13 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: डॉक्टर ये डबल मार्कर टेस्ट क्या होता है मेरा 5 साल का बेटा है और वो पूरी तरह से स्वस्थ है अभी माई 3 मंथ प्रेग्नेन्ट हूँ क्या ये टेस्ट करवाना ज़रूरी है मेरी उमर 28 साल की है

1 Answers
सवाल
Answer: y test baby k physical or mental disabilty k pta lgane k liye kiya jata h.genatic karno s bache m y problm ho jati h.krwana lena shi h.samay rhte pta lgya jata h bacha bilkul shi h y nhi
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: ये डबल मार्कर टेस्ट करवाना ज़रूरी होता है
उत्तर: Double Marker टेस्ट प्रसव पूर्व किया जाने वाला स्क्रीनिंग टेस्ट है जो गर्भावस्था के पहले तिमाही में किया जाता है। यह आपके भ्रूण में होने वाले क्रोमोसोमल विषमता की संभावना का आकलन करने के लिए किया जाता है। यह इस बात का भी पता लगाने में मदद करता है कि आपके होने वाले बच्चे को डाउन सिंड्रोम या trisomy18 जैसी कोई बीमारी तो नही है जो मूल रूप से क्रोमोसोमल विकारों से होती हैं। यह विकार बच्चे में गंभीर मानसिक दोषों को जन्म दे सकता है और कभी कभी मृत प्रसव भी हो सकता है। यह टेस्ट करवाना आपके ऊपर निर्भर करता है यदि डॉक्टर से पूछने के बाद डॉक्टर बोलते हैं जरूरी है तो आपको करवाना चाहिए ज्यादा बेहतर होगा कि आप एक बार डॉक्टर से पूछ ले
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: ये डबल मार्कर टेस्ट क्या होता है
उत्तर: hello dear 35 वर्ष से ऊपर की गर्भवती महिलाओं के लिए डबल मार्कर परीक्षण का सुझाव दिया जाता है, जो डाउन सिंड्रोम वाले बच्चे को देने का उच्च जोखिम लेते हैं। हालांकि, छोटी उम्र की महिलाओं के लिए भी इसकी सिफारिश की जाती है। यह परीक्षण भ्रूण की पूर्व-जन्म स्थितियों के पता लगाने में मदद करता है और आमतौर पर 14 सप्ताह तक गर्भावस्था के 8 सप्ताह के बाद किया जाता है। यह परीक्षण गर्भधारण के बाद होने वाली किसी भी प्रकार की गुणसूत्र असामान्यताओं का पता लगाता है। डॉक्टर इस अल्ट्रा-ध्वनि परीक्षण के परिणामों के आधार पर पहले अल्ट्रा ध्वनि परीक्षण की सिफारिश कर सकते हैं, जो इस डबल मार्केट टेस्ट के लिए सुझाव दे सकता है। यह परीक्षण आमतौर पर डॉक्टरों द्वारा 35 साल से ऊपर गर्भवती महिलाओं, जन्म दोषों का पारिवारिक इतिहास, जन्म दोषों से पैदा हुए पिछले बच्चे, इंसुलिन-निर्भर (प्रकार 1) मधुमेह का इतिहास है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें