11 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: डॉक्टर  मैं 8 हफ्ते की गर्भवती हूँ, मुझे कुछ भी खाते ही उल्टी हो जाती है,  मन खराब रहता है, मैं डॉकसीनेट की टेबलेट 3 बार लेती हूँ और फॉलिक एसिड दिन में एक बार,  मुझे क्या करना चाहिए?  क्या मैं हींग का सेवन कर सकती हूँ? 

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर आप अपने डॉक्टर से कंसल्ट करें बिना उनकी सलाह के कोई भी टेबलेट ना लें उल्टी आना था कभी-कभी प्रेगनेंसी में ऐसा होता है किसी से किसी को ज्यादा होता है उल्टी का प्रॉब्लम तो प्लीज आप अपनी डॉक्टर से कंसल्ट करें
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मैं कुछ भी खाते उल्टी लगती है जी घबराता रहता है क्या करना चाहिए जी मिचलाना रहता है सारे दिन
उत्तर: डॉक्सीनेट नाम की टेबलेट आती है वह रोज रात को खा कर सो जाएं आपको उल्टी नहीं आएगी ना ही मन कब रहेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मैं 21 हफ्ते की गर्भवती हूं मेरा शुगर दोसा आया है मुझे क्या करना चाहिए
उत्तर: हेलो डियर आप टेंशन नहीं ले आप अपनी डाइट में मीठा लेना बिलकुल अवॉइड करें अच्छे से वॉक करें और खूब पानी पीएं नियमित रूप से डबल टोन्ड दूध का ही इस्तेमाल करना चाहिए. इसके साथ ही ये भी ध्यान रखें कि आपके खाद्य पदार्थों में कैलोरी की मात्रा कम से कम हो. इसके लिए आप छिलका युक्त भुना हुआ चना, परमल, गेहूं या मूंग आदि कोई अंकुरित अनाज, सूप और सलाद इत्यादि का भरपूर इस्तेमाल करें. बताते चलें कि दही या छाछ के इस्तेमाल से ग्लूकोज की मात्रा में कमी आती है.रोटी के आटे को बिना चोकर निकाले यूज़ में लाएं हर चाहें तो इसकी गुणवत्ता बढ़ाने के लिए इसमें सोयाबीन मिला लें.घी और तेल का दिनभर में कम से कम इस्तेमाल करें.सभी सब्जियों को कम से कम तेल का प्रयोग करके नॉनस्टिक कुकवेयर में पकाएं. हरी पत्तेदार सब्जियां ज्यादा से ज्यादा खाएं.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मैं 4 वीक की गर्भवती हूँ मुझे क्या करना चाहें
उत्तर: महिला जब गर्भवस्‍था के प्रारंभिक लक्षणों से गुजरने के बाद चौथे सप्‍ताह में पहुंचती है तो उसे शुरूआती दिनों के मुकाबले ज्‍यादा देखभाल की जरूरत होती है। चौथा सप्‍ताह पूरा होने पर महिला को गर्भधारण किए हुए करीब एक महीना हो जाता है। यह समय भ्रूण के विकास के लिए बहुत ही महत्‍वपूर्ण होता है। इस समय भ्रूण अंडाकार आकृति में दिखाई देता है।चिकित्‍सकों के मुताबिक गर्भवती महिला को हॉट डोग्स जैसे मीट के व्यंजन के सेवन से दूर रहना चाहिए। इस समय महिला को ठंडे व्यंजनों को खाने से भी बचना चाहिए। गर्भवती महिला को बिना उबला हुआ दूध या कच्चा दूध और उससे बना कोई भी पदार्थ जैसे मिठाई, मक्खन, चीज और दही आदि नहीं खाना चाहिए। इनका सेवन भ्रूण के साथ ही महिला के लिए भी नुकसानदायक हो सकता है। गर्भवती महिला को अपने आस-पास की साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए। साथ ही बिना धोएं कोई भी फल व सब्‍जी आदि का सेवन नहीं करना चाहिए। कोई भी कच्चे खाद्य पदार्थ या स्प्राउट्स गर्भावस्था के दौरान नहीं खाने चाहिए। गर्भवती महिला को मादक पदार्थों जैसे शराब, सिगरेट और ड्रग्स आदि का सेवन नहीं करना चाहिए। ये बच्चे के लिए हानिकारक होते हैं। संभव हो तो डॉक्टर से खाने-पीने, रहन-सहन इत्यादि दवाइयों के बारे में पूरी जानकारी पहले से लेनी चाहिए। समय -समय पर डॉक्टर के संपर्क में रहने से गर्भवती महिला किसी भी खतरे को आने से पहले टाल सकती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें