28 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: डियर डॉक्टर मीयर लिवर एम स्टोन एच और स्वेलिंग भि एच .. टु क्या करु और कैसे rhu

2 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर अपना खाना भूनकर, सेंक कर, उबाल कर तैयार करें। खाना जो गॉल्स्टोन में हानि नहीं पहुंचाते हैं वो हैं: चुकंदर, खीरा, सेम, भिन्डी, मीठे आलू, अवोकेडो, विनेगर, लहसन, पके हुए टमाटर, छोटा प्याज, ठन्डे पानी की मछली, नींबू, अंगूर, सेब, बेर, पपीता, नाशपाती और ओमेगा ३ तेल। गॉल्स्टोन में ब्रेड, अन्न, पास्ता, चावल और आलू भी फायदेमंद साबित होते हैं। यह ज़रूरी है कि इन चीज़ों को बिना तेल और फैट के तैयार किया जाए। गॉल्स्टोन से परेशान कई लोग कॉफ़ी, चाय, दूध और फ्रूट जूस को अपनी रोज़मर्रा की जिंदगी से निकाल देते हैं। और अगर पेय पदार्थ को देखें तो गुनगुने पानी में नींबू का रस डाल कर पीना सेहत के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। इन चीज़ों से परहेज रखें जैसे: अंडे, पोर्क, प्याज, मुर्गा, दूध और दुसरे दूध के पदार्थ, कॉफ़ी, मौसमी, नारंगी, बीन्स, बादाम, कॉर्न, मीट, शराब, चर्बी से भरा हुआ खाना और वनस्पति तेल। तला हुआ खाने से दूर रहने की कोशिश करें। कुछ और ऐसा खाना है जिससे बचने की कोशिश करनी चाहिए, वो हैं: काली चाय, चोकलेट, आइस क्रीम, फल का रस, नकली या कृत्रिम मक्खन, कोल्ड ड्रिंक्स, शलगम, बंधगोभी, जई, गेहूं, जौ और मैदा। इतना ही नहीं, धूम्रपान नहीं करनी चाहिए और तनाव में नहीं खाना चाहिए। बाकी डिअर आपकी डॉक्टरजैसा कहा वैसा ही करें
Answer: हेलो डियर अपना खाना भूनकर, सेंक कर, उबाल कर तैयार करें। खाना जो गॉल्स्टोन में हानि नहीं पहुंचाते हैं वो हैं: चुकंदर, खीरा, सेम, भिन्डी, मीठे आलू, अवोकेडो, विनेगर, लहसन, पके हुए टमाटर, छोटा प्याज, ठन्डे पानी की मछली, नींबू, अंगूर, सेब, बेर, पपीता, नाशपाती और ओमेगा ३ तेल। गॉल्स्टोन में ब्रेड, अन्न, पास्ता, चावल और आलू भी फायदेमंद साबित होते हैं। यह ज़रूरी है कि इन चीज़ों को बिना तेल और फैट के तैयार किया जाए। गॉल्स्टोन से परेशान कई लोग कॉफ़ी, चाय, दूध और फ्रूट जूस को अपनी रोज़मर्रा की जिंदगी से निकाल देते हैं। और अगर पेय पदार्थ को देखें तो गुनगुने पानी में नींबू का रस डाल कर पीना सेहत के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मे शादी को 2 ईअर हाॅन वाले एच ऑर मेन डॉक्टर को दिखाया एच मेरा ऑर मीयर हस्बेण्ड का भि टेस्ट करवाया रिपोर्ट नॉर्मल एच टु आब एम क्या करु मेरी ऐज
उत्तर: हेलो डियर अगर आपका और आपके हस्बैंड का रिपोर्ट नॉर्मल है तो ऐसे में आप बेबी कंसीव कर सकती हैं लेकिन आपको इसके लिए कुछ समय लग सकता है कभी-कभी सब चीज नॉर्मल होने के बाद भी बेबी कंसीव करने में समय लग जाता है ऐसे में किसी किसी को ovuletion टाइम पर भी एक बार में कंसीव नहीं हो पाता है ऐसे में आपको धैर्य बनाए रखना है बिल्कुल भी पॉजिटिव में रहें , ऐसे में तनाव और टेंशन लेने से भी बेबी कंसीव करने में प्रॉब्लम हो सकती है इसलिए खुश रहने की कोशिश करें !
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हमें स्टोन वी ह एम क्या करु
उत्तर: Hello dear.. यूरिन में यूरिक एसिड, फॉसफोरस, कैल्शियम और oxyzing एसिड की मात्रा ज्यादा हो जाती है. जो मिलकर गोल चपटी चिकनी खुजली मटर के दानों जैसी Akaar ले लेती हैं. साथ ही और भी कई वजह होती है जिनसे की पथरी हो जाती है. Khane me aap प्रोटीन की मात्रा कम ले और फाइबर ज्यादा ले. पथरी में हरी सब्जियों में सहिजन, करेला, पथरी में हरी सब्जियों में सहिजन, करेला, ताजी मटर की फलियां, शलगम, पुराना कद्दू , अदरक, ककड़ी, खीरा, चुकंदर,धनिया हल्दी, हरी मिर्च, हींग, अजवाइन, दालचीनी, छोटी इलायची, पत्ते वाली गोभी आदि को खाना चाहिए. पथरी में फलों में आम, खरबूजा, तरबूज, अंगूर, पपीता, खीरा, नारियल, नाशपाती, अनन्नास, सेब, ककड़ी, गाजर khaye . पथरी में आलू, इलायची तथा गन्ना चूसना भी फायदेमंद है।पथरी में गेहूं के आटे से चोकर निकाल कर बनी चपाती खाएं।पथरी के रोगी के आहार में जौ से बनी चीजें जैसे-चपाती, धानी, सत्तू को शामिल करें. गर्म पानी थोड़ी-थोड़ी मात्रा में दिन में कई बार piye.  गाजर में विटामिन बी-6 और विटामिन सी होते हैं, जो किडनी के लिए achaa hota हैं। गाजर रक्त को भी साफ करती है। इसमें विटामिन ए होने से यह किडनी को बैक्टीरियिल इन्फेक्शन से भी बचाती है। तरबूज शरीर में जाकर पेशाब के निर्माण को बढ़ा देता है। इसी के साथ इसमें पोटेशियम भी होता है, जो किडनी स्टोन को घुलने में मदद करता है। इसलिए पथरी में तरबूज भी खाना चाहिए . हर्बल टी किडनी में बनने वाले यूरिक एसिड की मात्रा को कम करती है, जिससे पथरी बनने का खतरा कम होता है।  अनानास khaye.क्योंकि इसमें सबसे अलग एंजाइम होता है, जिसे ब्रोमेलिन कहते हैं। ब्रोमेलिन प्रोटीन को तोड़ने में मदद करता है। जितना ज्यादा पानी पीएंगे, उतना ही फायदा होगा। खूब पानी पीएं। 10 से 12 गिलास पानी पथरी की समस्या में जरूर पीना चाहिए। रात को सोने से पहले भी पानी जरूरी पीएं। इससे काफी लाभ होता है। take care
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मैरे हीप्स एम बहुत दरद होता एच एम की करु डॉक्टर को भि ब्त्या
उत्तर: हिप्स me दरद हो सकता है ... प्रेगनेंसी के मंथ में हमारे कमर पर जोर पड़ता है जिससे कमर दर्द, पीठ दर्द, पैर दर्द, पसलियों मे दर्द की शिकायत होती है। दोनो पैरो के बीच में तकिया लेकर सोये। इससे बहुत आराम मिलेंगा। आप सरसो के तेल से हलकी हलकी मालिश भी कर सकती है। कमर के दर्द पीठ और पैरो के दर्द के लिए सरसो का तेल बहुत फायदेमंद रहता है। आप थोड़ा जयाद अराम किया कीजिए. जयाद देर खड़े होकर और जयाद झुक कर काम करना अवोइड कीजिए .. खाने पीने मे पोष्टिक अहर लीजिए अगर दर्द कमज़ोरी से हुआ तो वह खाने पीने में धयान देन से ही ठीक हो जायेगा. अगर आपको ज्यादा दर्द है तो आपको डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें