15 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: डॉक्टर मेरी एक बेटी है 2 साल की और मेन 3 महीने की प्रेग्नेन्ट हु मुझ्र कभी कभी टाँकें की जगे दर्द होता एच इश्क क्या करन हो सकता h

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: माम मेन 2 बेबी करण चाहती हु मेरी बेटी 2 साल 3 महीने की हो गयी है मेन प्रेग्नेन्ट नही हो पा राही मुझे लास्ट डेट 8 फब को आई क्या करु
उत्तर: हेलो डियर जैसा कि आप ने बताया कि आप की लास्ट पीरियड डेट 8 फरवरी है तो मैं आपको बता दूं कि आप अपने लास्ट पीरियड डेट के 14 दिन बाद शुरू होने वाले ovalution days को मार्क कीजिए और उन दिनों में संबंध बनाइए । अगर आप अपने ओवुलेशन डेज में संबंध बनाती है तो आप की प्रेगनेंसी के चांसेस बढ़ जाते हैं अगर फिर भी आप प्रेग्नेंट नहीं हो पाती हैं तो एक बार अपने डॉक्टर से कंसल्ट करके अपना पूरा चेकअप करवाएं जिससे आपके प्रेग्नेंट ना होने के कारणों का पता लगाया जा सके ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: 3 मंथ प्रेग्नेन्ट हु .. पेट मेन नीचे की तरफ़ पेन का कारन क्या हो सकता hai
उत्तर: गर्भ में शिशु के होने की वजह से आपकी मांसपेशियों, जोड़ों और नसों पर काफी दबाव पड़ता है। इससे आपको पेट के आसपास के क्षेत्र में काफी असहजता महसूस हो सकती है।   मजबूत, मांसपेशियां जो आपकी हड्डियों को जोड़ते हैं, उनमें पूरी गर्भावस्था के दौरान बढ़ते गर्भ को सहारा देने के लिए खिंचाव होता है। इसलिए जब आप हिलती-डुलती हैं, तो आपको शरीर में एक या दोनों तरफ हल्का दर्द महसूस हो सकता है।थोड़ी देर के लिए बैठ जाएं।जिस तरफ दर्द हो रहा हो, उसके दूसरी तरफ होकर लेट जाएं और आराम करें।हल्के गर्म पानी से नहाएं।जहां दर्द हो रहा हो उस क्षेत्र में गर्म पानी की बोतल या गेहूं की छोटी पोटली से सिकाई करें। अगर आप गर्म पानी की बोतल का इस्तेमाल करें, तो इसमें गर्म पानी भरें (खौलता हुआ पानी नहीं) और ध्यानपूर्वक इसे तौलिये या किसी मुलायम कपड़े में लपेट लें। वहीं दूसरी तरह, गेहूं की पोटली एक कपड़े की पोटली होती है जिसमें गेहूं की भूसी भरी होती है। इस पोटली को माइक्रोवेव में कुछ मिनटों तक गर्म करना होता है। यह पोटली आपके शरीर के आकार के अनुसार ढल जाती है और एक घंटे या इससे ज्यादा के लिए गर्म रहती है।आराम करें। कई बार, sexकरने और पर भी मरोड़ या हल्का सा कमर दर्द हो सकता है। जिससे मरोड़ जैसा महसूस हो सकता है।आप कैसा महसूस कर रही हैं,डॉक्टर को बताएं। वह यह अंदाजा लगा पाएंगी कि आपकी असहजता की वजह गर्भावस्था के दर्द और पीड़ा ही हैं या फिर कुछ और।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी एक साल 8 महीने की बेटी हे और अभी फिर से 8 महीने कि प्रेगनेट हु तो क्या कुछ प्रॉब्लम हो सकता हें
उत्तर: ऐसी स्थिति में आपको अपना विशेष ध्यान रखना होगा .गर्भावस्था में चाय-कॉफी के बजाय दूध, फल और सब्जियां खूब लें। तला भुना खाने से बचें। Protein युक्त भोजन लें। और इस दौरान वजन कम करने की सोचें भी नहीं। गर्भ धारण के बाद भोजन 200-300 केलोरीज ही ज्यादा लेना अच्छा रहता है बहुत ठूंस – ठूंस कर नहीं खाना चाहिए। अगर आपका आहार संतुलित होगा , तो ही आपकी व बच्चे की सेहत सुरक्षित रहेगी इसीलिए आपके भोजन में Folic Acid, Calcium, Iron, Zinc, Protein, Phosphorus, Vitamin D और ओमेगा 3 Omega Fatty Acids का होना जरुरी होता है | इन तत्वों को लेने से खून में Hemoglobin बढ़ता है। और मिस कैरिज का डर नहीं रहता है। इन सब विटामिन के कुदरती स्रोत के रूप में हरी पत्तेदार सब्जियां, मटर, फूलगोभी, शिमला मिर्च, बादाम, काजू, मूंगफली, तरबूज, केला व संतरा खाएं। इनके अलावा पालक, चुकंदर, broccoli ,शलगम कद्दू राजमा दाले , दही, फैट फ्री मीट , अंडे का सफ़ेद भाग , दूध-मट्ठा, पनीर, सोयाबीन, बीन्स, और साबुत अनाज लें। अगर आप नॉन वेज भोजन खाती है तो आपको अपने Pregnancy Diet Chart में मांस, अंडा, मछली शामिल करना चाहिए क्योंकि ये सब प्रोटीन, आयरन और जिंक का अच्छा स्रोत है |
»सभी उत्तरों को पढ़ें