20 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: पहले प्रेगनेंसी में मुझे बी.पी. की वजह से डिलेवरी 7 मंथ में हो गायी अभी दूसरे मे बी.पी. का प्रॉब्लम से बचने के लिये क्या करे

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो आपको पहले बी.पी. में बी.पी. प्रॉब्लम थी . आपको हाइ बी.पी. प्रॉब्लम थी या लो बी.पी. प्रॉब्लम थी आपके सवाल से क्लियर नही है . आप फिर से प्रेगनेट है इस समय पर आप खान पान पर विशेष धयान दे .बीपी समय-समय पर चेक करवाते रहना चाहिए और डॉक्टर की सलाह से दवाइयां लेनी चाहिए |नमक का इस्तेमाल कम करना चाहिए दिन भर में कोशिश कीजिए कि 10 से 12 गिलास पानी जरूर भी है पिए साथ ही खाने में अखरोट पालक बींस पत्तेदार सब्जियां खाएं इससे भी आपका बीपी कंट्रोल में रहेगा ,सब्जियों का जूस और फलों का जूस अपने डायट में जरूर शामिल करें साथ ही हर दिन वॉक करें वॉक करते समय गहरी सांस लें और गहरी सांस छोड़ें , अपने सोच पॉजिटिव रखें पॉजिटिव सोचने से बहुत सी बीमारियों से बचा जा सकता है|
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: क्या पहले बच्चे की में प्रॉब्लम होने की वजह से दूसरे बच्चे में भी प्रॉब्लम आ सकती है
उत्तर: हेलो डियर ऐसा जरूरी नहीं होता कि पहले बच्चे में किसी तरह की प्रॉब्लम होती है तो दूसरे बच्चे के डिलीवरी के समय में भी वही प्रॉब्लम हो यदि आप की पहली प्रेग्नेंसी में किसी तरह का कॉम्प्लिकेशन हुआ था तो अब आप की प्रेगनेंसी में ऐसा नहीं होगा आप पहले से ही नियमित अपने डॉक्टर के सलाह में रहे हर प्रेगनेंसी के हर हफ्ते में डॉक्टर से मिले ताकि आपके होने वाले बेबी के बारे में सभी चीजों की जानकारी आपको मिल सके और आपकी प्रेगनेंसी में किसी तरह की प्रॉब्लम ना आए
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: प्रेगनेंसी से बचने के लिए क्या करे
उत्तर: गर्भ से बचने की कई उपाय हैं जैसे की क्रॉपर्टी ,कंडोम,इंजेक्सन,पिल्स और भी कयी। पर ये सब अस्थायी हैंआप बिद में फिर से प्रेगनेंट हो सकती हैं। लेकिन अगर आप परमानेंट उपाय चाहतीं हैं। तो आपको आपरेशन करवाना होगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मे बेटी 7 मंथ की हो गायी है ,मुझे लगता था की इसका वजन सही है पर ये अभी 7 किलो की है अपने साथ के अन्य बच्चो से छोटी भी है लम्बाई मे । प्लीज मुझे बताऐ इसे क्या खिलाऊ।?🙏
उत्तर: हेलो डियर अगर आपकी बेबी अच्छे से खा पी रही है , और हर चीजों में एक्टिव है to आपकी बेबी का वेट ठीक है , सभी बेबी की लम्बाई और वेट अलग अलग होता है ऐसा ये किसी किसी के माता पिता के वेट औट हाइट पर भी निर्भर होता है , आप अपने बेबी को दिन में 3 बार भोजन दे सकते हैं जो अच्छी तरह से पकाया गया हो, सुबह के समय , रावा इडली, ओट्स रागी डोसा, सूजी खीर, केले मैश किया हुआ। पेनकेक्स, सेब प्यूरी (कोई भी एक) खिला सकती है फिर थोड़े अंतराल पे मिल्क पिलाये दोपहर को अगर बेबी को जुखाम हो हुआ हो तो केला खिला सकती हैं 1 बजे Khichdi, आलू और गाजर Khichdi, दही चावल, रागी दलिया, veggie का suji upma , फिर थोड़े अंतराल पे मिल्क दे 5 बजे कोई भी मुलायम फल, दही, उबला हुआ मीठा आलू, सेब puree 7 बजे उत्तपम, सूजी खीर, चावल के साथ मूंग दाल, कच्चे केले की दलिया, जौ अनाज, गेहूं अनाज खिला सकती है और दिन भर में बीच बीच मे मिल्क भी पिलाये ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: प्रेगनेंसी में कब्ज़ की प्रॉब्लम हो रही है क्या करे
उत्तर: प्रेगनेंसी में कब्ज की समस्या हो जाना बेहद सामान्य है. हर रोज कुछ देर टहलने से कब्ज की समस्या दूर हो जाती है.फाइबर युक्त भोजन करें। फल लें ।गर्भावस्था में आम खाने से भी राहत मीलती है क्योकी ईसमे फाइबर अधिक मात्रा मे होती है।जो कब्ज की रोकथाम में मदद कर सकता है।रिफाइंड भोजन जैसे कि इंस्टेंट नूडल्स का सेवन कम कर दें। मैदा का इस्तेमाल आमतौर पर सफेद ब्रैड, पूरी, कुलचा, नान, केक और बिस्किट बनाने में होता है। आप मैदा की बजाय इनके अनाज या आटे का चयन करें। खूब सारा पानी पीएं, कम से कम आठ से 12 गिलास। ज्यादा से ज्यादा लिक्विड जैसे पानी नारियल पानी दूध छाछ लेना चाहिए। सुबह गुनगुने पानी में नींबू रस डालकर लेने से कब्ज से राहत होती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
Healofy Proud Daughter