर लिया जा सकता है। मूंगफली एक अच्छा सोर्स है। इसीलिए पीनट बटर को अपनी डेली डाइट में शामिल करने की कोशिश करें। रोज पचास ग्राम मूंगफली खाने से भी एनीमिया दूर होता है।  टमाटर- टमाटर में भरपूर मात्रा में विटामिन सी और लाइकोपिन पाया जाता है। इसमें मौजूद विटामिन सी आयरन को अब्जॉर्ब करने में मदद करता है। साथ ही, इसमें बीटा केरोटीन और विटामिन ई पाया जाता है।  सोयाबीन आयरन और विटामिन से भरपूर होता है। इसे खाने से शरीर को लो फैट के साथ ही भरपूर मात्रा में आयरन मिलता है। इसीलिए यह एनीमिया के पेशेन्ट्स के लिए बहुत लाभदायक होता है। गुड़- एक चम्मच गुड़ में 3.2 मि.ग्रा. आयरन होता है। इसीलिए एनीमिया से ग्रस्त लोगों को रोज 100 ग्राम गुड़ जरूर खाना चाहिए।खाने के बाद थोड़ा-सा गुड़ खाने से भी एनीमिया दूर होता है। पिस्ता जिससे शरीर को पर्याप्त मात्रा में आयरन मिलता है। अखरोट- रोज थोड़ा अखरोट खाना भी एनीमिया के रोगियों के लिए बहुत लाभदायक होता है। सेब और खजूर- सेब और खजूर, दोनों में ही पर्याप्त मात्रा में आयरन पाया जाता है।सेब के अंदर मौजूद विटामिन सी आयरन को अब्जॉर्ब करने में मदद करता है।रोज एक सेब और दस खजूर खाने से एनीमिया दूर हो जाता है।  शरीर में आयरन की कमी को पूरा काबुली चना, राजमा, सोयाबीन, मेथी और सरसों का साग, बादाम, सूखे मेवे, मसूर की दाल, पालक, अंगूर, अमरूद, संतरे आदि खाद्य पदार्थ कर देते हैं। लेकिन इसके बावजूद शरीर में आयरन की कमी पूरी न हो तो डॉक्टर की सलाह से आयरन की गोलियां ले सकते हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें