12 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: दूध में केसर कोन से महीने से पीना चाहिए

1 Answers
सवाल
Answer: केसर आप दूध के साथ ले सकती है तिसरा मंथ खतम हाॅन के बाद . 4 मंथ के शुरुवात से डिलिवरी तक आप केसर मिल्क ले सकती है . केसर की पंखुड़ियों को दूध में डालकर सेवन करने से बच्चा fair होता है,साथ में तंदुरूस्त होता है. ध्यान रहे कि केसर की एक या दो पंक्तियों का सेवन करना चाहिए, अधिक मात्रा में केसर की पंखुड़ियों का सेवन नहीं करना चाहिए
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: केसर कौन से महीने में पीना चाहिए
उत्तर: हेलो डियर ,कई महिलाओं के मन में यह सवाल भी बार-बार आता है कि आखिर किस महीने से केसर खाना शुरू किया जा सकता है? क्या इसे शुरुआती समय से ही खा सकते हैं या इसे किसी विशेष महीने से लेना शुरू करना चाहिए? यहां हम बता दें कि गर्भावस्था में केसर लेने की जल्दबाज़ी आप बिल्कुल न करें। अगर शुरुआत में ही केसर खाना शुरू कर दिया तो गर्भाशय में संकुचन शुरू होने की आशंका रहती है, जिससे गर्भपात का खतरा हो सकता है। आयुर्वेद के स्वास्थ विशेषज्ञों के मुताबिक, गर्भावस्था की दूसरी तिमाही से केसर का इस्तेमाल किया जा सकता है। आप गर्भावस्था के पांचवें महीने से केसर का सेवन शुरू कर सकती हैं लेकिन खुद से केसर का सेवन न करें पहले डॉक्टर से इस बारे में सलाह लेना जरूरी वैसे  गर्भवस्था में केसर खाने के फ़ायदे बस इसे सही मात्र में खाना चाहिए जैसे दिनमे 20-30 एमजी केसर का इस्तेमाल किया जा सकता है| गर्भावस्था के दौरान कई तरह के हार्मोनल बदलाव होते हैं जिस कारण गर्भवती को कई तरह के मूड स्विंग होते हैं। कभी गुस्सा आना, चिड़चिड़ाहट होना, बिना किसी बात के रोने जैसा महसूस होना सामान्य है। ऐसे में केसर का सेवन करने से आराम मिलता है जिससे व्यक्ति को अच्छा महसूस होता है। ख्याल रखें डियर .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: दूध के साथ केसर कौन से महीने से पीना चाहिए
उत्तर: हेलो प्रेग्नेंसी के पांचवे हफ्ते से केसर दूध लिया जा सकता है। केसर में मौजूद थियामिन अौर रिबोफलेविन बच्चे के लिए अच्छा होता है कैसर दूध पीने से मां की आंखों की रोशनी भी अच्छी होती है यह पाचन तंत्र को स्वस्थ बनाती है और साथ ही भूख बढ़ाने में भी सहायक होती है। गर्भवती महिलाओं में चिड़चिड़ापन नहीं आने देती। केसर के फायदे, गर्भावस्था के दौरान महिलाओं में रक्तचाप कम या ज्यादा हो जाने की समस्या आती है लेकिन केसर के प्रयोग से उनका रक्तचाप सामान्य बना रहता है। बच्चे का रंग गोरा होता है केसर दूध पीने से डाइजेशन भी अच्छा होता है ब्लड प्रेशर कंट्रोल होता है और नॉर्मल डिलीवरी के भी चांसेस बढ़ जाते हैं। लेकिन ध्यान रहे ज्यादा मात्रा में केसर लेना नुकसानदायक भी हो सकता है। 1 किलो दूध में चार-पांच रे से केसर के डालें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेम केसर दूध कब से पीना चाहिए ओर कोन से टाइम पीना चाहिए
उत्तर: हेलो प्रेग्नेंसी के पांचवे हफ्ते से केसर दूध लिया जा सकता है। केसर में मौजूद थियामिन अौर रिबोफलेविन बच्चे के लिए अच्छा होता है कैसा दूध पीने से मां की आंखों की रोशनी भी अच्छी होती है बच्चे का रंग गोरा होता है केसर दूध पीने से डाइजेशन भी अच्छा होता है ब्लड प्रेशर कंट्रोल होता है और नॉर्मल डिलीवरी के भी चांसेस बढ़ जाते हैं। लेकिन ध्यान रहे ज्यादा मात्रा में केसर लेना नुकसानदायक भी हो सकता है। 1 किलो दूध में चार-पांच रे से केसर के डालें
»सभी उत्तरों को पढ़ें